aadhar card se kitne sim chalu hai | आधार कार्ड पर कितने सिम है कैसे पता करे

4.3
(347)

मेरे नाम से अभी कितने सिम चल रहे हैं?

aadhar card se kitne sim chalu hai; सिम कार्ड आज हम सभी के पास होता है। लेकिन बहुत से लोग ऐसे होते हैं। जिनके पास अनेकों सिम कार्ड मौजूद होते हैं। उन्‍हें पता तक नहीं होता है कि फिलहाल उनके नाम से कितने सिम कार्ड चल रहे हैं। ऐसे में संभावना रहती है कि उनके नाम पर कोई दूसरा आदमी सिम लेकर चला रहा हो और उन्हें पता तक ना हो। इसलिए यदि आप भी अभी तक नहीं जानते हैं कि आपके नाम पर फिलहाल कितने सिम चल रहे हैं, तो आपको अब परेशान होने की बिल्‍कुल जरूरत नहीं है। आप अब ये काम महज चुटकी में अपने घर बैठे कर सकते हैं।

अपने इस लेख में हम आपको बताएंगे कि आधार कार्ड पर कितने सिम है कैसे पता करे। तो चलिए शुरू करते हैं aadhar card se kitne sim chalu hai

सिम क्‍या होता है?

यदि अभी तक आप नहीं जानते हैं कि सिम क्‍या होता है। तो सबसे पहले हम आपको सिम के बारे में जानकारी दे दें। इसके बाद आपको बताते हैं कि aadhar card se kitne sim chalu hai इस बारे में कैसे पता करें। दरअसल सिम एक कार्ड की तरह होता है। जिसके अंदर सिम नुमा एक चिप लगी होती है। यदि आप उसे अपने फोन में डालते हैं तो वह अपने नेटवर्क से कनेक्‍ट हो जाती है। जिसके बाद आप उस सिम पर लागू सभी सेवाओं का प्रयोग कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: स्विच ऑफ मोबाइल को कैसे ढूंढे

आधार कार्ड पर कितने सिम है कैसे पता करे

आधार कार्ड पर कितने सिम है कैसे पता करें?

आइए अब हम आपको वो तरीका बताते हैं जिसकी मदद से आप जान सकते हैं किे aadhar card se kitne sim chalu hai इसके लिए नीचे हम आपको कुछ स्‍टेप बताने जा रहे हैं। आप इन्हें अपनाकर ये जानकारी घर बैठे प्राप्‍त कर सकते हैं।

  • aadhar card se kitne sim chalu hai इसके लिए सबसे पहले आप अपने फोन या लैपटॉप से टेलिकॉम विभाग की तरफ से जारी की गई वेबसाइट पर जाइए। यहां सबसे पहले आपको लॉगिन (Log in) करने को कहा जाएगा।
  • इसके लिए यहां आपको अपना मोबाइल नंबर भरने को कहा जाएगा। आप यहां बॉक्‍स में अपना वो मोबाइल नंबर भर दीजिए जिसके बारे में आप जानना चाहते हैं। आप यहां जो नंबर देंगे वो जिस आधार कार्ड से लिंक होगा उससे जुड़ी सारी जानकारी आपको दे दी जाएगी।
  • आवश्यकता नुसार आपसे CPTCHA डालने को भी कहा जा सकता है।
  • इसके बाद उस नंबर पर एक छह अक्षरों का ओटीपी (OTP) भेजा जाएगा। आप उसे भरकर आप वहां सब्मिट कर दीजिए और आगे बढ़ जाइए।
  • इसके बाद जैसे ही आप अगले पेज पर जाएंगे, आपके सामने लिखा आ जाएगा कि फिलहाल आापके नाम से कितने सिम कार्ड चल रहे हैं, कितने बंद कर दिए गए हैं। साथ ही यदि आप किसी नंबर को चाहे तो यहीं से ब्लॉक करने की अपील भी डाल सकते हैं। जिसके बाद वो नंबर बंद कर दिया जाएगा।
  • यदि आप किसी नंबर की शिकायत करते हैं तो आपको एक ट्रेकिंग नंबर (Tracking Number) दिया जाएगा। जिससे आप जान सकेंगे कि उस नंबर को जारी करने के खिलाफ क्‍या कार्रवाई की गई।
  • aadhar card se kitne sim chalu hai इसे देखते समय ध्‍यान ये रखें कि यहां कई बार आपके आधार नंबर से कितने नंबर चल रहे हैं, उनकी पूरी जानकारी नहीं भी आती है। इसलिए कभी भी यहां दिखाई जा रही जानकारी पर आंख बंद करके भरोसा ना करें।

मोबाइल नंबर लेते समय कुछ जरूरी सावधानी

आगे हम आपको कुछ ऐसी सावधानी बताने जा रहे हैं। जो कि हर ग्राहक को नया मोबाइल नंबर लेते समय बरतनी चाहिए। जिससे कभी भी उसके पहचान पत्र (ID Card) का दुरूपयोग नहीं हो सकेगा। आइए उनपर एक नजर डाल लेते हैं।

  • यदि आप चाहते हैं कि आपके आधार कार्ड या राशन कार्ड का दुरूपयोग ना हो तो आप बार बार ना तो नया नंबर लीजिए ना ही अपना नंबर बार बार बदलिए। जिससे आपको ये देखना ही नहीं पड़ेगा कि मेरे aadhar card se kitne sim chalu hai
  • जब भी आप नया नंबर लीजिए हमेशा किसी बड़ी दुकान या केयर (Mobile Care) से ही लीजिए। यहां से आपका डाटा कभी लीक नहीं किया जाता है।
  • यदि आप किसी नंबर का प्रयोग नहीं करना चाहते हैं तो उसे अपने घर परिवार में कभी दूसरे सदस्‍य को ना दें। हमेशा उस सिम‍ को तोड़कर फैंक दें। या उसे केयर में जाकर बंद करवा दें।
  • आप कभी भी नए और लोक लुभावन ऑफर के लालच में ना आएं ये केवल दो तीन महीनों के लिए ही दिए जाते हैं। इसलिए इनसे हमेशा दूर ही रहें और अपना पुराना नंबर ही चलाते रहें।
  • जब भी कभी आपका सिम खो जाए तो आप उसे ये सोचकर ना छोड़ दें कि अब आप दूसरा नंबर ले लेंगे। सबसे पहले आप अपने खोए हुए नंबर को बंद करवा दीजिए। जिससे उसके दुरूपयोग होने की संभावना खत्‍म हो जाती है।
  • यदि आपको लगता है कि आपके नाम पर नंबर लेकर कोई दुरूपयोग कर रहा है, तो आप निसंकोच होकर तुरंत उसकी पुलिस में रिपोर्ट लिखवा दीजिए। इससे आप भविष्‍य में उस नंबर से होने वाले किसी अपराध से बच सकते हैं।
  • हर जगह आप अपना नंबर और आधार कार्ड से जुड़ी जानकारी साझा ना करें। इससे आपकी जानकारी का दुरूपयोग तो होता ही है। साथ ही कई बार आपके पास अनावश्‍यक फोन कॉल भी आने लगते हैं।

इसे भी पढ़ें: ऐसे जानिए आधार कार्ड से मोबाइल नंबर लिंक है या नहीं.

Conclusion

आशा है कि आप हमारे इस लेख aadhar card se kitne sim chalu hai को पढ़कर जान चुके होंगे कि आधार कार्ड पर कितने सिम है कैसे पता करें। साथ ही आप उन्‍हें बंद करने का तरीका भी समझ चुके होंगे। यदि आपको हमारा ये लेख aadhar card se kitne sim chalu hai पसंद आया तो इसे अपने दोस्‍तों के साथ भी अवश्‍य शेयर करें। साथ ही इससे जुड़ा आपका कोई सवाल या सुझाव है तो आप नीचे कमेंट करें।

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

स्टार पर क्लिक करके हमें बताये!

औसत रेटिंग 4.3 / 5. कुल वोट 347

उम्र में युवा और तजुर्बे में वरिष्ठ रोहित यादव हरियाणा के रहने वाले हैं। पत्रकारिता में डिग्री रखने के साथ इन्होंने अपनी सेवाएं कई मीडिया संस्थानों को दी हैं। फिलहाल ये पिछले लंबे समय से अपनी सेवाएं 'All in Hindi' को दे रहे हैं।

Leave a Comment