मिठाई की दुकान कैसे खोलें?, इन 10 जरुरी बातों का रखे ध्यान

4.8
(158)

मिठाई की दुकान कैसे खोलें?

मिठाई की दुकान कैसे खोलें: आपने चौक चौराहों पर बहुत बार देखी होगी। साथ ही जब भी आप मिठाई की दुकान के आगे से गुजरे होंगे तो आपके मुंह में भी पानी जरूर आ गया होगा। कई बार तो आपने ना चाहते हुए भी मिठाई खरीद ली होगी। इसीलिए कहा जाता है कि मिठाई का कारोबार करना सबसे फायदेमंद रहता है। क्‍योंकि ये एक ऐसा काम होता है, जिसमें आपको ग्राहक बुलाने नहीं पड़ते, बाल्कि ग्राहक दुकान देखते ही खुद मजबूर होकर आपके पास चले आते हैं।

ऐसे में यदि आप भी मिठाई की दुकान करना चाहते हैं तो हमारी इस पोस्‍ट को आप अंत तक पढि़ए। अपनी इस पोस्‍ट में हम आपको बताएंगे कि आप मिठाई की दुकान कैसे खोलें? साथ ही इस काम की शुरूआत करने में आपको कितना पैसा खर्च करना होगा। पोस्‍ट के अंत में हम आपको वो 5 मूल मंत्र भी देंगे। जिनकी मदद से आप अपने काम में तेजी ला सकते हैं।

किन लोगों को करना चाहिए मिठाई का काम?

वैसे तो इस काम में कोई भी आ सकता है। लेकिन फिर भी माना जाता है कि यदि आपके अंदर बचपन से मिठाई से लगाव रहा है। या आप अपने घर में मिठाई आदि बनाते रहते हैं तो इस काम में आप बेहद आसानी से कर सकते हैं। लेकिन यदि आपका मिठाई से कोई पुराना नाता नहीं है तो आपको शुरूआत में थोड़ी परेशानी हो सकती है।

इसके लिए जरूरी है कि आप सबसे पहले किसी एक मिठाई की दुकान पर कुछ महीनों तक काम सीख लें। ताकि इस काम की आपको बेहतर समझ हो जाए। इसके बाद आप अपनी मिठाई की दुकान करने की सोचें।

क्‍यों होती है मिठाई की दुकान खास?

मिठाई की दुकान की तुलना किसी दूसरे काम से नहीं की जा सकती है। क्‍योंकि यह अपने आप में एक बेहद खास काम होता है। इसकी खास बात से है कि ये एक सदाबहार काम होता है। और त्‍यौहार के सीजन में तो ये और तेज हो जाता है। विवाह शादियों के दौरान तो कई बार ऐसी नौबत आ जाती है कि दुकानों पर मिठाई ढूंढने पर भी नहीं मिलती है। इसीलिए यदि आप मिठाई की दुकान करते हैं आपको इस काम में दूसरे काम से ज्‍यादा आमदनी हो सकती है। साथ ही इस काम को शुरू करने में परेशानी भी कम उठानी पड़ती है।

कैसे करें जगह का चुनाव?

मिठाई की दुकान खोलने के लिए उसकी जगह सबसे अहम होती है। क्‍यों‍कि यदि आप किसी गली में दुकान खोलकर बैठ जाते हैं तो वहां आपका ये काम तेजी नहीं पकड़ सकता है। इसके लिए जरूरी है कि आप अपने गांव या शहर के किसी ऐसे चौक चौराहे पर दुकान खोलें जहां लोग जब किसी दूसरी जगह जाते हों तो उस चौराहे से होकर ही गुजरते हों।

क्‍योंकि ऐसी जगह से लोग अक्‍सर एक दूसरे से मिलने या किसी समारोह आदि में जाते हैं। खास बात ये है कि जब आपके शहर में कोई बाहर से आएगा तो भी वो आपकी दुकान से मिठाई खरीदना पसंद करेगा। क्‍योंकि बहुत से लोग जब किसी से मिलने जाते हैं तो उसी के घर के नजदीक जाकर मिठाई खरीद लेते हैं। इसीलिए आपको हमेशा चौक चौराहों पर मिठाई की दुकान देखने को मिलेगी।

मिठाई की दुकान

मिठाई की दुकान के लिए कच्‍चा माल

दुकान खोलते ही आपको सबसे पहले ये तय करना होगा कि आप किन मिठाइयों से काम की शुरूआत करना चाहते हैं। इसके बाद आपको उन मिठाइयों के बनाने में लगने वाले कच्‍चे माल की व्‍यवस्‍था करनी होगी। ये कच्‍चा माल आपको बाजार में आसानी से मिल जाएगा।

यदि आप एक साथ बहुत सारा कच्‍चा माल लेते हैं तो आपको ये सस्‍ते दाम पर भी मिल जाएगा। बस ध्‍यान ये रखें कि आप सस्‍ते के चक्‍कर में कभी खराब माल ना ले आएं। इससे आपकी दुकान की छवि खराब हो जाएगी।

ये भी पढ़ें:  सबसे ज्यादा कमाई वाला बिजनेस

मिठाई की दुकान के लिए जरूरी सामान

कच्‍चा माल खरीदने के बाद आपको जरूरत पड़ेगी बहुत सारे सामान की।‍ जो कि आपकी दुकान में हर समय रखा होना चाहिए। जिसमें आपको फ्रिज चाहिए होगा, कढ़़ाई च‍ाहिए होगी, गैस चूल्‍हा चाहिए होगा। साथ ही आपके पास हर समय एक से दो सिलेंडर भरे हुए होने चाहिए। ताकि किसी भी समय सिलेंडर खत्‍म हो जाने पर परेशानी ना हो।

इसके बाद यदि आप अपनी दुकान पर बैठकर ग्राहकों को खाने की व्‍यवस्‍था देना चाहते हैं तो आपको कुर्सी और मेज भी खरीदनी पड़ेगी। अपनी दुकान के लिए आपको एक बड़ा सा कूडेदान और पानी की टंकी भी खरीदनी होगी। जिससे ग्राहक खाने के बाद पानी पी सकें।

मिठाई की दुकान का पंजीकरण

वैसे तो यदि आप किसी चौक चौराहे पर अपनी दुकान खोल रहे हैं तो इसके लिए आपको किसी तरह का पंजीकरण करवाने की जरूरत नहीं होती है। लेकिन यदि आप अपने शहर में कोई बड़ी दुकान खोल रहे हैं तो आपको इसके लिए Fssai में ऑनलाइन पंजीकरण करवाना होगा।

साथ ही आपको टैक्‍स भरने के  लिए GST में भी रजिस्‍टर करवाना होगा। ताक‍ि आप अपना रिटर्न भर सकें। Fssai में पंजीकरण इसलिए भी करवाना जरूरी हो जाता है क्‍यों‍कि आप खाने पीने की चीजों के काम से जुड़े हैं। ऐसे में यदि आपकी तरफ से किसी भी तरह की लापरवाही होती है तो इससे सीधा लोगों की सेहत पर प्रभाव पड़ेगा।

मिठाई की दुकान की शुरूआती लागत?

जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया कि आपकी मिठाई की दुकान कितनी बड़ी होगी ये इस बात पर निर्भर करता है कि आपके पास पैसा कितना है। लेकिन यदि आप जानना चाहते हैं कि मिठाई की दुकान कम से कम कितने पैसे में खोली जा सकती है। तो हम आपको बता दें कि इसके लिए जरूरी है कि आपके पास 3 से 5 लाख रूपए जरूर हों। जिसके लिए आप चाहे तो लोन भी ले सकते है। जिसके लिए हमने अपने पिछले लेख में यह भी बताया है कि आप 5 मिनट में लोन कैसे ले सकते है वो भी घर बैठे।

लेकिन यदि आपको दुकान के लिए जगह भी खरीदनी है और उस पर आगे दुकान भी बनानी है तो ये लागत कई गुना बढ़ सकती है। क्‍योंकि जगह के दाम हर जगह अलग अलग होते हैं। साथ ही लागत इस बात पर भी निर्भर करती है कि आप कितनी तरह की चीजें रखना चाहते हैं और ग्राहकों को कैसी व्‍यवस्‍था देना चाहते हैं।

ये भी पढ़ें: कम लागत का बिजनेस

मिठाई की दुकान की मार्केटिंग कैसे करें?

आज के समय में बिना मार्केटिंग के कोई भी काम चलाना संभव नहीं होता है। यही नियम आपकी मिठाई की दुकान पर भी लागू होता है। इसके लिए आपको कहीं विज्ञापन देने की जरूरत बिल्‍कुल नहीं है। इसके लिए आप जब पहली बार दुकान खोलें तो उस दिन लोगों को फ्री में कुछ मिठाई खाने को दे दीजिए।

जिससे लोग खुश तो होंगे ही साथ ही पूरे शहर में जानकारी फैल जाएगी कि शहर में इस जगह मिठाई की दुकान खुल गई है। साथ ही आप अपनी दुकान के नाम से कपड़े की थैली और मिठाई के डिब्‍बे छपवा लीजिए। बस अब ये जहां भी जाएंगे आपका विज्ञापन फ्री में करने का काम करेंगे।

इससे आप देखेंगे कि आपकी दुकान को जल्‍द ही लोग पूरे शहर में जानने लगेंगे। बस ध्‍यान ये रखिए कि आप जो कपड़े का थैला छपवाइए वो थोड़ा अच्‍छी क्‍वालिटी का हो ताकि लोग उसे घर ले जाकर फैंके ना।

मिठाई की दुकान से कितना होगा शुरूआती लाभ?

मिठाई की दुकान में लाभ इस बात पर निर्भर करता है कि आपके पास कितनी तरह की मिठाई है और आपकी दुकान किस जगह पर है। लेकिन फिर भी माना जाता है कि आप इस काम में जितने भी सामान रखते हैं उनमें 15 से 20 प्रतिशत लाभ आसानी से कमा सकते हैं। इस हिसाब से आप यदि 7 से 8 लाख रूपए यदि दुकान पर लगाते हैं तो हर महीने इससे 30 से 40 हजार रूपए कमा सकते हैं।

साथ ही आपकी ये आमदनी त्‍यौहार के सीजन के मौसम में कई गुना बढ़ जाती है। लेकिन जिस तरह से आपकी दुकान पुरानी होती जाएगी आपकी आमदनी उसी तरह से लगातार बढ़ती जाएगी। जिससे आपको एक दिन हर महीने लाखों रूपए तक की आमदनी हो सकती है।

मिठाई की दुकान से अच्‍छी आमदनी के 5 मूल मंत्र

  • सबसे जरूरी बात ये है कि आपकी दुकान पर भले ही आपने मिठाई बनाने के लिए हलवाई रखा हो पर इसके बाद भी आपको मिठाई बनाने का काम आना चाहिए। ताकि जिस दिन हलवाई छुट्टी कर जाए तो भी आपका काम चलता रहे।
  • कभी भी आप लाभ कमाने के लिए मिठाई में मिलावट या नाप तौल में गड़बड़ी करने की कोशिश ना करें। थोड़े से लाभ के चक्‍कर में ये आपको भारी नुकसान पहुंचा सकता है।
  • आप जिस जगह दुकान खोल रहे हैं यदि उस जगह मिठाई की कोई दुकान पहले से मौजूद है तो आप शुरूआती दिनों में अपने रेट उस दुकान से कम रखें। साथ ही कुछ ऐसी मिठाई रखें जो‍िकि दूसरी दुकान पर ना मिलती हों।
  • मिठाई की दुकान पर अक्‍सर मक्‍खी आदि घूमती रहती हैं ऐसे में जरूरी है आप पूरी तरह से साफ सफाई रखें। ताकि ग्राहक आपकी दुकान पर आना पसंद करें।
  • अपने बोलने का तरीका सहज रखें। क्‍योंकि ग्राहक आपके लिए भगवान है इसलिए यदि किसी ग्राहक से कोई विवाद भी हो जाए तो भी आप अपनी विनम्रता और धैर्य ना खोएं।

Conclusion

आज के समय में चाय बेचने वाला भी करोड़पति बन सकता है बस आपको ग्राहक के टेस्ट को ध्यान में रखना है। मजाक नहीं है श्रीमान MBA चायवाला का नाम नहीं सुना क्या। अगर नहीं तो google कर लो। मेरे कहने का तात्पर्य यह है कि आपको यदि किसी मार्केट में लम्बे समय तक टिके रहना है तो सब कुछ सही तरीके से करना होगा। शॉर्टकट तरीके से पैसा सिर्फ कुछ समय के लिए कमाया जा सकता है।

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

स्टार पर क्लिक करके हमें बताये!

औसत रेटिंग 4.8 / 5. कुल वोट 158

नमस्कार दोस्तों, मैं रवि "आल इन हिन्दी" का Founder हूँ. मैं एक Economics Graduate हूँ। कहते है ज्ञान कभी व्यर्थ नहीं जाता कुछ इसी सोच के साथ मै अपना सारा ज्ञान "आल इन हिन्दी" द्वारा आपके साथ बाँट रहा हूँ। और कोशिश कर रहा हूँ कि आपको भी इससे सही और सटीक ज्ञान प्राप्त हो सकें।

1 thought on “मिठाई की दुकान कैसे खोलें?, इन 10 जरुरी बातों का रखे ध्यान”

Leave a Comment