अच्छी इंग्लिश लिखने का तरीका क्या है?

4.7
(362)

अच्छी इंग्लिश लिखने का सही तरीका

Achchhi English likhne ka tarika: अंग्रेजी भाषा का ज्ञान हम सभी को होना चाहिए। लेकिन किसी भी भाषा को केवल बोलने भर से हम नहीं कह सकते हैं कि हमको उस भाषा का सही ज्ञान है। इसके लिए जरूरी है कि आपको उस भाषा को बोलने के साथ अच्‍छे से लिखने का भी ज्ञान हो। ऐसे में यदि आपको भी अभी तक अंग्रेजी भाषा लिखने का सही ज्ञान नहीं है, तो हमारे इस लेख को अंत तक पढि़ए।

अपने इस लेख में हम आपको जानकारी देंगे कि इंग्लिश लिखने का तरीका क्‍या है। साथ ही अच्‍छी अंग्रेजी लिखते समय हमें कौन कौन सी बातें ध्‍यान रखनी चाहिए। जिससे हम अच्‍छी अंग्रेजी लिख सकते हैं।

English क्‍या होती है?

इंग्लिश लिखने का तरीका हम आपको बताएं इससे पहले आइए एक बार हम आपको जानकारी दें कि अंग्रेजी भाषा किसे कहते हैं। तो हम आपको बता दें‍ कि आज के समय में अंग्रेजी केवल एक भाषा मात्र नहीं है। बाल्कि यह एक वैश्‍विक (Global) भाषा है। कहने का मतलब ये है आज के समय में पूरी दुनिया में यदि कोई भाषा सबसे ज्‍यादा बोली जाती है, तो उसका नाम है अंग्रेजी ही है।

यही वजह है कि हम सभी को अंग्रेजी भाषा आनी तो चाहिए ही। साथ ही हम सभी को इसे लिखना भी आना चाहिए। ताकि जब भी कभी हमें जरूरत पड़े तो हम झट से पेन (Pen) निकालें और किसी को भी कोई भी बात अंग्रेजी में लिखकर दे दें। आइए आगे हम आपको इंग्लिश लिखने का तरीका कौन सा होता है। इस बारे में बताते हैं।

इंग्लिश लिखने का तरीका

इंग्लिश लिखने का तरीका

Achchhi english likhne ka tarika कौन सा है। आगे हम आपको इस बात की जानकारी देने जा रहे हैं। इसके लिए आपको हम कई बिंदु बताने जा रहे हैं। आप हर बिंदु को सबसे पहले अच्‍छे से समझें। इसके बाद आप उनके ऊपर लगातार काम करें। जिसके बाद आपको Achchhi english likhne ka tarika समझ आ जाएगा।

इसे भी पढ़ें: इंग्लिश बोलने का आसान तरीका

बच्‍चों के लिए इंग्लिश लिखने का तरीका

यदि आप अभी छोटे बच्‍चे हो तो आपका काम केवल इतना है कि आप अपनी किताबें पढ़ते जाएं और आपको जो भी स्‍कूल से काम मिला है उसे अच्‍छे से पूरा करते रहें। समय के साथ आपको अच्‍छी अंग्रेजी लिखने का तरीका खुद ही आ जाएगा। लेकिन यदि आप फिर भी चाहते हैं कि आप बड़े हो गए हैं पर आपकी लिखावट या अंग्रेजी लिखने का तरीका सही से नहीं है तो आगे हम आपको इंग्लिश लिखने का तरीका Basic से लेकर Advance लेवल तक का बताएंगे। आप अपनी सुविधानुसार उसे अपना सकते हैं।

खूब किताबें पढ़ें

अच्‍छी अंग्रेजी लिखने का सबसे पहला तरीका ये है कि आप खूब सारी किताबें पढ़ें। इसका सीधे लिखने से कोई लेना देना तो नहीं है। लेकिन यदि आप खूब पढ़ते हैं तो यकीन्न आपका भाषा ज्ञान अच्‍छा होगा। जिसके बाद आपके पास खूब सारे शब्दकोश में शब्द होंगे। जिसका फायदा ये होगा कि आप अपने मन की बात उसी तरह के शब्दों में आसानी से लिख सकेंगे। क्‍योंकि भाषा में शब्‍दों का सबसे अहम योगदान होता है।

यदि हम पढ़ने की बात करें तो आप इसके अंदर रोजाना समाचारपत्र या किताबें या मैगजीन आदि भी पढ़ सकते हैं। जिनकी भाषा अंग्रेजी हो। यदि आप स्‍कूल या कॉलेज के छात्र हैं तो अपनी किताबें भी बार बार पढ़ सकते हैं। साथ ही आप जो भी पढ़ें उसे रोजाना पढ़ें। क्‍योंकि यदि आप किसी काम को नियम से नहीं करेंगे तो आप उस काम को कभी भी अंत तक करने में सफल नहीं होंगे।

कठिन शब्‍द लिखें

जब आप हर रोज खूब सारी अंग्रेजी पढ़ेंगे तो लाजमी सी बात है कि आपके सामने रोजाना ऐसे बहुत से शब्द आएंगे। जो कि कठिन होंगे। जिन्‍हें आपने पहली बार देखा होगा। इसलिए जरूरी है कि आप उन शब्‍दों को लिखने की कोशिश करें। इसके लिए आप एक कापी (Copy) बना लें। जिसमें तारीख के हिसाब से लिखते चलें। ध्‍यान इस बात का रखें कि आप कठिन शब्‍दों की कोई किताब खरीदकर ना लाएं। क्‍योंकि  कठिन और आसान हर इंसान के ऊपर निर्भर करता है। ना कि किताब के ऊपर।

जब आप उस कापी में एक सप्‍ताह के शब्द लिख लें। तो आपको उन शब्दों को याद भी करते चलना होगा। खास तौर पर उनकी स्‍पेलिंग (Spelling) को। क्‍योंकि अंग्रेजी भाषा में हम सबसे ज्‍यादा स्‍पेलिंग की गलती करते हैं। जिसके डर से हम कभी भी अच्‍छी अंग्रेजी नहीं‍ लिख पाते हैं।

रोजाना कुछ‍ लिखें

अच्‍छी अंग्रेजी लिखने का तरीका समझने के लिए आपको जरूरी है कि आप रोजाना कुछ ना कुछ लिखें। इसे आप इस तरह से अपना सकते हैं कि आप एक अलग से कापी बना लें। इसके अंदर आप रोज एक या दो पेज कुछ ना लिखें। क्‍योंकि बिना अभ्‍यास के कभी भी इंग्लिश लिखने का तरीका नहीं हासिल किया जा सकता है।

इसका एक तरीका तो ये है कि आप किसी किताब में से देखकर लिखें। जबकि दूसरा तरीका ये है कि आप अपने दिमाग से खुद ही कुछ भी गलत या सही लिखते रहें। यहां आपको इस बात से मतलब कतई नहीं होना चाहिए कि आप क्‍या लिख रहे हैं। बस आपको लिखने से मतलब होना चाहिए। इसका फायदा ये होगा कि आप अंग्रेजी के शब्‍द के साथ उनकी स्‍पेलिंग भी समझ जाएंगे।

सोशल मीडिया पर अंग्रेजी में बात करें

फोन और उसके अंदर फेसबुक (Facebook) और व्‍ट्सऐप (Whats app) तो हम सभी के पास होगा। लेकिन हम लोग उसके अंदर अंग्रेजी भाषा को भी हिन्‍दी में ही लिखकर भेजते हैं। लेकिन यदि आप अच्‍छी अंग्रेजी लिखना चाहते हैं तो कोशिश करें कि आप हमेशा अपने दोस्‍तों को अंग्रेजी में अपने संदेश भेजें।

इससे फायदा ये होगा कि आप जब सोशल मीडिया पर अंग्रेजी लिखेंगे तो आपको उन शब्‍दों का अच्‍छा ज्ञान हो जाएगा जिसे हम लोग बार बार प्रयोग करते हैं। जिससे आप उन्‍हें जब कापी के अंदर भी लिखेंगे तो पाएंगे कि आपको सोशल म‍ीडिया से काफी मदद मिली है।

अंग्रेजी को जीवन का हिस्‍सा बनाएं

अंग्रेजी लिखने का तरीका समझने के लिए जरूरी है कि आप अंग्रेजी को अपने जीवन का हिस्‍सा बना लें। इसके लिए आपको एक नियम बनाना होगा कि आप दिन में जो भी काम करेंगे, खास तौर पर लिखने का तो आप उसे अंग्रेजी में करेंगे। क्‍योंकि कोई भी भाषा को जब आप लिखना सीखना चाहते हैं, तो उसके लिए जरूरी है कि आप उसे अपने जीवन का हिस्‍सा बना लें।

इसलिए अंग्रेजी सीखने के लिए आप केवल दिन का केवल एक घंटा ना निकालें। बाल्कि आपको चाहिए कि आप दिन में जब भी आपको कोई ऐसा काम मिले। जहां अंग्रेजी में लिखना हो उसे अपने पास ले लें। बस इसी तरह से कुछ महीनों में आप देखेंगे कि आपकी अंग्रेजी लिखने की क्षमता काफी अच्‍छी हो गई है। जो कि पहले एकदम भी नहीं थी।

परीक्षा का पैटर्न अपनाएं

जब आपको लगता है कि आप अब सही लिखने लगे हैं तो आपको चाहिए कि आप यदि स्‍कूल या कॉलेज की परीक्षा देने जाते हैं। तो कोशिश करें कि आप परीक्षा के साइज (Size) की कुछ शीट खरीद लाइए। इसके बाद आप उन्हीं शीट के ऊपर परीक्षा में दिए जाने वाले समय के अनुसार ही लिखें।

क्‍योंकि यदि किसी भी परीक्षा में आपकी लिखावट (Writing) और स्‍पेलिंग (Spelling) सही रहती है। तो आपको हमेशा दूसरों से ज्‍यादा अंक मिलते हैं। जबकि हम लोग ज्‍यादातर समय परीक्षा में समय की कमी को देखते हुए दबाव में आ जाते हैं। जिसके बाद राइटिंग के साथ स्‍पेलिंग भी गलत लिखते चले जाते हैं। जिसका ख‍ामियाजा हमें रिजल्‍ट के समय उठाना पड़ता है।

गलतियों को अनेदखा ना करें

अच्‍छी अंग्रेजी लिखने के लिए जरूरी है कि आप अपनी गलतियों को बिल्‍कुल भी अनदेखा ना करें। इसके लिए आप अपनी गलतियों को अलग से हाइलाइट (Highlight) कर लें। जिससे आपको याद रहेगा कि आप इन चीजों में हर बार गलती करते हो।

इसके बाद जब भी आपकी गलती आपके सामने दोबारा दिखाई दे तो उसे कोशिश करें कि बार बार दोहराएं। ताकि आगे से आपकी वो गलती ना हो। क्‍योंकि ज्‍यादातर समय हम सभी चीजों को एक समान लेकर ही चलते रहते हैं। जिससे ना तो हमें अपनी गलतियों का पता चलता है। ना ही हम उन्‍हें कभी सुधार पाते हैं। अंत में हम ये दोष दे देते हैं कि हमें तो इंग्लिश लिखने का तरीका सही से किसी ने समझाया ही नहीं।

लिखावट कैसे सुधारें

  • यदि आपकी लिखावट एकदम खराब है और आपको किसी के मार्गदर्शन की जरूरत है तो आप कोई ऐसा संस्‍थान ज्‍वाइन कर सकते हैं। जहां अंग्रेजी लिखना और हैंड राइटिंग ( Hand Writing) में सुधार करना सिखाया जाता हो।
  • यदि आपकी लिखावट खराब है तो आप चार लाइनों वाली कापी खरीद लें। जो कि छोटे बच्‍चे प्रयोग करते हैं। इसमें आप बिना शर्म महसूस किए लिख सकते हैं।
  • आप अपनी लिखावट के अंदर उन शब्दों की पहचान करें जो कि आप सबसे खराब राइटिंग में लिखते हैं। इसके बाद कोशिश करें कि आप उन्‍हीं शब्दों को बार बार लिखें। जिससे उन्‍हें आपको सही लिखने की आदत हो जाए।
  • लिखावट में सुधार तभी आएगा जब आप खूब सारा लिखेंगे। इसलिए कभी भी पेन और कॉपी उठाने में संकोच ना करें। बस जब भी मौका मिल जाए तो आप‍ लिखने बैठ जाएं।
  • लिखावट सुधार करने के मामले में आप कभी भी जल्‍दबाजी में ना लिखें। भले ही आपको लिखने में समय लग जाए पर कोशिश करें कि आपकी राइटिंग बिल्‍कुल सही सही हो।
  • यदि आप बेड (Bed) पर बैठकर या लेटकर लिखेंगे तो इससे आपकी लिखावट में सुधार नहीं आएग। इसके लिए या तो आप जमीन पर चटाई बिछाकर लिखें। या आप कुर्सी और मेज खरीद लें। उसके ऊपर कापी रखकर लिखें।
  • लिखावट सुधारने के लिए यदि आप पैरों पर कापी रखकर लिखते हैं, तो आप उसके नीचे गत्‍ता (Clip Board) अवश्‍य लगा लें। जिससे लिखते समय आपकी कापी बार बार मुड़े नहीं।

इसे भी पढ़ें: इंग्लिश पढ़ने का तरीका

Conclusion

आशा है कि अब आप समझ गए होंगे कि इंग्लिश लिखने का तरीका कौन सा है। इसे जानने के बाद आप अच्‍छी अंग्रेजी तो लिख ही सकते हैं। साथ ही अपनी लिखावट में भी सुधार ला सकते हैं। क्‍योंकि यदि आप सही अंग्रेजी भी खराब लिखावट में लिखेंगे तो भी सामने वाले को समझ में नहीं आएगी। इसलिए भाषा में लिखावट को कभी अनदेखा ना करें।

यदि आपको हमारा ये लेख पसंद आया है तो इसे आप अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें। साथ ही इस लेख से जुड़ा आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट करें।

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

स्टार पर क्लिक करके हमें बताये!

औसत रेटिंग 4.7 / 5. कुल वोट 362

उम्र में युवा और तजुर्बे में वरिष्ठ रोहित यादव हरियाणा के रहने वाले हैं। पत्रकारिता में डिग्री रखने के साथ इन्होंने अपनी सेवाएं कई मीडिया संस्थानों को दी हैं। फिलहाल ये पिछले लंबे समय से अपनी सेवाएं 'All in Hindi' को दे रहे हैं।

Leave a Comment