हेलीकॉप्टर का आविष्कार किसने किया?

4.7
(365)

हेलीकॉप्टर से जुड़े रोचक तथ्‍य

हेलीकॉप्टर का आविष्कार किसने किया: बदलते समय के साथ कई तरह के यातायात के साधन आए और प्रचलित हुए। जहा पहले बैलगाड़ी से यात्रा की जाती थी, फिर मोटर कार ने इसकी जगह ले ली और अब आप सीधे आसमानी रास्ते से कही आ जा सकते हैं। साल 1903 में राईट ब्रदर्स ने सबसे पहले एयरोप्लेन का आविष्कार किया था। धीरे धीरे एयरोप्लेन ने काफी तरक्‍की की और आज इसके माध्यम से दुनिया के किसी देश या शहर में जाया जा सकता है। लेकिन एयरोप्लेन को आप पर्सनली यूज नही कर सकते हैं। इसके लिए आपको हेलीकॉप्टर की आवश्यकता होगी।

आज के इस आर्टिकल में हम आपको इसी हेलीकॉप्टर के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे। हेलीकॉप्टर का आविष्कार किसने किया यह सब हम जानेंगे। तो आइए सबसे पहले हेलीकॉप्टर के बारे में जान लेते हैं।

हेलीकॉप्टर क्या है?

हेलीकॉप्टर यातायात का एक ऐसा साधन है जिसके मदद से आप आसानी से हवाई मार्ग से कही आ जा सकते हैं। इसके मदद से दुर्गम से दुर्गम जगहों पर आसानी से जाया जा सकता है। इसका इस्तेमाल लड़ाई में सेनाएं भी करती हैं। राहत कार्य और आपदा में भी इसका उपयोग होता है।

चुकी इसमें 2 से 8 सीट ही होती है इसलिए इसका प्रयोग आप पर्सनली कर सकते हैं। इसको उड़ान भरने के लिए किसी रनवे की आवश्यकता नही पड़ती है। हमारे देश भारत में ही कई सारे लीडर्स और सेलेब्रिटी के पास अपना पर्सनल हेलीकॉप्टर है। क्या आपने कभी सोचा है की helicopter ka avishkar kisne kiya, आइए अब आपको बताते हैं की इस हवाई मार्ग से उड़ने वाले वाहन यानी हेलीकॉप्टर का आविष्कार किसने किया।

हेलीकॉप्टर का आविष्कार किसने किया

हेलीकॉप्टर का आविष्कार किसने किया?

किसी भी चीज का आविष्कार अचानक से नही होता और नही किसी एक व्यक्ति के प्रयास से यह संभव होता है। इसमें कई लोगों की असफलता, और सार्थक प्रयास होता है। हालांकि ऐसा भी देखा गया है की कई चीजों का आविष्कार किसी एक ही व्यक्ति ने अपने असफलताओं से सीख कर अकेले ही कर दिया। हेलीकॉप्टर का आविष्कार भी कई लोगों के प्रयास के बाद हुआ। ऐसा माना जाता है की सर्वप्रथम Igor Sikorsky ने सन 1939 में रोटर वाला प्रायोगिक हेलीकॉप्टर का आविष्कार किया था। इसका नाम vs 300 था और यह अमेरिका के स्टैनफोर्ड में उड़ाया गया था। अपने इस कृति में और कई सुधार करने के बाद साल 1940 में इसे अमेरिकी वायुसेना को सौंप दिया।

अमेरिकी सेना ने इस हेलीकॉप्टर का प्रयोग सेकंड वर्ल्ड वार में किया। Sikorsky जो की एक अमेरिकन रसियन इंजीनियर थे आगे चलके वे और उनके टीम ने कई हेलीकॉप्टर का निर्माण किया। इन सभी निर्मित हेलीकॉप्टर को अमेरिकी सेना ने अपने काम में लिए। इन हेलीकॉप्टर का प्रयोग अमेरिकी सेना ने द्वितीय विश्व युद्ध में राहत कार्यों में किया। द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान इस से युद्ध में फसे लोगों की मदद के लिए किया गया।

Sikorsky के पूर्व फ्रांस के दो भाई Jacques और Louis Breguet ने 1907 में Gyroplane नामक हेलीकॉप्टर नामक बनाया था। इसी वर्ष Paul Cornu नामक आविस्कारक ने एक हेलीकॉप्टर के प्रोटोटाइप बनाया था जो की तकरीबन 20 सेकंड तक उड़ान भरी थी। हेलीकॉप्टर के निर्माण में इन सभी का योगदान बराबर है। इन्हीं के आइडिया से आगे चलकर आधुनिक हेलीकॉप्टर का निर्माण हो सका।

इसे भी पढ़ें: इंटरनेट की खोज किसने की?

हेलीकॉप्टर के प्रकार

आज के समय में हेलीकॉप्टर का प्रयोग न सिर्फ यातायात के लिए होता है बल्कि इसका प्रयोग युद्ध में, आपातकाल में, राहत कार्य में भी होता है। हर कार्य के लिए अलग अलग हेलीकॉप्टर का उपयोग किया जाता है और मुख्यत: हेलीकॉप्टर के 3 प्रकार होते हैं। आइए इन सभी के बारे में विस्तार से जानते हैं।

General helicopter

वे सभी हेलीकॉप्टर जिसका प्रयोग सेलिब्रिटी और लीडर्स करते है वे जनरल हेलीकॉप्टर कहे जाते हैं। ये पर्सनल यूज के होते हैं। इस तरह के हेलीकॉप्टर का प्रयोग टूर और ट्रैवल में भी होता है। Robinson R44 इसका एक उदाहरण है।

Air ambulance helicopter

इस प्रकार के हेलीकॉप्टर का प्रयोग मेडिकल इमरजेंसी के लिए किया जाता है। यह मेडिकल उपकरणों से लैस होते हैं। इस का प्रयोग मरीज को एक जगह से दूसरे जगह इलाज के लिए ले जाने के लिए होता है। इस तरह के हेलिकॉप्टर काफी आसानी से दूर दराज के इलाकों में भी उतारे जा सकते है। इसका प्रयोग आपदा में फसे घायल लोगों की मदद के लिए भी किया जाता है।

Attack helicopter

Attack helicopter का प्रयोग युद्ध में किया जाता है। इस प्रकार के हेलिकॉप्टर में आधुनिक डिफेंस और अटैक के सारी सुविधा उपलब्ध होती हैं। इसके मदद से सेनाएं आसानी से अपने दुश्मनों पर अटैक कर सकते हैं। इसमें गोला बारूद, रॉकेट और मिसाइल लॉन्च करने की क्षमता होती है। यह काफी कम समय में उड़ान भर लेता है। इसके साथ ही में इसमें कई तरह के सुरक्षा उपकरण भी लगे होते हैं।

इसे भी पढ़ें: पृथ्वी से जुड़े 10 रोचक तथ्य

हेलीकॉप्‍टर से जुड़े रोचक तथ्‍य

  • भारत में आप एक हेलीकॉटर कम से कम दो घंटे के लिए किराए पर ले सकते हैं। जबकि इसका किराया 50 हजार से 2 लाख तक होता है।
  • यदि कोई इंसान अपना हेलीकॉप्‍टर खरीदना चाहता है, तो उसे इसकी कम से कम कीमत 2 दो करोड़ रूपए देनी होगी।
  • हेलीकॉप्टर की टॉप स्‍पीड 180 से 240 किलोमीटर प्रतिघंटा होती है। जबकि लड़ाकू जहाज इसका दोगुना स्‍पीड में उड़ सकते हैं।
  • एक सामान्‍य हेलीकॉप्‍टर एक लीटर तेल में 3 से 4 किलोमी‍टर की माइलेज आसानी से दे सकता है। जबकि बड़े हेलीकॉप्‍टर इससे काफी कम माइलेज देते हैं।
  • हेलीकॉप्‍टर कभी भी हवा के सहारे खुद नहीं उड़ता है। इसे तो पंखों की मदद से जबरदस्‍ती उड़ाया जाता है। इसीलिए कई बार हेलीकॉप्‍टर हादसे का शिकार भी हो जाता है।

Conclusion

विज्ञान के क्षेत्र में आए दिन नए नए आविष्कार हो रहे हैं। नए आविष्कारो के साथ साथ हमे पुराने आविष्‍कारों के बारे में भी जानना चाहिए। आज के इस आर्टिकल में हमने “हेलीकॉप्टर का आविष्कार किसने किया” के बारे में जाना। साथ ही हमने हेलीकॉप्टर के बारे में भी विस्तार से जाना। उम्मीद है यह आर्टिकल आपको पसंद आया होगा। इसे अपने मित्रो के साथ शेयर करना ना भूले। मिलते है फिर ऐसे ही बेहतरीन आर्टिकल के साथ तब तक आप हमारे वेबसाइट से जुड़े रहे।

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

स्टार पर क्लिक करके हमें बताये!

औसत रेटिंग 4.7 / 5. कुल वोट 365

उम्र में युवा और तजुर्बे में वरिष्ठ रोहित यादव हरियाणा के रहने वाले हैं। पत्रकारिता में डिग्री रखने के साथ इन्होंने अपनी सेवाएं कई मीडिया संस्थानों को दी हैं। फिलहाल ये पिछले लंबे समय से अपनी सेवाएं 'All in Hindi' को दे रहे हैं।

Leave a Comment