Trading se paise kaise kamaye | ट्रेडिंग से पैसे कैसे कमाए?

4.8
(295)

ट्रेडिंग कैसे की जाती हैं?

Trading se paise kaise kamaye; ट्रेडिंग हमारे देश में पैसा कमाने वालों के लिए सबसे बेहतरीन जरिया होता है। कहा जाता है कि इसके अंदर यदि आपकी किस्‍मत साथ दे तो आप एक रात में कई लाख रूपए तक कमा सकते हैं। लेकिन सिक्‍के का दूसरा पहलू ये भी है कि यदि आपकी किस्‍मत साथ ना दे तो आप एक रात में लाखों रूपए गंवा भी सकते हैं।

इसलिए यदि आप समझना चाहते हैं कि ट्रेडिंग से पैसे कैसे कमाएं तो हमारे इस लेख को अंत तक पढि़ए। अपने इस लेख में हम आपको ट्रेडिंग के बारे में के बारे में विस्‍तार से जानकारी देंगे। साथ ही ट्रेडिंग के पीछे का वो काला सच भी बताएंगे जिसे अक्‍सर लोग बताने से बचते हैं। तो चलिए शुरू करते हैं Trading se paise kaise kamaye

ट्रेडिंग क्‍या होती है?

Trading se paise kaise kamaye इस बारे में हम आपको जानकारी दें इससे पहले आइए एक बार हम आपको बताते हैं ट्रेडिंग क्‍या होता है।। ट्रेडिंग एक तरह से बेहद कम समय के लिए अपना पैसा लगाना होता है। जिसकी समय अवधि कुछ घंटों से लेकर कुछ हप्‍तों तक भी हो सकती है। इसके अंदर आपको एक आकलन करना होता है कि फलां कंपनी आज शाम तक ऊपर उठेगी या नीचे। इसकी आकलन के आधार पर आप ट्रेडिंग करके अपना पैसा लगा देते हैं।

यदि आपका ये आकलन सही रहता है तो एक तरह से आपकी आपकी आमदनी हो जाती है। लेकिन यदि यही आकलन गलत साबित होता है, तो आपका अनुमान गलत माना जाता है और आपको ट्रेडिंग में नुकसान उठाना पड़ता है। Trading se paise kaise kamaye इसका जवाब भी इसी बात में छिपा है।

इस काम को शेयर बाजार के जरिए किया जाता है जो सोमवार से शुक्रवार को सुबह 9 बजकर 15 मिनट पर खुलता है और शाम को 3 बजकर 30 मिनट पर बंद हो जाता है। इसे आप नैशनल स्‍टॉक एक्‍सचेंज (NSE) और बॉम्‍बे स्‍टॉक एक्‍सचेंज (BSE) के जरिए कर सकते हैं। शेयर बाजार की सारी जानकारी इनकी वेबसाइट पर आप देख सकते हैं।

इनवेस्‍टमेंट क्‍या होती है? (Investment Kya Hai)

ट्रेडिंग के साथ ही आपने इनवेस्‍टमेंट (Investment) का नाम भी सुना होगा। यह भी एकदम ट्रेडिंग की तरह ही होती है। इसके अंदर भी आपको बाजार का आकलन करना होता है। जिसके अंदर आप कई सालों के लिए अपना पैसा इनवेस्‍ट (Invest) कर सकते हैं।

माना जाता है कि इसके अंदर ट्रेडिंग से बहुत कम जोखिम होता है। लेकिन जोखिम से इंकार भी कभी नहीं किया जा सकता है। हालांकि, इसके अंदर आपको मुनाफा होने में काफी लंबा समय लग जाता है। जो कि पांच से दस साल तक भी जा सकता है। यदि आपका सवाल है Trading se paise kaise kamaye तो आप इनवेस्‍टमेंट करके भी आसानी से कमा सकते हैं।

ट्रेडिंग से पैसे कैसे कमाए

ट्रेडिंग और इनवेस्‍टमेंट में अंतर

आइए आपको आगे हम क्रिकेट मैच के उदाहरण के जरिए समझाते हैं कि ट्रेडिंग और इनवेस्‍टमेंट में क्‍या अंतर होता है। जिससे आप और आसानी से समझ सकते हैं कि Trading se paise kaise kamaye

ट्रेडिंग क्‍या होता है: यदि हम एक क्रिकेट मैच की तरह देखें तो ट्रेडिंग एक 20-20 मैच की तरह होती है। जिसके अंदर केवल म‍ाहिर खिलाड़ी ही मैदान में उतारे जाते हैं। जिनके ऊपर दारोमदार होता है कि हर गेंद पर चौका या छक्‍का लगाकर मैच जितवा दें।

यदि वो बीस ओवर में कुछ नहीं कर पाए तो एक तरह से पूरा मैच उनके हाथ से‍ निकल जाएगा। यही वजह होती है कि हमेशा 20-20 मैच के अंदर केवल अनुभवी खिलाड़ी की उतारे जाते हैं। लेकिन संयोग देखिए कि कई बार वो भी गलती कर बैठते हैं और उनकी गलती के चलते पूरा मैच हाथ से निकल जाता है।

इनवेस्‍टमेंट क्‍या होती है: इनवेस्‍टमेंट एक टेस्‍ट मैच की तरह होती है। जिसमें ये जरूरी नहीं होता है कि आप हर गेंद पर चौका या छक्‍का ही लगाएं। लेकिन ये जरूरी होता है कि आप मैदान में बने रहें। सही मौका आते ही चौका दक्‍का लगा दें। यहां आपको गेंद की कमी नहीं रहती है। इनवेस्‍टमेंट में एक तरह से आपको किसी तरह की जल्दबाजी नहीं दिखानी होती है। आप यदि धीरे धीरे भी अपना काम कर रहे हैं तो अंत में मैच पर आप पूरी तरह से कब्‍जा कर सकते हैं। लेकिन जिस तरह से क्रिकेट मैच में कई बार सारे गणित फेल हो जाते हैं। शेयर बाजार भी उसी तरह से है।

इसे भी पढें: बिटकॉइन कैसे खरीदें?

पैसा लगाने के पहले क्‍या देखें?

आगे हम आपको तीन गुरू मंत्र बताने जा रहे हैं। जिसे आप कहीं भी पैसा लगाने से पहले एक बार जरूर देख लें। चाहे आप किसी भी जगह अपना पैसा इनवेस्‍ट (Invest) क्‍यों ना कर रहे हों।

Liquidity

Liquidity से मतलब ये होता है कि आपने जो पैसा लगाया है उसे कितनी जल्‍दी अपने हाथ में दोबारा वापिस हासिल कर सकते हैं। जैसे कि आपने कहीं पांच लाख लगा दिए और अचानक आपको उन पैसों की जरूरत पड़ जाती है तो आप उसे कितने समय में दोबारा से पा सकते हैं। भले ही आपने वो पैसा कहीं लगा दिया हो, पर मजबूरी में पैसा निकालना भी पड़ सकता है।

इसके अंदर सबसे बेहतर बैंक को बताया जाता है। क्‍येंकि बैंक में आपने जो पैसा जमा किया है। उसे आप किसी भी समय जाकर Cash में बदलवाकर अपने घर ला सकते हैं। Trading se paise kaise kamaye में भी ये नियम प्रभावी होता है।

Risk

इसके बाद आपको देखना होता है कि आपने जो पैसा लगाया है उसके अंदर कितना जोखिम है। यानि कि आपने कहीं पांच लाख रूपए लगा दिए जो कि पूरे पांच साल के लिए हैं। जिसमें आपको बताया गया है कि पांच लाख रूपए पांच साल बाद आपको आठ लाख होकर दिए जाएंगे।

लेकिन एक रिस्‍क भी होता है कि हो सकता है कि आपके सारे पैसे भी डूब जाएं। आपको यहीं देखना होता है कि यदि बाजार का माहौल सही नहीं रहा तो आपको कितना नुकसान उठाना पड़ सकता है। क्‍या आपका मूल पैसा सही सलामत मिल सकता है या नहीं। इसके अंदर बैंक की FD का नाम सबसे पहले लिया जाता है। क्‍योंकि बैंक की तरफ से की गई एफडी (Fixed Deposit) पर आपको जो ब्‍याज दर बताई गई है, वो हर हाल में दी जाएगी। भले ही बैंक को नुकसान क्‍यों ना उठाना पड़े। यदि बैंक बंद भी हो जाता है तो आपके पैसों का भुगतान सरकार खुद करेगी।

Return

अंत में आपको देखना होता है कि आप जो पैसा लगा रहे हैं उस पर कितने गुना होकर आपको मिलेगा। यही सबसे अहम बात होती है। क्‍योंकि इसी में आपको फायदा होगा। यदि आपके पैसे दोगुने होकर मिलते हैं तो आपको पैसा लगाने का दोगुना फायदा होगा।

लेकिन इसके अंदर जोखिम भी होता है। क्‍योंकि आपको समझने और समझाने में कई बार गलती हो जाती है और अंत में आपको नुकसान हो जाता है। जिसे हम लोग आम भाषा में Term & Condition कहते हैं। Trading se paise kaise kamaye इसे जानने के लिए आपको Term & Condition ध्‍यान से पढ़नी होती है।

ट्रेडिंग के प्रकार

यदि आप जानना चाहते हैं कि Trading se paise kaise kamaye तो इसके भी कई प्रकार होते हैं। जिन्‍हें समझकर ही आप जान सकते हैं कि ट्रेडिंग से पैसा कैसे कमाएं।

Scalping Trading

यह सबसे पहले प्रकार की ट्रेडिंग होती है। इसके अंदर लोग केवल कुछ सेकिंड या मिनट के लिए अपना पैसा लगाते हैं। इस तय समय के अंदर ही उन्‍हें अपना अनुमान जाहिर करना होता है किे आगे क्‍या होने वाला है। यदि आपका अनुमान सही रहता है तो आपको फायदा होता है। अन्‍यथा आपको नुकसान उठाना पड़ता है। कहा जाता है कि इस तरह की ट्रेडिंग में सबसे ज्‍यादा जोखिम होता है। इसलिए इस तरह की ट्रेडिंग में केवल माहिर खिलाड़ी ही हाथ आजमाते हैं।

Intraday Trading

यह दूसरे प्रकार की ट्रेडिंग होती है। इसके अंदर आपको बाजार खुलने और बंद होने के बीच ट्रेडिंग करनी होती है। इसका समय सुबह 9 बजकर 15 मिनट पर शुरू होता है। जबकि दोपहर को 3 बजकर 30 मिनट पर समाप्‍त होता है। शनिवार और रविवार को आप इस तरह की ट्रेडिंग नहीं कर सकते हैं। इसके अंदर आम तौर पर कम जोखिम माना जाता है। इस वजह से इसके अंदर काफी लोग काम करते हैं।

Swing Trading

यह ट्रेडिंग सबसे बेहतर बताई जाती है। इसके अंदर आपको कुछ हप्‍तों के लिए शेयर खरीदना होता है और उसे बाद में बेच देना होता है। इसकी खास बात यै है कि इसके आपको नियमित तौर पर शेयर बाजार के भाव नहीं देखने पड़ते हैं। इसलिए जो लोग पार्ट टाइम (Part Time) ट्रेडिंग करना चाहते हैं। वो इस तरह की ट्रेडिंग कर सकते हैं। स्‍कूल और कॉलेज के छात्र और नौकरी पेशा से जुड़े लोग इसमें सबसे ज्‍यादा पैसा लगाते हैं।

Positional Trading

यह सबसे कम जोखिम वाली ट्रेडिंग होती है। इसके अंदर शेयर कुछ महीनों के लिए खरीद लिए जाते हैं। जिसके बाद जब वो समय पूरा हो जाता है तो उसे दोबारा से खोलकर देखा जाता है। उस समय के बाजार के हिसाब से तय होता है कि शेयर खरीदने वाले को फायदा हुआ है या नुकसान।

इसकी खास बात ये है इसके अंदर बाजार में रोजाना के उतार चढ़ाव के कोई खास फर्क नहीं पड़ता है। इसलिए शेयर खरीदने वाला तनाव मुक्‍त रहता है। यदि आप एकदम नए नए हैं और जानना चाहते हैं कि Trading se paise kaise kamaye तो आप इसका प्रयोग कर सकते हैं।

इसे भी पढें: NFT क्‍या है? | NFT से कैसे कमायें लाखों

Investment के प्रकार

जिस तरह से आपने जाना कि ट्रेडिंग के कई प्रकार होते हैं उसी तरह से इन्‍वेस्‍टमेंट के भी कई प्रकार होते हैं। आइए सभी प्रमुख प्रकार की इनवेस्‍टमेंट को समझते हैं।

Gold Investment

इनवेस्‍टमेंट के भी कई प्रकार होते हैं। इसके एक प्रकार ये है कि आप सोने में निवेश कर दें। यानि कि आप जब सोना सस्‍ता हो तो आप सोना खरीद लें। इसके बाद जब सोना महंगा हो तो आप उसे बेच दें।

खास बात ये है कि आज के समय कई कंपननियां अपने ग्राहकों को लॉकर भी प्रदान करती हैं। यानि कि आपको सोना खरीदकर घर नहीं लाना होगा। केवल लॉकर में जमा कर देना होगा। इसके बाद आपका जब मन कहे उसे बेच दीजिए। यह पूरी तरह से सुरक्षित भी है। साथ ही ये सारा काम आप ऑनलाइन ही कर सकते हैं।

Land Investment

यदि आप सोना नहीं खरीदना चाहते हैं तो आप जमीन के अंदर भी अपना पैसा निवेश कर सकते हैं। इसके अंदर आपको किसी ऐसी जगह पर जमीन खरीदकर छोड़ देनी होगी। जिसका कि आने वाले में भाव बढ़ने की संभावना है।

अब आप कई साल तक इंतजार कीजिए। इसके बाद आपको जैसे ही लगता है कि अब वो समय आ गया है कि जमीन अपने सबसे ऊंचे दाम पर पहुंच चुकी है। तो आप उसे बेच दीजिए। इसकी खास बात ये है कि यह कई सालों के लिए इनवेस्‍टमेंट होती है। साथ ही इसके अंदर कई बार आपका अंदाजा गलत भी हो जाता है। जिससे आपको नुकसान उठाना पड़ता है। इसके अलावा जमीन खरीदने और बेचने की लंबी कागजी प्रक्रिया होती है। जिसमें समय का भी नुकसान होता है।

Fixed Deposit (FD)

इनवेस्‍टमेंट का सबसे बेहतर और सुरक्षित तरीका एफडी (Fixed Deposit) को माना जाता है। जो कि बैंक में की जाती है। इसके अंदर आपको अपना पैसा बैंक में एक साल से लेकर दस के बीच में जमा कर देना होता है। जिस पर बैंक की तरफ से एक निश्चित ब्‍याज दर दी जाती है।

इसके बाद जब आप वो पैसा निकलवाते हैं तो आपको उतने प्रतिशत वो बढ़ा हुआ मिलता है। इसकी खास बात ये होती है कि इसके अंदर पैसा डूबने का किसी तरह का जोखिम नहीं होता है। साथ ही जब आपका मन कहे तो बीच में भी पैसा निकवा सकते हैं। हालांकि, बीच में पैसा निकलवाने पर आपको पूरा ब्‍याज नहीं दिया जाएगा। देश की सबसे बड़ी आबादी अपना पैसा इसी में निवेश करती है।

Share Market Investment

इनवेस्‍टमेंट के जरिए यदि कोई बहुत ज्‍यादा लाभ कमाना चाहता है। तो वह शेयर बाजार की तरफ चला जाता है। यह सबसे फायदेमंद और जोखिम भरा बाजार होता है। इसलिए भारत के केवल 4 प्रतिशत लोग ही शेयर मार्केट में इनवेस्‍टमेंट करते हैं। जबकि अमेरिका के 50 प्रतिशत लोग शेयर बाजार में पैसा लगाते हैं।

इसके अंदर आपको किसी कंपनी के शेयर खरीदने होते हैं। जो कि आप पांच से लेकर पचास साल तक के लिए खरीद सकते हैं। शेयर खरीदने से पहले आपको कंपनी के कामकाज और उसके भविष्‍य के बारे में सोचना होता है। यदि आपको लगता है कि आने वाले कुछ सालों में इस कंपनी में बढ़ोत्‍तरी देखने को मिलेगी। तो आप उसके शेयर खरीद कर रख लेते हैं। इसके कुछ सालों बाद आप जब वो बाजार में काफी बढ़ जाते हैं। तो आप उसे बेचकर भारी मुनाफा कमा लेते हैं। लेकिन इसके अंदर आपको लंबे समय के लिए अपना पैसा निवेश करना होता है।

समझदार ट्रेडर कैसे बनें?

जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया कि ट्रेडिंग अपने आप में एक जोखिम भरा काम है। इसलिए शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करने से पहले आपको चाहिए कि आप ट्रेडिंग के बारे में अच्‍छे से समझ लें। इसके बाद आप शेयर बाजार की तमाम नई तरह की जानकारी हासिल कर लें।

समझने से हमारा तात्पर्य ये है कि आप इसे केवल एक सप्‍ताह समझ कर ये ना सोचें कि आपको ट्रेडिंग आ चुकी है। आपको चाहिए कि आप कई सालों तक इसका गहन अध्‍यन्‍न करें। इसके बाद ही किसी शेयर बाजार में ट्रेडिंग करने की शरूआत करें। यदि जोश में आकर आप बिना सोचे समझे ट्रेडिंग करना शुरू कर कर देते हैं। तो एक तरह से आप अपने पैसे किसी गहरे कुएं में ही डालने की तैयारी कर रहे हैं। कड़वा सच ये है कि इसी तरह से हमारे देश में हर साल लाखों लोग अपना पैसा गंवा देते हैं।

समझदार इनवेस्‍टर कैसे बनें?

यदि आप ट्रेडिंग की बजाय इनवेस्‍टमेंट करने जा रहे हैं। तो आपको चाहिए कि सबसे पहले बाजार में मौजूद सभी बड़ी कंपनियों के बारे में जानकारी हासिल कर लें। जैसे कि किसी कंपनी के आगे बढ़ने की सबसे ज्‍यादा संभावना कब होती है। वो कौन सी चीजें होती हैं। जिनके जरिए पता चलता है कि अब कंपनी आगे बढ़ेगी।

यदि आप इन सब चीजों को समझ लेते हैं तो आपको चाहिए कि आप किसी ऐसी कंपनी में अपना पैसा इनवेस्‍ट (Invest) कर दें। जिसकी कि आपको सबसे ज्‍यादा ऊपर उठने की संभावना लग रही है। सीखने और सिखाने का काम यहां भी कई सालों का समय लेता है। यदि आप किसी मोटिवेशनल विडियो (Motivation Video) का लेख के बहकावे में आकर अपना पैसा इनवेस्‍ट कर देते हैं। तो यहां भी आप अपना पैसा किसी गहरे कुएं में ही डालने जा रहे हैं।

इसलिए सोचने समझने के बाद जरूरी होता है कि आप अपनी भावनाओं पर भी संयम रखें। ऐसा ना हो कि आप खबरों या चार लोगों की बातों में अपना पैसा किसी कंपनी के शेयर खरीदने में लगा दें। और जब तक आपको सच्‍चाई समझ आए, तब तक बहुत देर हो चकी हो। क्‍यों‍कि बाजार माहौल देखकर नहीं चलता है।

कुछ जरूरी सावधानी

  • ट्रेडिंग और इनवेस्‍टमेंट में सबसे जरूरी सावधानी ये होती है कि आप कभी भी उधार या लोन का पैसा लेकर शेयर बाजार में ना लगाएं। भले की आपको पूरे फायदे ही उम्‍मीद हो। पर ये बाजार के ऊपर निर्भर करता है। यहां फायदे से नुकसान ही संभावना हमेशा बनी रहती है।
  • ट्रेडिंग और इनवेस्‍टमेंट एक दिन का खेल नहीं है। इसलिए ज्‍यादा पैसा कमाने की लालच में आप यहां अपना पैसा कभी ना लगाएं। यह भी एक प्रोफेशनल (Professional) लोगों का काम है।
  • पैसा लगाना और निकालना कभी दूसरों की सलाह लेकर नहीं करना चाहिए। इसलिए अपना पैसा लगाने और निकालने से पहले आपको चाहिए कि आप यदि पूरी तरह से संतुष्ठ हों तभी किसी तरह का निर्णय लें।
  • नए लोगों को ट्रेडिंग कभी नहीं करनी चाहिए। क्‍योंकि यह जोखिम के साथ बेहद समझदारी का खेल होता है। इसलिए यदि आप आधा अधूरा ज्ञान लेकर ट्रेडिंग शुरू कर देते हैं तो यह आपकी एक मूर्खता ही होगी।
  • ट्रेडिंग से पहले आपको अपनी भावनाओं पर भी संयम रखना होता है। क्‍योंकि यदि आप भावनाओं में आकर पैसा लगा देंगे। तो आगे चलकर आप नुकसान के भारी बनेंगे। क्‍योंकि बाजार भावनाओं से नहीं चलता है।
  • आपको पैसा लगाने के साथ अपने रिस्‍क पर भी ध्‍यान देना होगा। यानि कि आपके पास जितना भी पैसा है उसे कभी पूरा ना लगाएं। उसका कुछ हिस्‍सा अपने पास बचाकर रखें। ताकि हर हालात में आपकी जेब में पैसा बना रहे।
  • आप कभी भी एक ही कंपनी में पैसा इनवेस्‍ट ना करें। क्‍योंकि इससे यदि कंपनी डूबती है तो आपका एक साथ सारा पैसा डूब जाता है। इसलिए थोड़ा थोड़ा पैसा कई कंपनियों में इनवेस्‍ट करना ज्‍यादा सही माना जाता है।
  • लोग पैसा लगाते समय केवल फायदा ही देखते हैं। लेकिन हम आपको सलाह देंगे कि आप पहले नुकसान की संभावनाओं का आकलन करें। इसके बाद देखें कि आपको फायदा होने की कौन सी संभावनाएं बनती हैं।
  • एक सफल ट्रेडर या इनवेस्‍टर आप कभी विडियो या हमारा लेख पढ़कर नहीं बन सकते हैं। इसके लिए आपको शेयर बाजार से जुड़ी बहुत सारी किताबें पढ़नी होगीं। जो कि बाजार में आज के समय हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में उपलब्‍ध हैं। बाजार की असली समझ वहीं से विकस‍ित होगी।
  • ट्रेडिंग से पहले आपको मेंटली (Mentally) पूरी तरह से तैयार होना चाहिए। आप चाहे कितना भी अनुभव रखते हों। लेकिन हमें हर विपरीत हालात के लिए तैयार रहना चाहिए।
  • कभी भी शेयर बाजार में पैसा लगाकर आप ये ना समझें कि बस आप अब अमीर होने ही वाले हैं। जब आपके हाथ में पैसा आ जाए। तभी माना जाएगा कि आपको वाकई फायदा हुआ।

इसे भी पढें: पर्सनल लोन न चुकाने पर क्या होगा?

Conclusion

आशा है कि अब आप समझ गए होंगे कि Trading se paise kaise kamaye इसके बाद आप अपने अंर्तमन से निर्णय ले सकते हैं। कि आपको ट्रेडिंग की तरफ जाना चाहिए या इनवेस्‍टमेंट की तरफ। पैसा भी आपका है और निर्णय भी आपका होगा। इसलिए बिना सोचे समझे कभी कोई भी कदम ना उठाएं। यदि आपको हमारा ये लेख पसंद आया है तो इसे अपने दोस्‍तों के साथ ही अवश्‍य शेयर करें। साथ ही कमेंट बॉक्‍स में अपनी राय भी जरूर साझा करें।

Disclaimer

इस लेख में दी गई सारी जानकारी इंटरनेट और एक्‍सपर्ट के आधार पर दी गई है। इसलिए शेयर मार्केट में पैसा लगाने के पहले आप उस समय के शेयर बाजार का अच्‍छे से अध्‍यन्‍न कर लें। अन्‍यथा आपको नुकसान भी हो सकता है।

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

स्टार पर क्लिक करके हमें बताये!

औसत रेटिंग 4.8 / 5. कुल वोट 295

उम्र में युवा और तजुर्बे में वरिष्ठ रोहित यादव हरियाणा के रहने वाले हैं। पत्रकारिता में डिग्री रखने के साथ इन्होंने अपनी सेवाएं कई मीडिया संस्थानों को दी हैं। फिलहाल ये पिछले लंबे समय से अपनी सेवाएं 'All in Hindi' को दे रहे हैं।

Leave a Comment