Graduation ke baad kya kare | ग्रेजुएशन के बाद क्या करे?

4.6
(287)

ग्रेजुएशन के बाद क्‍या करना चाहिए?

Graduation ke baad kya kare: हम में से ज्‍यादातर लोगों ने ग्रेजुएशन अवश्‍य कर रखी होती है। लेकिन समस्‍या उस समय आती है जब हमें अपनी ग्रेजुएशन से आगे की पढ़ाई करनी होती है। ऐसे में हमें समझ नहीं आता है कि अब आगे किस तरह की पढ़ाई करें जिससे हमें और बेहतर अवसर मिल सकें। यदि आप भी इसी असमंजस में हैं तो हमारे इस लेख को अंत तक पढि़ए।

अपने इस लेख में हम आपको बताएंगे कि Graduation ke baad kya kare साथ ही ग्रेजुएशन के बाद हमें क्‍यों आगे पढ़ाई करनी चाहिए। इसके क्‍या फायदे होते हैं।

ग्रेजुएशन क्‍या होती है?

इससे पहले कि हम आपको जानकारी दें कि Graduation ke baad kya kare आइए आपको एक बार बताते हैं कि ग्रेजुएशन क्‍या होती है। दरअसल, ग्रेजुएशन एक तरह से बैचलर डिग्री होती है। जो कि बारहंवी के बाद की जाती है। यह सामान्‍यत: तीन साल की होती है। लेकिन कुछ कोर्स को करने में चार साल का समय भी लग जाता है। जिसके बाद हम लोग ग्रेजुएट हो जाते हैं। इसे आप केवल डिग्री कॉलेज से ही कर सकते हैं।

ग्रेजुएशन के बाद क्या करे

ग्रेजुएशन के बाद क्या करें?

आइए अब हम आपको बताते हैं कि ग्रेजुएशन के बाद क्या करें। क्‍योंकि हर किसी के अंदर हमेशा कुछ अलग होता है। इसलिए हम आपको ग्रेजुएशन के बाद क्‍या करें। इसका कोई सीधा जवाब तो नहीं दे सकते हैं। पर फिर भी आइए आपको एक एक करके हर डिग्री वाले छात्र के हिसाब से जानकारी देते हैं।

ग्रेजुएशन कितने प्रकार की होती है?

ग्रेजुएशन के बाद क्या करें इसे समझने के लिए आपको ये जानना बेहद जरूरी है कि ग्रेजुएशन डिग्री कितने प्रकार की होती है। आइए इसके दोनों ही प्रकार की आपको जानकारी देते हैं। जिससे आप समझ सकें कि आपकी डिग्री का प्रकार कौन सा है।

प्रोफेशनल डिग्री

ग्रेजुएशन में सबसे पहला नाम प्रोफेशनल डिग्री का नाम आता है। यह एक ऐसी डिग्री होती है जिसके अंदर आपको किसी खास विषय से जुड़ी जानकारी दी जाती है। उदाहरण के तौर पर BBA, BCA, B.tech, Hotel Management आदि। ये सब एक तरह से प्रोफेशनल डिग्री में मानी जाती हैं।

यदि आप ये सब डिग्री करते हैं। तो आपको केवल एक क्षेत्र विशेष की जानकारी दी जाएगी। साथ ही आपके लिए आगे रोजगार के अवसर भी उन्‍हीं क्षेत्रों में होंगे। हालांकि, आप आगे चलकर सरकारी और प्राइवेट दोनों क्षेत्रों में जा सकते हैं। साथ ही समाज में ऐसी डिग्री का महत्‍व भी दूसरी से ज्‍यादा होता है।

सामान्‍य डिग्री

यदि हम सामान्‍य डिग्री की बात करें तो उसे हम लोग BA (Bachelor of Art) के नाम से जानते हैं। इसके अंदर आपको सामान्‍य तौर पर हर विषय पढ़ाया जाएगा। जिससे आपका एक तरह से बहुमुखी विकास होगा। आप आगे चलकर अपनी इच्‍छा अनुसार किसी भी क्षेत्र को चुन सकते हैं। लेकिन इसमें आप किसी एक विषय में कभी पारंगत नहीं हो सकते हैं।

हमारे देश की 80 प्रतिशत आबादी केवल इसी तरह की सामान्‍य डिग्री करती है। जिससे इसके अंदर रोजगार के अवसर कम हो जाते हैं। क्‍यों‍कि इस तरह की डिग्री कॉलेज आपको गांव देहात में भी आसानी से देखने को मिल जाएंगे। लेकिन यदि आपके अंदर जुनून है तो आप इसके अंदर भी रोजगार अवश्‍य पा सकते हैं। बस शर्त ये है कि आप अंतिम समय तक प्रयास में लगे रहें।

इसे भी पढ़ें: पतंजलि में नौकरी कैसे प्राप्त करें?

प्रोफेशन डिग्री वाले आगे क्‍या करें?

अब आइए आपको सीधे मुद्दे की बात पर लिए चलते हैं कि ग्रेजुएशन के बाद क्या करें। इसके अंदर यदि हम प्रोफेशनल डिग्री वाले लोगों की बात करें तो वो लोग हमेशा कोशिश करें कि जिस क्षेत्र में उन्‍होंने अपनी ग्रेजुएशन कर रखी है उसी क्षेत्र में आगे की पढ़ाई करें। खासतौर पर यदि आपके परिवार के लोग चाहते हैं‍ कि आप काफी आगे तक पढ़ाई करें।

इससे आपकी समझ अपने विषय को लेकर और ज्‍यादा गहरी हो जाएगी। जिससे आपके लिए आगे चलकर रोजगार के और अवसर खुल जाएंगे। इसके अंदर आप चाहे फिर डॉक्‍टर, इंजीनियर, वकील, अध्‍यापक कुछ भी बनना चाहें। माना जाता है कि जो अपने क्षेत्र में जितना बेहतर होगा उसके लिए रोजगार पाना उतना ही आसान होागा। साथ ही वेतन का भी इससे सीधा जुड़ाव है।

सरकारी नौकरी की संभावनाएं

यदि आप ग्रेजुएशन के बाद सीधा सरकारी नौकरी में आने की इच्‍छा रखते हैं। तो आप दो तरीके से इसमें आ सकते हैं। पहला तो आपने जिस विषय के साथ अपनी ग्रेजुएशन डिग्री की है। उससे जुड़े पदों में आवेदन कर सकते हैं। जैसे कि आपने यदि बीसीए (BCA) की है, तो सरकारी विभागों में कई बार ऐसी भर्ती आती है। जिसके अंदर योग्यता के तौर पर बीसीए मांगी जाती है। आप उनमें अपना आवेदन भर सकते हैं।

इसके अलावा कई ऐसी भर्ती भी आती हैं। जिनमें सामान्‍य ग्रेजुएशन मांगी जाती है। आप चाहें तो उनमें भी अपना आवेदन भर सकते हैं। हालांकि, ध्‍यान देने वाली बात ये है कि इन दोनों तरह की भर्तियों में जो परीक्षा होती है। उनके प्रश्‍नों में काफी अंतर होता है। इसलिए आपको मेहनत भी परीक्षा के हिसाब से करनी होगी।

कुछ जरूरी बातें

  • यदि आपके घर की आर्थिक स्‍थिति अच्‍छी नहीं है तो आप केवल ग्रेजुएशन के बाद भी रोजगार तलाश सकते हैं। बस आपने ग्रेजुएशन में अच्‍छे से पढ़ाई की हो।
  • कभी भी कोई भी प्रोफेशनल डिग्री Distance माध्‍यम से ना करें। क्‍योंकि इस दौरान आप उस क्षेत्र से जुड़ा आप कुछ सीख नहीं पाते हैं। इससे नौकरी में काफी दिक्‍कत आती है।
  • यदि आपको ग्रेजुशन के दौरान ऐसा लगता है कि आप जिस क्षेत्र की पढ़ाई कर रहे हैं। उसमें आपका बिल्‍कुल मन नहीं लगता है तो आप कभी भी उसी क्षेत्र में आगे की पढ़ाई ना करें।
  • किसी भी प्रोफेशनल डिग्री में कॉलेज का चुनाव बेहद अहम हो जाता है। इसलिए कॉलेज का चुनाव हमेशा बड़े ध्‍यान से करें।
  • प्रोफेशनल डिग्री में आपको शुरूआत से ही अच्‍छा वेतन नहीं दिया जाता है। इसलिए आप हमेशा ज्‍यादा से अनुभव प्राप्‍त करने की कोशिश करें। अनुभव के साथ आपका वेतन भी बढ़ता जाएगा।

सामान्‍य डिग्री वाले आगे क्‍या करें?

यदि आपकी ग्रेजुएशन की डिग्री किसी सामान्‍य क्षेत्र में है। यानि आप कोई विशेष योग्यता नहीं रखते हैं। तो आप भी आगे की पढ़ाई अवश्‍य कर सकते हैं। इसमें आपको सबसे पहले तय करना होगा कि यदि आपको ग्रेजुएशन के दौरान लगे कि आप किसी विशेष क्षेत्र में रूचि रखते हैं तो आप उस क्षेत्र में जाकर अपनी आगे की पढ़ाई पूरी कर सकते हैं। जैसे कि आपने बीए (BA) किसी और विषय में कर रखी हो तो एमए (MA) किसी दूसरे में कर लें।

लेकिन यदि आपकी रूचि किसी विशेष क्षेत्र में नहीं है तो आप उन्‍हीं में कोई अपनी पसंद का एक विषय चुनकर आगे की पढ़ाई जारी रख सकते हैं। खास तौर पर यदि आगे चलकर आप एक अध्‍यापक बनना चाहते हैं तो आपको एक विषय की पढ़ाई में पूरी तरह से दक्षता अवश्‍य रखनी चाहिए।

सरकारी नौकरी की संभावनाएं

यदि आप Graduation ke baad kya kare में सीधा सरकारी नौकरी करना चाहते हैं तो उसके लिए भी आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए आपको नियमित तौर पर अपने राज्‍य भर्ती आयोग और एसएससी (SSC) और रेलवे (Railway) की वेबसाइट देखते रहनी होगी।

ये आयोग समय समय पर भर्तियां निकालते रहते हैं। जिसमें योग्यता के तौर पर या तो बारहंवी मांगी जाती है। या ग्रेजुएशन मांगी जाती है। आप उनके अंदर आवेदन करके उनकी परीक्षा में बैठ सकते हैं। यदि आप परीक्षा पास कर लेते है तो आपकी नियुक्ति कर दी जाती है। जिसके बाद समय समय पर आपका प्रमोशन भी होता रहेगा।

कुछ जरूरी बातें

  • आपके पास यदि एक सामान्‍य डिग्री भी है तो इसे लेकर आप कभी घबराएं नहीं। बाल्कि हमेशा कोशिश करें अपने विषय में मजबूत पकड़ बनाएं।
  • यदि आप एक सामान्‍य डिग्री के बाद प्रोफेशनल डिग्री करने की तरफ जाते हैं। तो आप ये फैसला बेहद सोच विचार कर करें। क्‍योंकि आपके सबकुछ आगे बेहद कम समय में सीखना होगा।
  • एक प्रोफेशनल डिग्री के मुकाबले एक सामान्‍य डिग्री को करना और उसकी फीस चुकाना काफी आसान काम होता है। इसलिए चुनाव के दौरान आप अपनी आर्थिक स्‍थिति को भी अवश्‍य देखकर चलें।
  • किसी सामान्य डिग्री को आप Distance या नौकरी के साथ भी आसानी से कर सकते हैं। क्‍योंकि इसके अंदर आपको खुद से पढ़ना होता है। ना कि आपके कॉलेज की कोई विशेष भूमिका होती है।
  • यदि आप ग्रेजुएशन के बाद ही रोजगार तलाशते हैं। तो कोशिश करें कि आप उसी क्षेत्र में रोजगार तलाशें। जो विषय आपकी पढ़ाई में थे। इससे आपको रोजगार पाने में आसानी रहेगी।

इसे भी पढ़ें: What is UG and PG in hindi

Conclusion

आशा है कि अब आप समझ गए होंगे कि Graduation ke baad kya kare इसे जानने के बाद आप आसानी से तय कर सकते हैं कि आपको ग्रेजुएशन के बाद क्‍या करना चाहिए। हालांकि, हम आपको यहां एक और जरूरी बात बता दें कि हर किसी का जीवन बेहद अलग होता है। इसलिए आप जो भी‍ निर्णय लें उसे अपनी विवेक क्षमता के आधार पर लें। ना कि केवल लेख पढ़कर।

यदि आपको हमारा ये लेख पसंद आया है तो इसे अपने दोस्‍तों के साथ भी अवश्‍य शेयर करें। साथ ही इस पोस्‍ट से जुड़ा आपका यदि कोई सवाल है तो नीचे कमेंट करें। ऑल इन हिंदी टीम आपके उज्‍ज्‍वल भविष्‍य की कामना करती है।

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

स्टार पर क्लिक करके हमें बताये!

औसत रेटिंग 4.6 / 5. कुल वोट 287

उम्र में युवा और तजुर्बे में वरिष्ठ रोहित यादव हरियाणा के रहने वाले हैं। पत्रकारिता में डिग्री रखने के साथ इन्होंने अपनी सेवाएं कई मीडिया संस्थानों को दी हैं। फिलहाल ये पिछले लंबे समय से अपनी सेवाएं 'All in Hindi' को दे रहे हैं।

Leave a Comment