DMLT course details in Hindi । DMLT कोर्स की जानकारी

4.6
(343)

DMLT कोर्स कैसे करें?

DMLT course details in Hindi: हमारे देश में डॉक्‍टर बनने का सपना हर नौजवान के अंदर होता है। लेकिन ज्‍यादातर युवा केवल इसलिए अपना डॉक्‍टर बनने का सपना पूरा नहीं कर पाते हैं। क्‍योंकि जो भी डॉक्‍टर बनने से जुड़े कोर्स होते हैं। अक्‍सर उनकी फीस बहुत ज्‍यादा होती है। ऐसे में यदि आप भी डॉक्‍टर बनने की इच्‍छा रखते हैं तो हमारे इस लेख को अंत तक पढि़ए।

अपने इस लेख में हम आपको जानकारी देंगे कि DMLT course details in Hindi जिसे पढ़कर जान पाएंगे कि DMLT कोर्स क्‍या होता है। साथ ही इसे करने के क्‍या फायदे होते हैं। साथ ही इससे जुड़े कॉलेज और उनकी फीस की पूरी जानकारी।

DMLT course क्‍या होता है?

यदि हम आपको DMLT (Diploma in Medical Laboratory Technology) कोर्स के बारे में जानकारी दें इससे पहले आइए एक बार हम आपको बताते हैं कि DMLT कोर्स क्‍या होता है। दरअसल, यह भी मेडिकल लाइन का एक कोर्स है। जिसको करने के बाद कोई भी युवक आसानी से मेडिकल लाइन में आकर आसानी से काम कर सकता है।

इस कोर्स की खास बात ये है कि इसे वो युवा भी कर सकते हैं तो कई सालों तक पढ़ाई का खर्च नहीं उठा सकते हैं। साथ ही किसी गरीब परिवार से संबध रखते हैं। क्‍योंकि इस कोर्स की फीस बेहद ही कम है। जो कि हर कोई आसानी से वहन कर सकता है।

DMLT कोर्स की जानकारी

DMLT कोर्स किसे करना चाहिए?

यदि हम DMLT कोर्स करने की बात करें तो इस हर वो युवा कर सकता है जो कि इस कोर्स को करने की योग्यता पूरी करता है। लेकिन जैसा कि आप जानते हैं कि केवल कोई कोर्स कर लेने भर से आज के समय में कोई इंसान कामयाब नहीं हो सकता है।

इसलिए हम आपसे कहना चाहेंगे कि इस कोर्स को केवल वही युवा करें जो कि पढ़ने में होशियार हों या पढ़ने की इच्‍छा रखते हों। इसके अलावा इस कोर्स के बाद आपको मेडिकल लैब (Medical Lab) के संचालन का काम दिया जाता है। ऐसे में आपकी रूचि में मेडिकल लैब का काम अवश्‍य रूप से होना चाहिए। साथ ही इस कोर्स को कोई भी लड़का या लड़की आसानी से कर सकता है।

इसे भी पढ़ें: आयुर्वेदिक डॉक्टर कैसे बने?

DMLT कोर्स की जानकारी

DMLT course details in Hindi में आइए अब हम आपको जानकारी देते हैं कि इस कोर्स को करने की क्‍या योग्यता होती है। साथ ही इससे जुड़े प्रमुख कॉलेज कौन से हैं। इसके बाद कोर्स पूरा करने के बाद आपको कितनी संभावनाएं मिलती है।

DMLT कोर्स में काम की जानकारी

सबसे पहले हम आपको जानकारी देते हैं कि इस तरह के कोर्स करने के बाद आपको किस तरह का काम करना होता है। दरअसल, इसके अंदर डॉक्‍टर को आपकी जरूरत तब पड़ती है जब उसे समझ नहीं आता है कि आखिर मरीज बीमार क्‍यों है। या उसके ऊपर दवाई का असर क्‍यों नहीं हो रहा है।

इसके बाद वह उसके खून, पेशाब और अन्‍य चीजों की जांच करने को कहता है। बस यहीं से शुरू होता है एक DMLT कोर्स किए हुए इंसान का काम। वो सबसे पहले उसके सैंपल (Sample) लेता है। फिर उसे लैब में लेकर जाकर जांच करता है। उसके बाद वह उसकी जांच करता है कि इसके अंदर किस चीज की मात्रा कितनी है। जिसकी एक रिपोर्ट तैयार करता है और संबधित डॉक्‍टर को सौप देता है।

यहां हम एक बात और स्‍पष्‍ट कर दें कि DMLT कोर्स किए हुए आदमी का काम केवल मरीज के सैंपल की रिपोर्ट तैयार करना मात्र है। मरीज को दवाई और उसके इलाज से जुड़ी सारी प्रक्रिया डॉक्‍टर स्‍वंय पूरी करता है। जिसकी उसने काफी सारी पढ़ाई कर रखी होती है।

DMLT कोर्स करने की योग्यता

यदि आप DMLT कोर्स को करना चाहते हैं तो इसके लिए जरूरी है कि आप बारहंवी पास हों साथ ही बारहंवी में आपको पास PCM (Physics, Chemistry, Biology) भी होनी भी जरूरी है। इसके अलावा आपके बारहंवी में 45 से 50 प्रतिशत अंक कम से कम हों। इससे कम होने पर आप किसी भी सरकारी और प्राइवेट कॉलेज में DMLT कोर्स में दाखिला नहीं ले सकते हैं।

कोर्स की अवधि

यदि हम DMLT कोर्स की अवधि की बात करें तो इस कोर्स की अवधि महज दो साल है। जिसके अंदर आपको किसी अस्‍पताल में प्रैक्टिकल ट्रेनिंग (Practical Training) करने का मौका भी दिया जाता है। हालांकि, हम आपको बता दें कि यह एक डिप्‍लोमा कोर्स है इसलिए इस कोर्स को आप कभी भी डिग्री कोर्स के तौर पर प्रयोग नहीं कर सकते हैं। इसके लिए आपको इस कोर्स के बाद आगे की पढ़ाई करनी होगी।

DMLT कोर्स के विषय

आइए आगे हम आपको DMLT कोर्स से जुड़े कुछ विषय की जानकारी देते हैं। जो कि आपको DMLT कोर्स के दौरान देखने को मिलेंगे। हालांकि, संभव है कि कॉलेज के आधार पर आपके विषय में कुछ बदलाव भी देखने को मिले।

1st Semester Subject List

  • Human Anatomy
  • Fundamentals of MLT
  • Basics of clinical Biochemistry
  • Basic Human Science
  • English Communication
  • Professional Activities

2nd Semester Subject List

  • Human Physiology
  • Basic Pathology
  • Fundamental Biochemistry
  • Microbial Instrumentation
  • Information and Communication Technology
  • Community Development

3rd Semester Subject List

  • Human Physiology II
  • Clinical Hematology
  • Metabolic and Technical Biochemistry
  • Technical Microbiology
  • Community Development Activities II

4th Semester Subject List

  • Histopathological Techniques
  • Clinical Biochemistry
  • Clinical Microbiology
  • Clinical Pathology
  • Pathology Lab

DMLT College List

आगे हम आपको DMLT कोर्स करवाने वाले कुछ कॉलेजों की लिस्‍ट देने जा रहे हैं। यदि आपके आसपास इनमें से कोई भी कॉलेज पड़ता है तो आप इनके अंदर आसानी से दाखिला ले सकते हैं। लेकिन यदि आपके आसपास कोई भी कॉलेज नहीं है। तो आप अपने आसपास पता करके किसी दूसरे कॉलेज में भी दाखिला ले सकते हैं।

  • Delhi Institute of Technology and Paramedical Sciences, Delhi
  • DELHI PARAMEDICAL & MANAGEMENT INSTITUTE (DPMI), Delhi
  • Shri Swami Bhumanand College Of Nursing, Utrakhand
  • Shri Sanatan Dharam Institute of Pharmacy & Medical Technology, Haryana
  • Ram Chandra Institute Of Paramedical Sciences DMLT & BScMLT College, Prayagraj, Uttar Pradesh
  • Mahatma Gandhi institute of paramedical sciences and hospital-Best DMLT,Bsc ,MLT college in Lucknow
  • Rajasthan Paramedical College Sansthan, Jaipur
  • B Lal Institute Of Paramedical Science, Jaipur
  • S D A Medical College, Bihar
  • Allama Iqbal College Biharsharif, Bihar
  • Bihar Institute of Nursing and Paramedical, Bihar

DMLT Course Admission Process

यदि हम DMLT कोर्स की दाखिला प्रक्रिया की बात करें तो यह दो तरह से होती है। जो कि पूरी तरह से उस संस्‍थान पर निर्भर करती है जिसके अंदर आप दाखिला लेने जा रहे हैं। इसे जानने के लिए या तो आप उस संस्‍थान की वेबसाइट पर चले जाएं या वहां जाकर पता कर लें।

किसी भी संस्‍थान में DMLT कोर्स में दाखिला लेने का पहला तरीका ये है कि आपको सीधा आपके बारहंवी के नंबरों के आधार पर दाखिला दे दिया जाए। जिसे हम लोग आम भाषा में मेरिट आधार पर दाखिला कहते हैं। इसके अंदर जरूरी है कि आपके बारहंवी में अच्‍छे नंबर हों। अन्‍यथा आप दाखिले से वंचित रह सकते हैं।

जबकि दूसरा तरीका ये है कि आपको एक Entrance test के आधार पर दाखिला दिया जाए। जिसके अंदर अपको दाखिला लेने से पहले एक टेस्‍ट देना होता है। जिसमें प्राप्‍त अंकों के आधार पर आपको DMLT कोर्स के अंदर दाखिला दिया जाता है। इसके अंदर आपके बारहंवी में प्राप्‍त अंकों की बजाय टेस्‍ट में प्राप्‍त अंकों का विशेष महत्‍व होता है।

Entrance Test की तैयारी कैसे करें?

यदि आपने इससे पहले कभी किसी भी तरह का Entrance Test नहीं दिया है। तो आपको इसकी तैयारी भी करनी पड़ेगी। इसके लिए आपके कॉलेज के आसपास की दुकानों पर Entrance Test की किताबें मिल जाएंगी। आप उन्‍हें खरीदकर पढ़ सकते हैं। साथ ही पिछले कुछ साल के प्रश्‍न पत्र भी देख सकते हैं। जिससे आपको टेस्‍ट का अंदाजा हो जाएगा।

DMLT Course Fee

DMLT कोर्स की फीस का हम आपको केवल एक अंदाजा ही दे सकते हैं। क्‍योंकि इससे जुड़े कॉलेज पूरे देश में फैले हुए हैं। ऐसे में हर कॉलेज की फीस एकदम अलग होती है।

लेकिन यदि हम केवल सरकारी कॉलेज की बात करें तो उसके अंदर आपको DMLT कोर्स की फीस एक साल की 10 से 15 हजार तक चुकानी पड़ सकती है। जबकि यदि हम एक प्राइवेट कॉलेज की बात करें तो उसकी एक साल की फीस आपको 30 से 50 हजार रूपए तक चुकानी पड़ सकती है।

ऐसे में हमारा सुझाव यही रहेगा कि यदि आपके घर के आसपास कोई सरकारी कॉलेज है तो आप उसी के अंदर दाखिला लें। क्‍योंकि सरकारी कॉलेज में ट्रेनिंग और उसके बाद रोजगार की संभावनाएं भी काफी ज्‍यादा होती हैं। जो कि आपके भविष्‍य के लिहाज से काफी अच्‍छा होगा।

रोजगार की संभावनाएं

यदि हम DMLT कोर्स के बाद रोजगार की संभावनाओं की बात करें तो यह काफी ज्‍यादा हैं। क्‍योंकि यह एक ऐसा कोर्स है। जिसे पूरा करके आप सरकारी प्राइवेट और स्‍वरोजगार की तरफ भी जा सकते हैं।

जिसमें पहला जरिया है कि आप किसी प्राइवेट अस्‍पताल की लैब में लग जाएं। जहां आपको काम करना होगा और काम के बदले हर महीने का वेतन दिया जाएगा। जबकि दूसरा तरीका है कि आप अपने शहर में खुद की लैब (Lab) खोल लें। जहां आसपास के अस्‍पतालों में से सैंपल आपके पास आ जाया करेंगे। जहां आपका काम होगा कि उनकी जांच करके उनकी रिपोर्ट अस्‍पताल को भेज दिया करेंगे।

इसके अलावा यदि आप सरकारी सेवाओं में जाना चाहते हैं तो उसके लिए आप सरकारी नौकरी में भी आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए सरकार समय समय पर भर्तियां निकालती रहती है। आप उनके अंदर अपना आवेदन भरिए और परीक्षा दीजिए। परीक्षा पास करके आपकी तैनाती किसी भी सरकारी लैब में कर दी जाएगी।

शुरूआती सैलरी

यदि हम DMLT कोर्स को करने के बाद आपकी शुरूआती सैलरी की बात करें तो यह कोई खास नहीं रहने वाली है। क्‍योंकि यह केवल डिप्लोमा कोर्स होगा। लेकिन इसके आधार पर भी आप यदि किसी लैब में काम करते हैं तो शुरूआत में आपको 15 से 18 हजार रूपए आसानी से मिल जाएंगे। सैलरी इस बात पर भी निर्भर करती है कि आप किस तरह की लैब में नौकरी कर रहे हैं। साथ ही वहां काम कितना ज्‍यादा आता है।

इसके अलावा यदि आप किसी सरकारी नौकरी में लगते हैं तो इस कोर्स के आधार पर ही आपकी शुरूआती सैलरी 30 से 35 हजार रूपए आसानी से मिल सकती है। इसके बाद आपकी सैलरी नियमानुसार हर साल बढ़ती चली जाएगी।

ध्‍यान रखने योग्य बातें

  • सबसे पहली ध्‍यान रखने वाली बात ये है कि आपका काम बेहद जिम्‍मेदारी भरा होता है। क्‍योंकि आपने यदि एक भी रिपोर्ट तैयार करने में गलती कर दी तो उससे किसी के जीवन और मौत का सवाल पैदा हो सकता है।
  • यह एक ऐसा कोर्स है जिसके अंदर आपको आपके काम के आधार पर पैसा मिलता है। इसलिए कोशिश करें कि आप ज्‍यादा से ज्‍यादा काम सीखते रहें।
  • यदि आप अपनी लैब खोलते हैं तो जरूरी है कि आपके संबध डॉक्‍टरों से अच्‍छे हों। क्‍योंकि आपके पास सीधा मरीज तो आएंगे नहीं। केवल जांच के लिए सैंपल आएंगे।
  • यदि आप इस कोर्स के बाद भी आगे और पढ़ाई करना चाहते हैं। तो आसानी से कर सकते हैं। इसके बाद आप बैचलर और मास्टर डिग्री भी आसानी से कर सकते हैं।
  • यदि आपके संस्‍थान या कॉलेज की तरफ से आपको किसी तरह की ट्रेनिंग की सुविधा दी जाती है तो इस मौके को कभी ना गंवाएं। भले ही ट्रेनिंग में रहने खाने का खर्च आपकी जेब से क्‍यों ना देना पड़ रहा हो।
  • संभव है कि कोर्स करने के तुरंत बाद आपको इतनी अच्‍छी सैलरी ना मिले। इसलिए धैर्य के साथ आपको हमेशा काम करते रहना चाहिए। काम सीखने के बाद आपकी सैलरी भी बढ़ जाएगी।

इसे भी पढ़ें: डॉक्टर कितने प्रकार के होते हैं

Conclusion

आशा है कि अब आप समझ गए होंगे कि DMLT course details in Hindi क्‍या होता है। इसे जानने के बाद आप आसानी से निर्णय कर सकते हैं कि आपको ये कोर्स करना चाहिए या नहीं। हालांकि, कोर्स सारे सही होते हैं उसमें सफलता और असफलता काफी हद तक हमारी मेहनत पर निर्भर करती है। इसलिए मेहतन को ही अपना मूलमंत्र मानकर चलें।

यदि आपको हमारे द्वारा दी गई डीएमएलटी कोर्स की जानकारी पसंद आई है तो इसे अपने दोस्‍तों के साथ भी साझा करें। साथ ही इस लेख से जुड़ा आपका कोई सवाल है तो हमें नीचे कमेंट करें। All In Hindi Team आपके उज्‍ज्‍वल भविष्‍य की कामना करती है।

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

स्टार पर क्लिक करके हमें बताये!

औसत रेटिंग 4.6 / 5. कुल वोट 343

उम्र में युवा और तजुर्बे में वरिष्ठ रोहित यादव हरियाणा के रहने वाले हैं। पत्रकारिता में डिग्री रखने के साथ इन्होंने अपनी सेवाएं कई मीडिया संस्थानों को दी हैं। फिलहाल ये पिछले लंबे समय से अपनी सेवाएं 'All in Hindi' को दे रहे हैं।

Leave a Comment