Philosophy Books For UPSC In Hindi | फिलोसोफी की बुक

4.3
(370)

Philosophy Books List

Philosophy Books For UPSC In Hindi: UPSC परीक्षा में आप कितने अच्छे अंक प्राप्त करेंगे यह इस बात पर निर्भर करता है कि आपके पास वेकल्पिक विषय यानी ऑप्शनल सब्जेक्ट क्या है? इस बात में कोई शक नहीं है कि आप ऑप्शनल सब्जेक्ट के जरिए यूपीएससी परीक्षा में अच्छे अंक हासिल कर सकते हैं। ज्यादातर विद्यार्थी ऑप्शनल सब्जेक्ट में Philosophy Subject का चयन करते हैं और इससे उन्हें काफी अच्छे अंक हासिल करने का अवसर भी मिल रहा है।

तो अगर आपने भी यूपीएससी परीक्षा के लिए ऑप्शनल सब्जेक्ट में Philosophy सब्जेक्ट चुना है तो आज हम आपको इस लेख के माध्यम से बताने वाले हैं कि वह कौन सी किताबें हैं जिनको पढ़कर आप Philosophy सब्जेक्ट को तैयार कर सकते हैं। तो अगर आपको भी फिलॉसफी सब्जेक्ट के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है तो हमारे आर्टिकल को अंत तक  ज़रूर पढ़े,  क्योंकि आज आपको अपने इस लेख में हम Philosophy Books For UPSC In Hindi के बारे में जानकारी देंगे।

ऑप्शनल सब्जेक्ट क्या होता है?

आमतौर पर जब कोई विद्यार्थी सरकारी नौकरी की परीक्षा की तैयारी करता है तो उसके पास विकल्प बहुत कम होते हैं। लेकिन आप ना तो अपना सिलेबस बदल सकते हैं, ना प्रारंभिक या मुख्य परीक्षा में कोई बदलाव कर सकते हैं। लेकिन अगर आप UPSC परीक्षा की तैयारी कर रहे हैं तो इसमें आपको ऑप्शनल सब्जेक्ट यानी वैकल्पिक विषय चुनने का मौका दिया जाता है ताकि आप अच्छे अंक प्राप्त कर सकें।

अक्सर यह देखा जाता है कि विद्यार्थी वैकल्पिक विषय चुनने में काफी वक्त लगा देते हैं और उसके बाद भी उन्हें समझ नहीं आता कि जो विषय उन्होंने चुना है वह उनके लिए ठीक रहेगा यह नहीं तो अगर आपके मन में भी वैकल्पिक विषय चुनने को लेकर कई सवाल है तो आइए जानते हैं कि आप किस तरह से यूपीएससी परीक्षा के लिए वैकल्पिक विषय चुन सकते हैं।

Philosophy Books For UPSC In Hindi

वैकल्पिक विषय कैसे चुनें?

इस बात में कोई शक नहीं है कि UPSC की परीक्षा काफी कठिन होती है और प्रतियोगिता को ध्यान में रखते हुए प्रश्नपत्र को थोड़ा कठिन बनाया जाता है। अब ऐसे में आपको वही वैकल्पिक विषय चुनना है जिसके बारे में आप पहले से ही जानते हों और आपको ऐसा लगता हो कि आप इस विषय में अच्छे अंक प्राप्त कर सकेंगे।

इसके अलावा आपको इस बात का भी ध्यान रखना है कि आप जो भी विषय चुन रहे हैं उसका सिलेबस ज्यादा बड़ा ना हो और आप कम वक्त के अंदर ही उस सिलेबस को पूरा कर सके। क्योंकि जब आप कम सिलेबस वाले विषय को चुनेंगे तो आप दिन में एक या दो घंटा भी उस विषय को पढ़ लेंगे तो आप उस में अच्छे अंक प्राप्त कर सकेंगे।

आजकल ज्यादातर विद्यार्थी अपने ऑप्शनल सब्जेक्ट में फिलोसोफी सब्जेक्ट चुन रहे हैं और इसके माध्यम से वह परीक्षा में अच्छे अंक भी प्राप्त कर रहे हैं। आपके मन में भी यह सवाल ज़रूर आया होगा कि फिलोसोफी सब्जेक्ट की तैयारी करने के लिए ऐसी कौन सी किताबें विद्यार्थियों को पढ़नी चाहिए जिन के माध्यम से वह कम समय में भी अच्छे अंक प्राप्त कर सके?  तो आइए उन किताबों के बारे में थोड़ा संक्षेप में जानते हैं। ताकि आपके लिए किताबों का चयन करना आसान हो जाए।

इसे भी पढ़ें: लड़कियों के लिए सबसे अच्छी जॉब कौन सी है?

फिलोसोफी सब्जेक्ट के लिए कुछ बेहतरीन किताबें

आगे हम आपको फिलोसोफी विषय की कुछ अच्‍छी किताबें बताने जा रहे हैं। आप चाहें तो उन्हें बाजार से खरीदकर पढ़ सकते हैं। ये किताबें पढ़कर आप अपने विषय में अच्‍छे अंक ला सकते हैं। जो कि आपके यूपीएससी में चयन में महत्‍वपूर्ण भ‍ूमिका अदा करेंगी।

Western Philosophy (Y Masih)

अगर आपको वेस्टर्न फिलोसोफी के बारे में बिल्कुल भी जानकारी नहीं है तो यकीन मानिए इस किताब को पढ़ने के बाद आपके जितने भी सवाल होंगे वह सभी सवाल आपके मन से दूर हो जाएंगे, क्योंकि  लेखक Y Masih ने इस किताब में काफी आसान भाषा का इस्तेमाल किया है। जो की हर विद्यार्थी आसानी से समझ सकता है। भले की उसका बैकग्राउंड कैसा भी रहा हो। आपको यह किताब हिंदी और इंग्लिश दोनों ही माध्यम में आसानी से मिल जाएगी आप अमेजॉन और नजदीकी बुक स्टोर पर जाकर यह किताब खरीद सकते हैं।

Indian Philosophy (Dutta & Chatterjee)

Philosophy Books For UPSC In Hindi में आप इंडियन फिलोसोफी यानी भारतीय दर्शन के बारे में जानने के लिए आप दत्ता और चटर्जी की किताब को खरीद सकते हैं। अगर आप अंग्रेजी माध्यम के छात्र हैं तो आप को यह किताब अंग्रेजी माध्यम में भी उपलब्ध हो जाएगी। जिसे पढ़कर आपको अपना सेलेब्‍स पूरा करने में काफी ज्‍यादा मदद मिलेगी। यह किताब भी फिलोसोफी विषय के बारे में काफी विस्‍तार से जानकारी देती है।

पाश्चात्य दर्शन (डॉक्टर शोभा निघम)

पाश्चात्य दर्शन को अंग्रेजी भाषा में वेस्टर्न फिलॉसफी कहा जाता है। जिसमें विद्यार्थी वेस्टर्न फिलोसोफी का अध्ययन करते हैं। अगर आपको Y Masih कील किताब पढ़ने में कोई परेशानी हो रही है तो आप डॉक्टर शोभा निगम की लिखी हुई यह किताब भी पढ़ सकते हैं। डॉ शोभा निगम ने काफी आसान भाषा में इस विषय को समझाया है। आप यह किताब ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही तरीके से खरीद सकते हैं। इस किताब के बारे में आप इंटरनेट से जुड़े विडियो भी देख सकते हैं।

भारतीय दर्शन की रूपरेखा (डॉक्टर हरेंद्र प्रसाद सिन्हा )

अगर आपने यूपीएससी में ऑप्शनल सब्जेक्ट फिलोसोफी चुना है तो आपको उसमें वेस्टर्न फिलॉसफी के साथ-साथ इंडियन फिलासफी भी पढ़नी होगी बात की जाए इंडियन फिलोसोफी यानि भारतीय दर्शन की किताब की तो आप ऐमेज़ॉन या अपने आसपास के बुक स्टोर से दत्ता और चटर्जी के अलावा डॉक्टर हरेंद्र प्रसाद सिन्हा की लिखी भारतीय दर्शन की रूपरेखा किताब भी खरीद सकते हैं। यह किताब आपको लगभग ₹ 200 रूपए में आसानी से मिल जाएगी। जिसे आप चाहें तो पहले अपने नजदीकी बाजार में जाकर भी देख सकते हैं।

भारतीय दर्शन (चंद्रधर शर्मा)

अगर आप इंडियन फिलॉसफी को आसान भाषा में जानना चाहते हैं, तो आपके पास तीसरा विकल्प यह भी है कि आप चंद्र शर्मा जी की लिखी हुई पुस्तक भारतीय दर्शन भी खरीद लें और यह किताब भी आपको ऐमेज़ॉन और बुक स्टोर पर आसानी से मिल जाएगी। जिसे पढ़ने के बाद आपको काफी अच्‍छी जानकारी मिलेगी। जिससे आपका पूरा सेलेब्‍स कवर हो सकता है। बस आप इस किताब को पूरी तरह से पढ़ें।

धर्म-दर्शन (डॉक्टर हरेंद्र प्रसाद सिन्हा)

यूपीएससी ऑप्शन सब्जेक्ट फिलोसोफी में आपको धर्म-दर्शन यानी रिलीजन फिलॉसफी के बारे में भी पढ़ना होगा और इसके लिए आप डॉक्टर हरेंद्र प्रसाद सिन्हा द्वारा लिखी गई किताब धर्म दर्शन की रूपरेखा खरीद सकते हैं। यह किताब भी आपको ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्‍यम से मिल जाएगी। आपको जहां ये किताब सस्‍ती मिले आप वहां से खरीद सकते हैं।

समकालीन पाश्चात्य दर्शन (वसंतकुमार लाल )

Contemporary Western Philosophy यानी समकालीन पाश्चात्य दर्शन पढ़ने के लिए आप वसंतकुमार लाल जी की पुस्तक खरीद सकते हैं। इस पुस्तक में वसंतकुमार लाल जी ने काफी विचारधाराओं को भी लिखा है। जो विद्यार्थियों के काफी काम आ सकती हैं। आपको यह किताब किसी भी बुक स्टॉल या फिर अमेजॉन पर आसानी से उपलब्ध हो जाएगी। यहां से आप इस किताब को खरीदकर पढ़ सकते हैं।

राजनीतिक सिद्धांत एक परिचय (राजीव भार्गव और अशोक आचार्य)

अगर आपने ऑप्शनल में फिलोसोफी सब्जेक्ट चुना है तो आपको सोशल पॉलिटिकल फिलॉसफी यानी राजनीतिक सिद्धांत के बारे में भी जानकारी हासिल करनी होगी इसके लिए आप राजीव भार्गव और अशोक आचार्य जी की लिखी किताब खरीद सकते हैं। इस किताब को बहुत आसान भाषा में लिखा गया है। ताकि हर विद्यार्थी आसानी से सभी बातों को समझ सकें। इसलिए यदि आप कोई सबसे आसान भाषा में लिखी किताब पढ़ना चाहते हैं तो इस किताब के साथ जा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: आईपीएस बनने के लिए योग्यता?

Conclusion

आशा है कि अब आप समझ गए होंगे कि Philosophy Books For UPSC In Hindi इसे जानने के बाद आप आसानी से अपनी किताब का निर्णय कर सकते हैं। हमारा सुझाव ये रहेगा कि आप इनमें से केवल एक किताब ही खरीदें और उसे ही बार बार पढ़ते रहें। क्‍योंकि कहा जाता है कि दस किताबों को पढ़ने से बेहतर है आप एक किताब को दस बार पढ़ दें। यही आपको सफल बना देगी। यदि आपको हमारा ये लेख पसंद आया है तो इसे अपने दोस्‍तों के साथ भी शेयर करें। साथ ही इस लेख से जुड़ा आपका कोई सवाल है तो नीचे कमेंट करें। हम आपके उज्‍ज्‍वल भविष्‍य की कामना करते हैं।

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

स्टार पर क्लिक करके हमें बताये!

औसत रेटिंग 4.3 / 5. कुल वोट 370

उम्र में युवा और तजुर्बे में वरिष्ठ रोहित यादव हरियाणा के रहने वाले हैं। पत्रकारिता में डिग्री रखने के साथ इन्होंने अपनी सेवाएं कई मीडिया संस्थानों को दी हैं। फिलहाल ये पिछले लंबे समय से अपनी सेवाएं 'All in Hindi' को दे रहे हैं।

Leave a Comment