Railway में ticket collector कैसे बनें?

4.5
(275)

TTE बनने का तरीका

Railway में ticket collector कैसे बनें?: आज के समय में हर नौजवान व्यक्ति चाहता है कि खास उसकी सरकारी नौकरी हो। क्यूंकि सरकारी नौकरी में प्राइवेट नौकरी कि तुलना में काफी सुख-सुविधाएं मिलती है। बहुत से नौजवान सरकारी नौकरी कि तैयारी करते हैं, लेकिन उनमें से कुछ ही सरकारी नौकरी कि परीक्षा को पास कर पाते हैं।

इसलिए आज के अपने इस आर्टिकल में हम आपको हर साल भारतीय रेलवे में निकलने वाली “टिकट कलेक्टर” के पद कि नौकरी के बारे में बताएंगे। अगर आप भी ” Railway में ticket collector कैसे बनें? ” के बारे में जानना चाहते है तो यह आर्टिकल आपके लिये काफी महत्वपूर्ण होने वाला है। इसलिए इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े तभी आप अच्छे से समझ पाओगे कि “Ticket collector kaise bane”।

टिकट कलेक्टर क्या होता है?

भारतीय रेलवे में टिकट कलेक्टर के पद पर तैनात कर्मचारी रेलवे का एक अधिकारी के पद पर होता है। जो रेल में सफर कर रहे यात्रीयों कि टिकट की जांच करता है। जिसे टिकट कलेक्टर कहा जाता है। यदि कोई यात्री रेल में सफर के दौरान टिकट कलेक्टर को टिकट नहीं दिखता है, तो उस यात्री को टिकट कलेक्टर के द्वारा पेनेलिटी का सामना करना पड सकता है।

इसके अलावा रेल में सफर के दौरान अगर कोई यात्री किसी दूसरे यात्री से लड़ाई-झगड़ा करता है तो उसका निपटारा भी टिकट कलेक्टर ही करता है।

ticket collector kaise bane

रेलवे में टिकट कलेक्टर कैसे बने?

भारतीय रेलवे हर साल रेलवे विभाग में अलग-अलग पद पर सरकारी नौकरियां निकालता है। जिसमें से हर साल रेलवे में टिकट कलेक्टर के पद पर भी नौकरियां निकलती है। इसके लिये रेलवे “टिकट कलेक्टर” पद के लिये एक परीक्षा लेता है जों काफी कठिन होती है। हर साल लाखों कि तादाद में नौजवान इस परीक्षा को देते है लेकिन उसमें से कुछ गिने चुने ही इस परीक्षा को पास कर पाते है।

इसलिए अगर आप भी रेलवे विभाग में “टिकट कलेक्टर” के पद पर सरकारी नौकरी प्राप्त करना चाहते है। तो आपको इसके लिये कड़ी मेहनत करनी होगी। रेलवे में टिकट कलेक्टर पद के लिये आपको मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा में किसी भी विषय से 50 प्रतिशत अंक से पास करना जरूरी है। तभी आप इस परीक्षा के लिये आवेदन कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: आईपीएस बनने के लिए योग्यता?

शैक्षणिक योग्यता

रेलवे में “टिकट कलेक्टर” पद के लिये आपको किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12वीं कक्षा में किसी भी विषय से 50 प्रतिशत अंक से पास करना जरूरी है। इसके अलावा अगर आपने ग्रेजुएशन कि है तो तब भी आप इस पद के लिये आवेदन कर सकते हैं। साथ की इस पद के लिए बारहंवी में कोई विशेष Stream होना भी जरूरी नहीं है।

आयु सीमा

भारतीय रेलवे भर्ती बोर्ड में “टिकट कलेक्टर” पद के लिये उम्र सीमा कि बात करें तो इसके लिये लाभार्थी कि न्यूनतम आयु सीमा 18 वर्ष और अधिकतम आयु सीमा 30 वर्ष से अधिक नहीं होनी चाहिए। इसके आलावा अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति में आने वाले सभी लाभार्थियों को सरकार कि तरफ से उम्र में छूट का प्रवधान भी है। जिसका लाभ आवेदन करने वाले उठा सकते हैं।

रेलवे टिकट कलेक्टर भर्ती कि प्रक्रिया

भारतीय रेलवे बोर्ड हर साल भारत के अलग – अलग राज्यों में भर्ती का आयोजन करता है। इसके लिये आपको रेलवे भर्ती के समाचार पर हमेशा नजर बनाये रखना जरूरी है। रेलवे विभाग में टिकट कलेक्टर पद के लिये रेलवे द्वारा परीक्षा का आयोजन किया जाता है।

जिसे आपको पास करना होता है। परीक्षा में पास होने के बाद एक इंटरव्यू लिया जाता है। अगर आप इंटरव्यू को भी पास कर लेते है, तो फिर आपके सभी डॉक्यूमेंट वेरीफाई होते है। अगर आपके डॉक्यूमेंट में कोई भी कमी नजर नहीं आती है तो आपका रेलवे विभाग में “टिकट कलेक्टर” के पद पर चयन निश्चित है।

टिकट कलेक्टर बनने के लिये परीक्षा कि तैयारी कैसे करें?

अगर आपको रेलवे में “टिकट कलेक्टर” कि नौकरी करनी है तो उसके लिये आपको कड़ी मेहनत करनी होगी। आपको टिकट कलेक्टर कि परीक्षा के लिये अच्छे से पढ़ाई करनी होगी और ज्यादा से ज्यादा समय पढ़ाई को देना होगा। इसके साथ ही हमने नीचे कुछ टिप्स देने कि कोशिश कि है। जिसको फॉलो करके आप टिकट कलेक्टर पद कि परीक्षा को पास कर सकते हैं।

  • टिकट कलेक्टर कि परीक्षा को पास करने के लिये आपको गणित और रीजनिंग के सवाल कि अधिक से अधिक प्रैक्टिस करनी होगी।
  • प्रतिदिन इंग्लिश करंट अफेयर्स न्यूज पढें।
  • जो भी आप पढ़ रहे हैं उसके नोट्स बनाकर तैयार करें।
  • पिछले 4 से 5 साल के “टिकट कलेक्टर” कि परीक्षा में आये प्रश्न को हल करें।
  • टिकट कलेक्टर कि परीक्षा में आये सिलेबस पर ध्यान दें और उसी के आधारित पर आगे कि रणनीति बनाये।

रेलवे में टिकट कलेक्टर का वेतन

अगर आपका रेलवे में टिकट कलेक्टर के पद पर सेलक्शन होता है तो आपको रेलवे बोर्ड कि तरफ से हर महीने 35 हजार से 40 हजार तक कि सैलेरी मिलती है। इसके अलावा अन्य सरकारी कर्मचारियों कि तरह आवेदक को भी वह सब सुख-सुविधाएं मिलती है। जो सरकार कि तरफ से अन्य सरकारी कर्मचारियों को मिलती है। जिसमें डीए के अलावा रहने के लिये सरकारी आवास भी दिया जाता है। इसके अलावा रेल में सफर भी फ्री होता है।

इसे भी पढ़ें: रेलवे में सबसे ज्यादा सैलरी किसकी होती है?

Conclusion

आपको हमने अपने इस आर्टिकल में ” Railway में ticket collector कैसे बनें?”। के बारे में बताने कि कोशिश कि है। उम्मीद करता हूँ कि आपको हमारी ये पोस्ट पसंद आयी होगी और अगर आपको “Ticket collector kaise bane” से संबधित कोई भी सवाल है। तो हमें कमेंट करके जरूर बताये। हम आपके सवाल का जवाब देने कि कोशिश करेंगे।

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

स्टार पर क्लिक करके हमें बताये!

औसत रेटिंग 4.5 / 5. कुल वोट 275

उम्र में युवा और तजुर्बे में वरिष्ठ रोहित यादव हरियाणा के रहने वाले हैं। पत्रकारिता में डिग्री रखने के साथ इन्होंने अपनी सेवाएं कई मीडिया संस्थानों को दी हैं। फिलहाल ये पिछले लंबे समय से अपनी सेवाएं 'All in Hindi' को दे रहे हैं।

Leave a Comment