आईआईएम क्या है? | IIM full form in Hindi

4.5
(358)

IIM में दाखिला कैसे लें?

IIM full form in Hindi: MBA करने की इच्‍छा रखने वाले हर नौजवान के अंदर कहीं ना कहीं आईआईएम में जाने का सपना जरूर होता है। लेकिन ये सपना केवल हर साल कुछ हजार छात्रों का ही पूरा हो पाता है। क्योंकि IIM में जाने के लिए कठिन मेहनत के साथ एक सही मार्गदर्शन की भी जरूरत होती है तभी कोई संस्‍थान तक पहुंच पाता है।

ऐसे में यदि आप भी जानना चाहते हैं कि आईआईएम क्‍या है। आईआईएम में दाखिला कैसे होता है। उसमें किस तरह से पढ़ाई होती है। तो हमारे इस लेख को अंत तक पढ़ें। अपने इस लेख में हम आपको जानकारी देंगे कि IIM full form in Hindi

IIM क्‍या है?

IIM की फुल फार्म Indian Institutes of Management जिसे हिन्‍दी में ‘भारतीय प्रबन्धन संस्थान’ कहा जाता है। एमबीए (Master of Business Administration) की पढ़ाई करने के लिए हमारे देश में यह सबसे बेहतरीन संस्‍थान माना जाता है। यदि हम इनकी संख्‍या की बात करें तो यह हमारे देश में कुल 20 हैं। जो कि अलग अलग राज्‍यों में स्‍थित हैं। आने वाले समय में इनका विस्‍तार और भी होने वाला है।

इनके महत्‍व को आप इस बात से समझ सकते हैं कि हमारे देश के अलावा इन संस्‍थानों में विदेश से भी लोग पढ़ने आते हैं। क्‍योंकि उन्‍हें यहां से पढ़ने के बाद लाखों रूपए हर महीने की सैलरी दी जाती है। जिससे वो हमेशा इन संस्‍थानों का चुनाव ही करते हैं।

IIM क्‍या है

IIM में पढ़ने के फायदे

  • देश के इतने बड़े और नामी संस्‍थान में पढ़ना अपने आप में गर्व की बात होती है। जिसमें पढ़ने के बाद पैसा मिलने के साथ आपको समाज में काफी ज्‍यादा इज्‍जत भी मिलती है।
  • आईआईएम में पढ़ाई के दौरान आपको काफी कुछ सीखने को मिलता है। जो कि आपको जानकारी देने के साथ जीवन जीने का सही तरीका भी देता है।
  • आज के बेरोजगारी के इस दौर में IIM ऐसा संस्‍थान है जहां आपको 100 प्रतिशत प्लेसमेंट दी जाती है। वो भी लाखों के पैकेज के साथ।
  • IIM में पढ़ने के बाद आप चाहें तो विदेश भी जा सकते हैं। क्‍योंकि आपको कई World Wide company भी नौकरी देने के लिए तैयार बैठी रहती हैं।
  • आईआईएम में देश के हर कोने से छात्र आते हैं। इसलिए यदि आप यहां से पढ़ते हैं तो आपको देश की विविधता और संस्कृति से भी रूबरू होने का मौका मिलता है।

इसे भी पढ़ें: पतंजलि में नौकरी कैसे प्राप्त करें?

IIM में दाखिला कैसे लें?

आइए अब हम आपको बताते हैं कि यदि आप आईआईएम में दाखिला लेना चाहते हैं। तो उसका क्‍या तरीका है। इसे जानने के बाद आप दाखिले के लिए आवेदन कर सकते हैं। जिसके बाद की पूरी प्रक्रिया का पूरा करके आप आईआईएम में जानें का अपना सपना पूरा कर सकते हैं। लेकिन इसके लिए आपको काफी ज्‍यादा मेहतन करनी होगी।

IIM में दाखिला लेने की योग्यता

यदि हम इस संस्‍थान में दाखिला लेने की योग्यता की बात करें तो इसके लिए जरूरी है कि आप किसी भी विषय में ग्रेजुएट (Graducate) अवश्‍य हों। साथ ही आपके कम से कम 50 प्रतिशत अंक भी अवश्‍य हों। यदि आपकी ग्रेजुएशन का अभी फाइनल ईयर (Final Year) भी चल रहा है। तो भी आप आईआईएम में दाखिले के लिए अपना आवेदन कर सकते हैं। बस शर्त ये रहती है कि फीस जमा करने तक आपकी ग्रेजुएशन पूरी हो चुकी हो। यदि आप उस समय नहीं अपनी डिग्री नहीं दे पाते हैं तो आपको आवदेन रद् कर दिया जाता है।

खास बात ये है कि इसके अंदर दाखिला लेने के लिए इस बात की कोई शर्त नहीं होती है कि आपकी ग्रेजुएशन किसी खास विषय में हो। बस आप ग्रेजुएट हों। फिर चाहे वह साधारण विषय के साथ हो या किसी इंजीनियरिंग विषय के साथ हों।

CAT की परीक्षा दें

यदि आप आवेदन करने के योग्य हैं तो आपको कैट (CAT) की परीक्षा देनी होगी। जिसकी Full Form Common Admission Test होती है। यह परीक्षा हर साल आयोजित की जाती है। जिसके अंदर हर साल लगभग पूरे देश से 2 लाख छात्र बैठते हैं। यह परीक्षा कुल 400 अंक की होती है। जिसमें 100 प्रश्न होते हैं। हर प्रश्‍न का 4 अंक होता है। जबकि गलत प्रश्‍न का 0.33 अंक काट लिए जाते हैं। इसलिए इस परीक्षा को आपको बड़ी सावधानी से हल करना होता है।

इस परीक्षा का सेलेब्‍स आप IIM की वेबसाइट पर जाकर देख सकते हैं। इस परीक्षा के लिए हर साल लगभग दिसंबर में आवेदन मांगे जाते हैं। जो कि आपको ऑनलाइन भरना होता है। जिसके बाद आप परीक्षा में बैठ सकते हैं। यहां हम आपको एक और जानकारी दे दें कि इस परीक्षा को केवल भारत के निवासी ही दे सकते हैं।

GMAT Exam

यह परीक्षा उन छात्रों के लिए आयोजित की जाती है। जो कि भारत के बाहर के हैं और आईआईएम में दाखिला लेना चाहते हैं। इसे GMAT (Graduate Management Admission Test) कहा जाता है। जो भी लोग भारत के बाहर से होते हैं, वो इस फार्म को भरते हैं। इसके बाद उनकी परीक्षा ली जाती है। अंत में मेरिट तैयार की जाती है। जिसके बाद दाखिला दिया जाता है। हालांकि, दाखिले के बाद भारत और भारत के बाहर के सभी छात्रों को एक साथ ही बैठकर पढ़ना होता है।

Group Discussion

यदि आप परीक्षा को पास कर लेते हैं तो आपको ग्रुप डिस्‍कशन (Group Discussion) में जाना होता है। इसका मतलब ये है कि आपके सामने छात्रों का एक ग्रुप होता है। जिनसे आपको कुछ समय के लिए बातचीत करनी होती है। जिसके आधार पर आपको अंक दिए जाते हैं।

इसके लिए आपको काफी मेहनत करनी होती है। ताकि आपको अच्‍छे अंक मिल सकें। क्‍योंकि यह अपने आप काफी अलग तो होता ही है। साथ ही काफी कठिन भी होता है। क्‍योंकि आपके साथ ग्रुप में बैठने वाला हर छात्र एक तरह का आपका ही प्रतियोगी होता है।

Interview

यदि आप ग्रुप डिस्‍कशन को पास कर लेते हैं तो आपका साक्षात्कार लिया जाता है। जिसका मतलब ये होता है। कि बोर्ड का एक पैनल होगा। जो कि कुछ मिनट के लिए आपसे बातचीत करेगा। जिसके आधार पर आपको उसके अंक दिए जाएंगे।

इसकी भी आपको काफी अच्‍छी तैयारी करनी होती है। ताकि आप पैनल के सामने अपना प्रभाव छोड़ सकें। जिससे आपको अच्‍छे अंक मिल सकें। क्‍योंकि इन्‍हीं सभी अंकों को मिलाकर फाइनल मेरिट तैयार की जाती है। जिसके बाद पता चलता है कि कौन IIM में दाखिला ले पाएगा कौन बाहर हो जाएगा।

परीक्षा की तैयारी कैसे करें?

यदि हम CAT Exam की बात करें तो इसे पास करना अपने आप में काफी कठिन माना जाता है। क्‍योंकि 2 लाख बच्‍चों में से केवल कुछ हजार बच्‍चे ही हर साल इसमें कामयाब होते हैं। इसलिए इसकी तैयारी के लिए आपको सबसे पहले चाहिए कि आप इस परीक्षा का सेलेब्स जान लें।

इसके बाद आप उसी सेलेब्‍स से जुड़ी किताबें खरीद लाएं। किताबों के साथ कुछ पिछले साल के प्रश्‍न पत्र भी खरीद लें। यदि आपका कोई जानकार है जो कि पहले से इस परीक्षा को पास कर चुका है। तो उसका मार्गदर्शन अवश्‍य ले लें। अन्‍यथा आप किसी कोचिंग संस्‍थान की मदद से भी इस परीक्षा की तैयारी को आगे बढ़ा सकते हैं। हालांकि यदि आप कोचिंग के साथ जाते हैं तो इसकी फीस काफी ज्‍यादा देखने को मिलेगी।

Group Discussion की तैयारी कैसे करें?

यदि हम ग्रुप डिस्‍क्‍शन (Group Discussion) की बात करें तो आज के समय बहुत से कोचिंग संस्‍थान इसकी भी तैयारी करवाते हैं। आपको वो लोग कुछ समय के लिए एक ऐसा माहौल देते हैं। जिससे आपको सच में ऐसा महसूस हो कि आप सही में ग्रुप डिस्‍कसन के अंदर ही बैठे हैं।

वहां आपकी कमियों को देखा जाता है। जिसके बाद बताया जाता है कि आप उसे कैसे दूर कर सकते हैं। इसी तरह से समय समय पर मॉक इंटरव्‍यू (Mock Interview) भी आयोजित करवाए जाते हैं। आप उनमें भाग लेकर जान सकते हैं कि आपको साक्षात्कार कैसे देना है। साक्षात्‍कार के दौरान कौन सी चीजों का ध्‍यान रखना होगा। जिससे आपको पैनल के सामने असहज होने का भाव ना आए।

Top 5 IIM

आइए अब हम आपको देश के टॉप 5 IIM के बारे में जानकारी देते हैं। इसकी लिस्‍ट हर साल NIRF की तरफ से जारी की जाती है। इस लिस्‍ट को देखकर आप समझ सकते हैं कि जब आप टेस्‍ट देते हैं तो इनके अंदर केवल उसी को मौका मिलता है। जिसके सबसे ज्‍यादा अंक होते हैं। यदि आपके कम अंक आते हैं तो आपको दूसरे आईआईएम में दाखिला लेना पड़ सकता है।

  • IIM Ahmedabad
  • IIM Bangalores
  • IIM Calcutta
  • IIM Kozhikode
  • IIM Indore

IIM की फीस

यदि हम आईआईएम की फीस (IIM Fees) की बात करें तो यह काफी ज्‍यादा होती है। क्‍योंकि देश के अंदर कुल 20 IIM मौजूद हैं। इसलिए हर संस्‍थान की फीस भी अलग अलग है। लेकिन यदि हम सामान्‍य फीस की बात करें तो कम से कम आपको MBA की फीस 15 से 20 लाख रूपए देनी होगी। जबकि यदि आपका दाखिला किसी ऐसे IIM में होता है। जहां ज्‍यादा फीस है तो आपको 30 से 35 लाख तक देनी पड़ सकती है। फीस में उतार चढ़ाव आपको रैंक के हिसाब से देखने को मिलेगा।

लेकिन यदि आप गरीब परिवार से भी हैं तो फीस की चिंता कतई ना करें। क्‍योंकि IIM का नाम लेते ही आपको बहुत सारे बैंक लोन देने के लिए तैयार हो जाते हैं। जिसे हम लोग एजुकेशन लोन (Education Loan) कहते हैं। खास बात ये है कि IIM का अबतक का जो Placement रिकार्ड रहा है। उसे देखकर आप महज कुछ महीनों में ही अपना लोन भी चुका सकते हैं। इसलिए आप बेहिचक होकर एजुकेशन लोन के साथ जा सकते हैं।

सैलरी पैकेज

यदि हम आईआईएम जैसे संस्‍थान के सैलरी पैकेज (Salary Package) की बात करें तो आपकी उम्‍मीद से काफी ज्‍यादा मिलने वाला है। इसे आप इस बात से समझ सकते हैं कि यहां से पढ़ने वालों को अधिकतम 1 करोड़ रूपए तक का पैकेज मिल सकता है। जबकि यदि हम न्‍यूनतम पैकेज की बात करें तो यह 30 से 40 लाख तक आ सकता है। यदि आप पैकेज नहीं जानते हैं तो हम आपको बता दें कि यह सालाना सैलरी होती है। जो कि एक साथ दी जाती है।

ध्‍यान रखने योग्य बातें

  • IIM की CAT परीक्षा को पास करना काफी कठिन होता है। इसलिए यदि आप इसे एक बार में पास नहीं कर पाते हैं तो आपको कई प्रयास अवश्‍य करने चाहिए।
  • क्‍योंकि IIM एक बहुत बड़ा संस्‍थान है। इसलिए वहां पढ़ने के लिए जरूरी है कि आपको English आती हो। तभी आप वहां पढ़ाई पूरी करने के बाद अच्‍छा पैकेज पा सकते हैं।
  • यदि आपका किसी TOP के IIM में दाखिला नहीं होता है। तो भी आपको घबराने की जरूरत नहीं है। क्‍योंकि कुछ सालों के अनुभव के बाद आपको भी सबके बराबर का पैकेज मिल सकता है।
  • क्‍योंकि आईआईएम में दाखिला लेना अपने आप में चुनौती है। इसलिए जब आप वहां पढ़ने जाएं तो इस बात को अपने दिमाग में हमेशा रखें कि आपको यहां से कुछ बनकर ही बाहर निकलना है।
  • यदि किसी कारणवंश आपका दाखिला IIM में नहीं होता है। तो आप किसी कॉलेज या University से भी MBA कर सकते हैं। बस आप मेहतन करने में यकीन रखें। मंजिल आपको जरूर मिल जाएगी।

इसे भी पढ़ें: फिल्म में हीरो कैसे बने?

Conclusion

आशा है कि अब आप समझ गए होंगे कि IIM full form in Hindi क्‍या होती है। इसे जानने के बाद आप आगे चलकर IIM की तैयारी कर सकते हैं। साथ ही देश के किसी भी आईआईएम में दाखिला ले सकते हैं। जिससे आपका भविष्‍य उज्‍ज्‍वल हो सके। यदि आपको हमारा ये लेख पसंद आया है तो इसे अपने दोस्‍तों के साथ भी शेयर करें। साथ ही इस लेख से जुड़ा आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट करें।

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

स्टार पर क्लिक करके हमें बताये!

औसत रेटिंग 4.5 / 5. कुल वोट 358

उम्र में युवा और तजुर्बे में वरिष्ठ रोहित यादव हरियाणा के रहने वाले हैं। पत्रकारिता में डिग्री रखने के साथ इन्होंने अपनी सेवाएं कई मीडिया संस्थानों को दी हैं। फिलहाल ये पिछले लंबे समय से अपनी सेवाएं 'All in Hindi' को दे रहे हैं।

Leave a Comment