कंटेंट राइटर (content writer) कैसे बने? | अच्छा कंटेंट कैसे लिखें?

4.6
(355364)

कंटेंट राइटर बनने का आसान तरीका

Content writer kaise bane: कंटेंट राइटर हाल के दिनों में तेजी से उभरता हुआ पेशा निकलकर सामने आया है। जो लोग लिखने और पढ़ने के शौकीन होते हैं। उनके लिए कंटेंट राइटर बनना बेहद आसान काम होता है। ऐसे में यदि आप भी एक कंटेंट राइटर बनना चाहते हैं और इससे पैसा कमाना चाहते हैं तो हमारे इस लेख को अंत तक पढि़ए।

अपने इस लेख में हम आपको जानकारी देंगे कि आप एक अच्‍छे कंटेंट राइटर कैसे बन सकते हैं। साथ ही आपको जानकारी देंगे कि कंटेंट राइटिंग क्‍या होता है। इस काम को कैसे किया जाता है। साथ ही आप एक कंटेंट राइटर बनकर कैसे पैसा कमा सकते हैं। तो चलिए जानते हैं कि कंटेंट राइटर (content writer) कैसे बने।

कंटेंट राइटर क्‍या होता है?

कंटेंट राइटर (content writer) कैसे बने इसके बारे में हम आपको जानकारी दें। इससे पहले आइए हम आपको बताते हैं कि कंटेंट राइटर क्‍या होता है। दरअसल, कंटेंट राइटर किसी भी तरह की बात को लिखने वाला होता है। जो कि अपनी बात को बेहतर तरीके से लिखकर बता सकता है। जिससे लोग पढ़कर अपनी जानकारी बढ़ा सकते हैं। आमतौर पर हम लोग कंटेंट राइटर को लेखक के नाम से भी जानते हैं।

कंटेंट राइटर कैसे बने

कंटेंट राइटर के प्रकार

आइए आगे हम आपको जानकारी देते हैं कि कंटेंट राइटर के प्रकार कौन कौन से होते हैं। जो कि अलग अलग तरह का कंटेंट लिखने का काम करते हैं। जिसकेआधार पर जान सकते हैं आप किस श्रेणी के कंटेंट राइटर आसानी सेे बन सकते हैं।

डिजिटल कंटेंट राइटर

यह एक तरह का ऐसा कंटेंट राइटर होता है। जो कि डिजिटल मीडिया के लिए लिखने का काम करता है। डिजिटल मीडिया में कोई वेबसाइट, You Tube Channel, सोशल मीडिया या किसी अन्‍य तरह की इंटरनेट सामग्री को लिखने का काम करता है। उसके पास लिखने का वो तरीका होता है। जिससे वो इंटरनेट पर लोगों को लिखकर जानकारी प्रदान करता है। जिसे लोग बड़े ही आनंद के साथ पढ़ना पसंद करते हैं। कहा जाता है कि डिजिटल मीडिया में अपनी बात लिखकर किसी इंसान को पढ़वाना सबसे बड़ी चुनौती होती है।

प्रिंट कंटेंट राइटर

दूसरे तरह का कंटेंट राइटर प्रिंट के लिए लिखने का काम करता है। इसके पास वो तरीका होता है। जिससे लोग उसकी लिखी किसी भी बात को पढ़ने के‍ लिए बाजार से किताब खरीदकर लाते हैं और समय निकालकर पढ़ते हैं। एक प्रिंट कंटेंट राइटर किसी समाचारपत्र के लिए भी लिख सकता है। इसके अलावा वो किसी पुस्‍तक या मैगजीन के लिए भी लिख सकता है। प्रिंट एक परंपरागत लेखन शैली में आता है। जो कि कई सदी से चला रहा है।

भाषा का चुनाव कैसे करें?

किसी भी तरह का कंटेंट राइटर बनने के लिए सबसे अहम होता है कि आप भाषा का चुनाव कैस करें। भाषा के चुनाव के लिए सबसे पहले आपको समझना होता है कि आप सही मायने में कौनसी भाषा के लिए लिख सकते हैं। इसके लिए आप चाहें तो अपनी मातृ भाषा का चुनाव कर सकते हैं। क्‍योंकि मातृ भाषा से हम सभी का लगाव होता है। इसके अलावा आप चाहें तो कोई दूसरी भाषा भी अपना सकते हैं।

लेकिन भाषा का चुनाव करते समय इस बात का जरूर ध्‍यान रखें कि आप जिस भी भाषा का चुनाव कर रहे हों उसके शब्‍दकोश की आपके दिमाग में भरमार हो। एक तरह से आपको उस भाषा के साथ खेलना आता हो। यहां आप चाहें तो एक की बजाय दो भाषा पर भी अपनी मजबूत पकड़ बना सकते हैं। जैसे कि हिंदी और अंग्रेजी। बस ध्‍यान इस बात का रखें कि वो भाषा कभी ना चुनें जिसमें आपको सबसे ज्‍यादा पैसा मिलने की संभावना हो। बाल्कि आप उस भाषा को चनें जिसमें आपके दिल से आवाज आती हो।

इसे भी पढ़ें: मोबाइल पर ब्लॉग कैसे बनाये?

कंटेंट राइटर कैसे बने?

आइए आगे हम आपको वो तरीका बताते हैं जिससे आप एक कंटेंट राइटर बन सकते हैं। हम आपको शुरूआत से और बेहद आसान तरीके से बताने जा रहे हैं। जिससे आप आगे चलकर एक अच्‍छे कंटेंट राइटर बन सकते हैं।

खूब किताबें पढ़ें

लिखने से पहले हर कंटेंट राइटर के लिए जरूरी होता है कि वो खूब पढ़े। बिना पढ़े यदि आप एक लेखक बनने का ख्‍वाब देख रहे हैं तो ये आपके लिए केवल कल्‍पना से ज्‍यादा कुछ नहीं है। पढ़ने के लिए आप कोई किताब, इंटरनेट, मैगजीन आद‍ि की मदद से ले सकते हैं। कोशिश करें कि कोई ऐसी चीजें पढ़े। जिससे उसकी जानकारी तो बढ़े ही साथ ही एक अच्‍छा कंटेंट लिखने की समझ भी वि‍कसित हो।

इसके अलावा आप कोशिश करें कि जिस तरह के माध्‍यम के लिए आप आगे चलकर कंटेंट लिखना चाहते हैं उसी माध्‍यम से ज्‍यादातर चीजें पढ़ें। इससे आपको पता चलेगा कि आप जिस माध्‍यम के लिए लिखना चाहते हैं। उसके लिए किस तरह की लेखन शैली का प्रयोग किया जाता है।

लिखने का अभ्‍यास करें

जब आपको लगे कि आपकी समझ अब इतनी हो गई है कि अब आप किसी भी तरह का कंटेंट लिख सकते हैं। तो आप अपने घर पर खाली समय के अंदर किसी पेज पर या लैपटॉप पर किसी भी विषय पर लिख सकते हैं। कुछ भी लिखने के लिए आप अपने मन में सबसे पहले उस विषय की एक रूपरेखा तैयार कर लें। इसके बाद अपने दिमाग में तैयारी की गई रूपरेखा को ही शब्‍दों के माध्‍यम से लिखने की कोशिश करें। यदि आपको लगता है कि आपने जो सोचा था आपके शब्‍द बिल्‍कुल हुबहू बयान कर रहे हैं। तो समझ जाइए आप एकदम सही दिशा में जा रहे हैं।

अपनी लिखा कंटेंट किसी से पढ़ाइए

आपका कंटेंट कितना अच्‍छा है इसकी जानकारी वही दे सकते हैं जो कि आपके कंटेंट पढ़ेंगे। इसके लिए आप यदि किसी कंटेंट राइटर को जानते हैं तो उसे हर हप्‍ते अपना लिखा कंटेट दिखा सकते हैं। वो आपके सुधार करने का सुझाव दे सकता है। जिससे आप उनमें सुधार कर सकते हैं।

लेकिन यदि आप किसी भी कंटेंट राइटर को नहीं जानते हैं तो आप अपनी लिखी चीजों सोशल मीडिया पर पोस्‍ट कर सकते हैं। वहां लोग उसे पढ़कर खुद ही अपनी राय भी साझा कर देंगे। यदि आपका कंटेंट बहुत अच्‍छा रहेगा तो लोग उसे शेयर भी करेंगे। लेकिन ध्‍यान इस बात का रखिए कि आप सोशल मीडिया पर यदि कोई आलोचना करता है तो सिर झुकाकर अपने अंदर सुधार लाने की कोशिश करें। ना कि उससे बहस करें। इससे अलावा आप अपनी ही लिखी हुई बात को कुछ दिन के अंतराल पर खुद से पढ़ेंगे तो आप खुद भी अपनी गलती पहचान सकते हैं।

अपनी पसंद का विषय तय करें

जब आपको लगे कि अब आप काफी अच्‍छा कंटेंट लिखने लगे हैं तो आपको चाहिए कि अब आप अपने पसंद के विषयों की संख्‍या तैयार करें। ये विषय ऐेसे हों जिनके ऊपर आप सबसे बेहतर लिख सकते हैं। जैसे कि हेल्‍थ, समाज, फैक्‍ट, देश विदेश, फैशन, फिल्‍मी गॉसिप, कहानी आदि। क्‍योंकि कोई भी इंसान हर विषय पर एक जैसा नहीं लिख सकता है। इसके बाद आप दूसरे विषयों को छोड़कर केवल अपने विषय पर फोकस करें। साथ ही उन विषयों पर अधिक से अधिक जानकारी जुटाने की कोशिश करें।

डिजिटल कंटेंट राइटर बनें

आज का समय डिजिटल का दौर है। इसलिए एक कंटेंट राइटर का भी डिजिटल होना बेहद जरूरी है। इसके लिए जब आपको लगे कि अब आप एक सही कंटेंट लिख सकते हैं। तो आपको किसी भी कंम्‍प्‍यूटर सेंटर को ज्‍वाइन करके हिन्‍दी की टाइपिंग सीख सकते हैं। इससे आगे चलकर आपके काम की तलाश आसानी से पूरी हो सकती है। साथ ही पैसा भी ज्‍यादा मिलेगा।

कंटेंट राइटर से कमाई?

आइए अब हम आपको बताते हैं कि आप एक कंटेंट राइटर बनकर हर महीने कितना पैसा कमा सकते हैं। लेकिन आपका पैसा दो चीजों पर निर्भर करता है‍ कि आप काम किस तरह का कर रहे हैं। साथ ही आप किस माध्‍यम के लिख रहे हैं। यदि आप डिजिटल माध्‍यम के लिए लिख रहे हैं तो इससे आपको सबसे ज्‍यादा पैसा मिलेगा।

यदि हम एक कंटेंट राइटर की कमाई की बात करें तो वो हर महीने के 15 से 20 हजार रूपए आसानी से कमा सकता है। बस शर्त इस बात की रहती है कि उसके कंटेंट में दम होना चाहिए। इसके बाद वो किसी कंपनी से या बतौर फ्रीलांसर भी अपना काम आगे बढ़ा सकता है।

ध्‍यान रखने योग्य बातें

  • एक अच्‍छा कंटेंट राइटर वही बन सकता है। जो कि दिल से लिखना और पढ़ना चाहता होगा। इसलिए यदि आप केवल किसी के बहकावे में आकर कंटेंट राइटर बनना चाहते हैं। तो यह आपकी एक भूल होगी।
  • एक कंटेंट राइटर हर रोज कुछ ना कुछ नया सीखने के लिए बेताब रहता है। जिससे वो अपने हर लेख में अपने पाठकों को कुछ नया सिखा सके। इसलिए आप ज्ञान जितना ज्‍यादा हो सके उतना ज्‍यादा लेने की कोशिश करें।
  • आप कितने भी साल से कंटेंट लिख रहे हों। लेकिन कभी आप इस गलत फहमी में ना रहें कि आप कभी गलती नहीं कर सकते हैं। इसलिए जब भी कुछ लिखें हमेशा धैर्य और सयंम के साथ पूरी सावधानी के साथ लिखें।
  • जब भी आप लिखें तो इस तरह से लिखें कि आपका लिखा एक पांचवी पास इंसान भी पढ़ सके और एक पीएचडी कर रहा युवा भी आसानी से पढ़ सके।
  • आप कभी भी हड़बड़ी या शौर शराबे के बीच नहीं लिख सकते हैं। इसलिए आप हमेशा कोशिश करें कि शांत और ठंडे दिमाग से ही लिखें।
  • एक अच्‍छा कंटेंट राइटर कुछ भी लिखने से पहले उसके तथ्‍य बताता है। इसलिए कभी भी बिना तथ्‍य के कोई भी बात ना लिखें। जो कि बाद में गलत साबित हो जाए। इससे आपकी बात पर से लोगों का भरोसा उठ जाएगाा।
  • आपकी लिखी बात चाहे 100 लोग पढ़ें या एक लाख लोग। आप हमेशा अपनी लेखनी के अंदर अपनी पूरी ताकत लगा दें। ना कि पाठकों की संख्‍या देखकर अच्‍छा और खराब लिखें। क्‍येंकि अच्‍छा लिखकर आप खुद के अंदर ही लिखार लाते हैं।
  • कभी भी एक लेखक के तौर पर आप ये ना सोचें कि आप अपनी भाषा पर पकड़ को दिखाने के लिए भारी भरकम शब्‍द का प्रयोग करेंगे जिससे लोग आपको भाषा का अच्‍छा जानकार समझें। आपको आसान से आसान भाषा में ही लिखना सबसे बेहतर रहेगा।
  • आज के समय में कंटेंट राइटर के लिए कई कोर्स और डिप्‍लोमा भी आ चुके हैं आप चाहें तो उन्‍हें पूरा करके भी एक कंटेंट राइटर बन सकते हैं। इसके लिए आप कॉलेज की वेबसाइट पर जाकर देख सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: फीचर लेखन से क्या आशय है

Conclusion

आशा है कि अब आप समझ गए होंगे कि कंटेंट राइटर (content writer) कैसे बने (content writer kaise bane) कंटेंट राइटर सिर्फ एक पेशा मात्र नहीं होता है। बाल्कि ये लिखने वालों के लिए एक शौक की तरह होता है। अगर आपका भी ये शौक है तो आप इस लेख को पढ़ने के बाद अपनी लेखनी में और सुधार ला सकते हैं। यदि आपको हमारा ये लेख content writer kaise bane पसंद आया है तो इसे अपने दोस्‍तों के साथ भी शेयर करें। साथ इससे जुड़ा आपका कोई सवाल या सुझाव है तो नीचे कमेंट करें।

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

स्टार पर क्लिक करके हमें बताये!

औसत रेटिंग 4.6 / 5. कुल वोट 355364

उम्र में युवा और तजुर्बे में वरिष्ठ रोहित यादव हरियाणा के रहने वाले हैं। पत्रकारिता में डिग्री रखने के साथ इन्होंने अपनी सेवाएं कई मीडिया संस्थानों को दी हैं। फिलहाल ये पिछले लंबे समय से अपनी सेवाएं 'All in Hindi' को दे रहे हैं।

1 thought on “कंटेंट राइटर (content writer) कैसे बने? | अच्छा कंटेंट कैसे लिखें?”

Leave a Comment