देर रात तक पढ़ाई कैसे करें?

4.7
(382)

रात में पढ़ने का आसान तरीका

देर रात तक पढ़ाई कैसे करें: आज के समय आपने बहुत से बच्‍चों को देखा होगा कि वो दिन के साथ रात के दौरान भी अपनी पढ़ाई करते हैं। जबकि बहुत से छात्र दिन में अपने दूसरे कामकाज करते हैं, इसके बाद देर रात को वो अपनी पढ़ाई करते हैं। लेकिन बहुत से छात्र चाहते हुए भी ऐसा नहीं कर पाते हैं। क्‍योंकि वो जैसे ही पढ़ाई करने बैठते हैं। उन्‍हें नींद आने लगती है। बस उनके साथ हमेशा ऐसा ही चलता रहता है।

यदि आपके साथ भी ऐसा ही हो रहा है तो आप हमारे इस लेख को अंत तक पढि़ए। अपने इस लेख में हम आपको बताएंगे कि देर रात तक पढ़ाई कैसे की जा सकती है। रात को पढ़ाई हम किस तरह से करें कि हमें नींद ना आए।

Night Study क्‍या होती है?

Der raat tak padhai kaise Karen इस बारे में हम आपको जानकारी दें इससे पहले आइए एक बार हम आपको बताते हैं कि Night Study क्‍या होती है। दरअसल, इसे हम रात की पढ़ाई कहते हैं। पढ़ने का यह तरीका कई छात्रों के लिए बेहद प्रभावी रहता है। इसलिए वो हमेशा रात के दौरान ही पढ़ना पसंद करते हैं। साथ ही इसके कई फायदे भी होते हैं। इसलिए बहुत से छात्र जब भी परीक्षा करीब आ जाती है। तो रात में ही अपनी पढ़ाई पूरी करते हैं। ताकि परीक्षा में वो अच्‍छे अंक हासिल कर सकें।

रात को पढ़ाई कैसे करें

रात को पढ़ाई कैसे करें?

आइए आगे अब हम आपको देर रात तक पढ़ाई कैसे करें इससे जुड़ी जानकारी देते हैं। आगे हम आपको कुछ ऐसे तरीके बताने जा रहे हैं। जिन्‍हें आप जब भी रात में पढ़ाई करने बैठें तो उनका पालन अवश्‍य करें। इससे आप देर रात तक आसानी से पढ़ाई कर सकते हैं।

रोजाना योग करें

Der raat tak padhai kaise Karen इसका सबसे पहला तरीका ये है कि आप रोजाना योग करें। योग संभव ना हो तो आप सुबह के समय खुली हवा में घूमने चले जाएं। यदि आप देर से सो कर उठते हैं तो देर शाम को कुछ समय घूमने निकल जाएं। इसका फायदा ये होगा कि आपका शरीर और दिमाग पूरी तरह से खुला रहेगा। जिससे आलस्‍य आपके अंदर नहीं आएगा। यदि आप योग नहीं जानते हैं तो रामदेव की विडियो देखकर आप योग सीख सकते हैं।

देर रात तक पढ़ाई करने के लिए आप इसे रोजाना अपनाएं। इसके बाद आप देर रात को पढ़ाई करने बैठें तो आपको इसका लाभ अवश्‍य दिखाई देगा। क्‍योंकि आलस्‍य ही हमें रात में सोने पर मजबूर कर देता है।

इसे भी पढ़ें: Self Study Tips in Hindi

शाम को खाना खा लें

जब आप देर रात तक पढ़ाई करने बैठते हैं तो सबसे बड़ी गलती ये करते हैं कि आप पढ़ने से पहले खाना खा लेते हैं। इसके बाद आपके लिए बैठकर पढ़ना बेहद कठिन हो जाता है। लिहाजा आप सो जाते हैं। इसलिए आगे से आप हर रोज देर शाम को ही खाना खा लें। यदि आपके घर जल्‍दी खाना नहीं बना होता है। तो आप कभी भी रात के समय भरपेट खाना ना खाएं। कहने का मतलब ये है कि आप केवल उतना खाना ही खाएं जितने से आपकी भूख समाप्‍त हो जाए। साथ ही खाना खाने के बाद 15 से 20 मिनट आप घूम लें।

इसके अलावा आप चाहें तो पढ़ने के बाद भी अपना खाना दोबारा से गरम करके खा सकते हैं। लेकिन यदि आप पढ़ने से पहले भर पेट खाना खा लेते हैं, तो किसी भी तरह से संभव नहीं है कि आप देर रात तक पढ़ाई कर सकें।

Study Lamp से पढ़ाई करें

यदि आप रोजाना देर रात तक पढ़ाई करते हैं तो आपको चाहिए कि आप बाजार से एक स्‍टडी लैंप (Study Lamp) खरीद लाइए। आप हर रोज उसी की मदद से अपनी पढ़ाई कीजिए। क्‍योंकि कई बार हम घर ही ट्यूब लाइट में पढ़ाई करते हैं। जबकि उसकी रोशनी कम होती है। इसलिए उससे हमारी आंखों पर जोर पड़ता है और हमें नींद आने लगती है।

इसलिए जब आप रात को पढ़ने बैठें तो अपना स्‍टडी लैंप जला लें। इसके बाद आपकी आंखों पर जोर नहीं पड़ेगा। इससे आपको रात में भी ऐसा लगेगा जैसे कि आप दिन के समय पढ़ाई कर रहे हैं और आपको नींद नहीं आएगी। यदि आपके घर बार बार लाइट जाती है तो आप Study Lamp बैटरी वाला ही खरीदें। क्‍योंकि यदि रात में एक घंटा भी लाइट चली गई तो आपके ऊपर नींद हावी हो जाती है।

रात के समय आसान विषय पढ़ें

रात में पढ़ाई के दौरान नींद आने का एक कारण ये भी होता है कि कई बार हम रात को ऐसे विषय की पढ़ाई करने लगते हैं। जिससे हम हमेशा दूर भागते हैं। कहने का मतलब ये है कि जो हमें कठिन विषय लगता है। जैसे कि आपको यदि गणित (Math) और English विषय बेहद कठिन लगते हैं, तो आप इस विषय को रात के दौरान कभी ना पढ़ें। इसे दिन के समय ही पूरा पढ़ लें।

क्‍योंकि ये ऐसे विषय होते हैं जो कि आपके दिमाग को पूरी तरह से थका देते हैं। जिससे आपका आलस्‍य चरम सीमा पर पहुंच जाता है और आप सो जाते हैं। इसलिए आप रात के समय किसी आसान विषय को बचा कर रखें। हर रोज उन्‍हीं में से किसी विषय की पढ़ाई करें। इससे आपकी नींद आने की समस्‍या हल हो जाएगी।

दोपहर को सो जाएं

रात में यदि आपको नींद नहीं आती है या बहुत कम सो पाते हैं। तो आप दोपहर को कुछ घंटे सो सकते हैं। इससे आपको रात की पढ़ाई में काफी मदद मिलेगी। लेकिन इस बात का ध्‍यान रखें‍ कि ऐसा ना करें कि आप दोपहर को भी सो जाएं और रात को भी पढ़ाई ना करें। इससे आपको नुकसान ही होगा।

दोपहर को सोने का समय आप इस आधार पर तय कर सकते हैं कि आप रात को कितने बजे तक पढ़ते हैं और कितने घंटे आसानी से अपनी नींद पूरी कर पाते हैं। क्‍योंकि किसी भी छात्र के लिए अपनी नींद पूरी करना बेहद जरूरी है। बिना नींद पूरी किए आप पढ़ तो सकते हैं, पर उसका आपको किसी तरह का कोई लाभ नहीं होगा। इसलिए पढ़ाई के लिए कभी भी अपने शरीर के साथ जबरदस्‍ती ना करें।

सही समय का चयन करें

रात को पढ़ाई के दौरान सही समय का चयन करना बेहद जरूरी होता है। ऐसी गलती आप कभी ना करें कि कभी आप शाम को 6 बजे ही पढ़ने बैठ जाएं और कभी रात को 11 बजे पढ़ाई शुरू करें। इस तरह से आप कभी भी देर रात तक पढ़ाई नहीं कर सकते हैं।

साथ ही जरूरत इस बात की भी होती है कि आप देखें कि आपको रात पढ़ने में सही लगता है या सुबह सुबह ज्‍यादा सही लगता है। यदि आपकी तमाम कोशिश के बाद भी रात को पढ़ाई नहीं हो पाती है, तो कुछ दिन आप सुबह 3 बजे उठकर पढ़ने की कोशिश करें। संभव है कि आप सुबह बहुत अच्‍छे तरीके से पढ़ाई कर सकें। साथ ही आपको नींद भी ना आए। क्‍योंकि हर समय हर किसी के पढ़ने के लिए सही नहीं होता है।

लक्ष्‍य तय करके पढ़ें

जब भी आप रात के दौरान पढ़ाई करने बैठें तो इस बात को दिन के समय ही तय कर लें कि आपको आज रात को क्‍या पढ़ना है और उसे कहां तक पूरा करना है। इससे आपके दिमाग में हमेशा एक लक्ष्‍य रहेगा। जिसे ध्‍यान में रखकर आप अपनी पढ़ाई देर रात तक करेंगे। हालांकि, कभी भी ऐसा ना करें कि आप अपना लक्ष्‍य पूरा करने के लिए बिना मन के ही पढ़ाई किए जा रहे हों। ताकि आपका लक्ष्‍य जल्‍दी से जल्‍दी पूरा हो सके और आप सो सकें। इससे आपका ही नुकसान होगा।

पानी या चाय पीते रहें

रात में पढ़ाई के दौरान कई बार हम लगातार पढ़ते चले जाते हैं। खास तौर पर जब हम रात में पढ़ने की शुरूआत करते हैं। लेकिन हमें ऐसा नहीं करना चाहिए। यदि हम गर्मी के मौसम में पढ़ाई कर रहे हैं तो हमें अपने साथ ठंडा पानी (Cold Water) रखना चाहिए। साथ ही यदि हम सर्दी के मौसम में पढ़ाई कर रहे हैं तो आपको पढ़ाई के दौरान चाय (Tea) पी लेनी चाहिए।

यदि सर्दी में चाय संभव ना हो तो आप अपने साथ हल्‍का गरम पानी रखें। कभी भी सर्दी में एकदम गरम पानी ना पिएं। क्‍योंकि जैसे ही सर्दी में आप गरम पानी पीते हैं। तो आपका शरीर गरम हो जाता है और आपको नींद आने लगती है। यदि आपको डॉक्‍टर ने ठंडा पानी पीने से मना किया है तो फिर आप सर्दी में गरम पानी ही पिएं।

शरीर को कष्‍ट दें

बहुत से लोग सर्दी के मौसम में तो रजाई ओढ़कर पढ़ाई करते हैं। जबकि गर्मी के मौसम में बिस्‍तर पर लेटकर पढ़ाई करते हैं। ये तरीका एकदम गलत होता है। क्‍योंकि इससे आपके शरीर को आराम मिलता है और आपको नींद आने लगती है।

इसलिए आप कभी भी बहुत आराम दायक कुर्सी पर ना बैठें, रजाई ओढ़कर पढ़ाई ना करें। लेटकर तो बिल्‍कुल भी पढ़ाई ना करें। परेशानी तब होती है जब हम सर्दी के समय पढ़ाई कर रहे होते हैं। इसके लिए आप अच्‍छी तरह से कपड़े पहनने के साथ केवल उतना ओढ़ लें जिससे आप ठंड सहन कर सकें।

यदि आप बिल्‍कुल आराम दायक स्‍थिति में चले जाएंगे तो आपको दोबारा से नींद आने लग जाएगी। इसलिए इस बात को हमेशा ध्‍यान रखें कि सर्दी हो या गर्मी आपको हमेशा उस तरह से बैठकर पढ़ना है। जिससे आपके शरीर को आराम ना मिले। हालांकि, इसका मतलब ये भी नहीं है कि आप बिल्‍कुल कष्‍ट देकर पढ़ाई करें।

फोन से दूरी बनाकर रखें

कई बार हमारे साथ ऐसा होता है कि हम रात के समय किसी रिश्‍तेदार या दोस्‍त से बात करने लग जाते हैं और बात करते करते कब पूरी रात बीत जाती है। हमें पता ही नहीं चलता है। इसलिए यदि आपके पास भी बहुत सारे फोन या Whats app आते हैं तो पढ़ाई के दौरान या तो अपना फोन अपने घर में दे दें। या उसे बंद करके रख दें।

यदि आप फोन अपने घर में देकर पढ़ाई करते हैं तो उन्‍हें कह दें कि जिसका भी फोन आए उसे बता दें कि वो पढ़ाई कर रहा है। केवल जरूरी काम हो तभी आपसे बात करवाएं। ऐसा करना इसलिए भी जरूरी है क्‍योंकि जब आप रात के समय फोन पर बात करते हैं, तो आपको समय का बिल्‍कुल भी पता नहीं चलता है। ना ही फोन पर बात करते समय नींद आती है।

Online पढा़ई करें

रात में कई बार आपको नींद इसलिए भी आ जाती है क्‍योंकि आप अकेले अकेले पढ़ाई करते हैं। इसके लिए यदि आपके घर में छोटे भाई बहन हैं तो आप हमेशा रात में अपने साथ बैठकर उनको भी पढ़ने के लिए प्रेरित करें। इससे आप दोनों हमेशा एक दूसरे के सहारे देर रात तक पढ़ाई कर सकते हैं।

लेकिन यदि आप घर में अकेले पढ़ने वाले हैं तो आपको चाहिए कि आप ऑनलाइन की मदद लें। यदि आप ऑनलाइन किसी अध्‍यापक से पढ़ते हैं, तो आप बोर नहीं होंगे। लेकिन ध्‍यान ये रखें कि आप फोन या लैपटॉप पर केवल पढ़ाई ही करें। कई बार ऑनलाइन दुनिया में हम पढ़ाई के अलग दूसरी चीजों में इतने उलझ जाते हैं कि हमें पता ही नहीं चलता है कि कब हमारी पूरी रात खराब हो गई।

रात में पढ़ने के फायदे

  • देर रात तक पढ़ाई कैसे करें इसे जानने के बाद आपका सबसे बड़ा फायदा ये होगा कि आप अपना रात का समय पढ़ाई में लगा सकते हैं। जो कि अक्‍सर आप सोने में गवां देते थे।
  • रात में आपको कोई बाहरी या घर का आदमी परेशान नहीं करता है। इसलिए आप जितने भी घंटे पढ़ाई करते हैं, वो पूरी तरह से प्रभावी पढ़ाई मानी जाती है।
  • अगर आप दिन में कहीं नौकरी या किसी तरह का काम करते हैं, तो आप रात में पढ़ाई आसानी से कर सकते हैं। अन्‍यथा एक तरह से आपकी पढ़ाई बाधित हो सकती है।
  • जब भी आपकी कोई परीक्षा या सेलेब्‍स अधूरा रह जाता है, तो आप रात की पढ़ाई से ही उसे पूरा कर सकते हैं। क्‍योंकि दिन के समय आप कभी भी लगातार कई घंटे नहीं पढ़ाई कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: Online padhai kaise kare

Conclusion

आशा है कि अब आप समझ गए होंगे कि देर रात तक पढ़ाई कैसे करें Der raat tak padhai kaise Karen इसे जानने के बाद आप आसानी से रात को पढ़ाई कर सकते हैं। साथ ही अपनी परीक्षा में अच्‍छे अंक भी ला सकते हैं। यदि आपको हमारा ये लेख पसंद आया है, तो इसे आप अपने दोस्‍तों के साथ भी शेयर करें। साथ ही इससे जुड़ा आपका कोई सवाल या सुझाव है तो नीचे कमेंट करें।

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

स्टार पर क्लिक करके हमें बताये!

औसत रेटिंग 4.7 / 5. कुल वोट 382

उम्र में युवा और तजुर्बे में वरिष्ठ रोहित यादव हरियाणा के रहने वाले हैं। पत्रकारिता में डिग्री रखने के साथ इन्होंने अपनी सेवाएं कई मीडिया संस्थानों को दी हैं। फिलहाल ये पिछले लंबे समय से अपनी सेवाएं 'All in Hindi' को दे रहे हैं।

Leave a Comment