आर्ट्स में कौन कौन सी जॉब होती है? Arts subject Jobs list in hindi

4.8
(177)

आर्ट्स में कौन कौन सी जॉब होती है?

Arts subject Jobs list in hindi: दसवीं पास करते ही आज के युवाओं में सबसे ज्‍यादा पूछा जाने वाला सवाल यह है कि आगे उन्‍हें कौन से विषय के साथ जाना चाहिए। जिसमें उनका भविष्‍य उज्‍ज्‍वल हो सके। वे “आर्ट्स में कौन कौन सी जॉब होती है?” इस सवाल को इंटरनेट पर, सोशल मीडिया पर और अपने दोस्‍तों और अपने रिश्‍तेदारों तक से इस पर खूब चर्चा करते हैं।

लेकिन यदि आप भी इसी असमंजस में हैं कि आगे कौन सा विषय लिया जाए या आर्ट्स में कौन कौन सी नौकरी है? तो हमारा ये लेख आप अंत तक पढि़ए। अपने इस लेख में हम आपको बताएंगे कि यदि आप दसवीं के बाद Art Subject लेते हैं तो आपको आगे चलकर किन किन छेत्रों में नौकरियों के अवसर प्राप्‍त हो सकते हैं। साथ ही इस विषय को लेने के क्‍या फायदे हैं। और आर्ट साइड से सरकारी नौकरी कौन सी मिल सकती है।

‘Art Stream’ क्‍या होता है?

दसवीं के बाद जब हम आगे की कक्षा में दाखिला लेते हैं तो हमें एक विषय का चुनाव करना होता है। जिसमें हमारे सामने Art, Commerce और Medical, Non medical जैसे विषय होते हैं। सभी विषय का अपने क्षेत्र में विशेष महत्‍व होता है। लेकिन Art Stream इनमें से एक ऐसा विषय होता है जो कि हमें किसी विशेष क्षेत्र में पारंगत नहीं करता है।

इसके अंदर मिले जुले लगभग हर विषय होते हैं। बहुत से लोग इसे सबसे आसान और पढ़ाई में‍ कमजोर बच्‍चों का पसंददीदा विषय मानते हैं। लेकिन वास्‍तव में ऐसा कुछ नहीं है। विषय कोई भी हो नतीजा इस बात पर निर्भर करता है कि आप उसके ऊपर कितनी मेहनत करते हैं। ठीक उसी तरह जैसे अमेरिका वालों के लिए हिन्‍दी मुश्किल है और भारत वालों के लिए अंग्रेजी।

Art Stream लेने के फायदे

Art Stream लेने के अपने आप में कई फायदे हैं। इसका सबसे बड़ा फायदा तो ये है इसमें आपको हिंदी, अग्रेजी, राजनीति विज्ञान, समाजशास्त्र और पर्यावरण विज्ञान जैसे कई विषय पढ़ने को मिलते हैं जो कि हमारी आम दिनचर्या में आगे चलकर बहुत काम आते हैं। इन विषयों को पढ़ने के बाद यदि हम किसी भी क्षेत्र में जाते हैं तो आपका मानवीय पक्ष और चीजों को समझने का तरीका दूसरों से कहीं बेहतर होता है।

जबकि यदि हम दूसरे विषय की बात करें तो वहां आपको सीमित विषय पढ़ने को मिलते हैं। इसलिए यदि आप अपने अंदर बहुमुखी ज्ञान अर्जित करना चाहते हैं तो Art Stream लेने में कोई बुराई नहीं है। लेकिन यदि आप डॉक्‍टर या इंजीनियर बनना चाहते हैं तो इस विषय के साथ बिल्‍कुल ना जाएं।

ये भी पढ़ें: बच्चों को पढ़ाने के लिए कैसे प्रेरित करें?

आर्ट्स में कौन कौन सी जॉब होती है?

आगे हम आपको उन क्षेत्रों के बारे में बताने जा रहे जिन क्षेत्रों में Art Stream से पढ़े हुए बच्‍चों के लिए तमाम अवसर होते हैं। इनमें कुछ क्षेत्र ऐसे भी हैं जिनमें Art Stram से पढ़ने वालों को हमेशा दूसरों से ज्‍यादा फायदा रहता है। लेकिन हम यहां एक बात स्‍पष्‍ट कर दें कि आप जो भी बनना चाहते हैं उसके प्रति आपके मन में कोई संकोच ना हो और मेहनत से पीछे हटने वाले ना हों।

तो चलिए जानते है कि आर्ट्स में कौन कौन सी नौकरी है, जिसे आप प्राप्त कर सकते है। Arts subject Jobs list in hindi

आर्ट्स में कौन कौन सी नौकरी है

प्रशासनिक अधिकारी

आपको जान कर हैरानी होगी कि देश की सबसे कठिन परीक्षा कही जाने वाली UPSC की परीक्षा में हर साल सबसे ज्‍यादा Art विषय से पढ़े लोग ही देते हैं। यदि आप भी आगे चलकर केंद्र सरकार या राज्‍य सरकार में कोई अधिकारी बनने की इच्‍छा रखते हैं तो आप Art विषय ले सकते हैं। इसके बाद जैसे ही आप 3 साल की BA कर लेते हैं तो ऐसी परीक्षाएं देने के योग्‍य हो जाते हैं। इसमें आपके नंबर भी कम होने पर आवेदन कर सकते हैं। बस आपके अंदर मेहनत करने का जुनून होना चाहिए।

ये भी पढ़ें: जल्दी याद करने का आसान तरीका

वकील

यदि आप अदालत में बैठ कर न्‍याय और अन्‍याय की लड़ाई में सत्‍य के साथ खड़े होना चाहते हैं तो आप Art विषय के साथ जा सकते हैं। इसके लिए आपको आगे 12 वीं के बाद तीन या पांच साल का Law का कोर्स करना होगा। जिसके बाद आप पूरी तरह से वकील बनने के योग्‍य हो जाते हैं। साथ ही यदि आप अच्‍छा काम करते हैं तो सरकार में अधिवक्‍ता और जज् जैसे पदों तक जा सकते हैं। जो कि समाज में काफी सम्‍मानीय पद माने जाते हैं।

शिक्षक

यदि आपकी रूची बच्‍चों को पढ़ाने में है तो Art विषय लेकर आप आगे चलकर शिक्षक भी बन सकते हैं। इसके लिए आपको 12 वीं करने के बाद BA करनी होगी फिर B.ed करनी होगी। इसके बाद की प्रक्रिया आपके राज्‍य के ऊपर निर्भर करती है। यदि आप चाहे तो आगे चलकर MA और P.hd भी करके कॉलेज आदि के बच्‍चों को पढ़ा सकते हैं। लेकिन यहां ध्‍यान रखने वाली बात‍ ये होगी कि आपके पास जो विषय हैं आप उन्‍हीं में से किसी के शिक्षक बन सकते हैं। ऐसे में यदि आप Art Stream के साथ चलते हैं तो कभी भी Commerce और Science विषय नहीं पढ़ा सकते हैं।

मीडिया के क्षेत्र में

यदि आप समाचार चैनलों में एंकर, रिपोर्टर या कैमरामैन बनना चाहते हैं तो ये भी आप Art विषय के साथ ही बन सकते हैं। इसके लिए आपको 12 वीं करने के बाद 3 साल का Journalism का कोर्स करना होगा। यदि आप चाहे तो Journalism में MA भी कर सकते हैं। इसके बाद आपको प्रिंट मीडिया और TV चैनलों में आसानी से Job मिल सकती है। ये एक ऐसी नौकरी होती है जिसमें आप पैसे के साथ एक पहचान भी बना सकते हैं।

ये भी पढ़ें: पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र

Hotel Management

महिलाओं को खाना बनाने और खिलाने का खास शौक सबसे ज्‍यादा होता है। ऐसे में यदि आपको भी ये शौक है और आप इसी में‍ अपना भविष्‍य बनाना चाहती हैं तो आप Hotel Management के साथ जा सकती हैं। इसे यदि चाहे तो लड़के भी कर सकते हैं। क्‍योंकि आज के समय में कोई काम कोई भी कर सकता है, बस उसमें वो काम करने की लग्‍न होनी चाहिए।

ये कोर्स चार साल का होता है। साथ ही इसे Art विषय वाले आसानी से कर सकते हैं। बस ध्‍यान ये रखना होता है कि ये कोर्स कम शहरों में ही होता है। साथ ही इसकी फीस भी थोड़ी ज्‍यादा होती है। इसलिए यदि आपकी इसमें रूची हो तभी ये कोर्स करें।

फैशन डिजाइनर

यदि आपको समय के साथ लोगों के बदलते फैशन में रूची है। आपको जानाकारी है कि इन दिनों कौन सा फैशन मार्केट में चल रहा है और कौन सा जा रहा है। तो आप फैशन डिजाइनर बन सकते हैं। इसमें यदि आप महिला हैं तो महिलाओं की फैशन डिजाइनिंग कर सकती हैं। जबकि यदि आप पुरूष हैं तो पुरूषों के फैशन का काम कर सकते हैं।

इसके लिए आपको 12 वीं के बाद फैशन डिजाइनिंग में डिप्‍लोमा या डिग्री करनी होगी। इसे भी Art विषय वाले आसानी से कर सकते हैं। खास बात ये है कि इस क्षेत्र में आपको किताबी ज्ञान से ज्‍यादा वास्तविक ज्ञान की जरूरत पड़ती है। साथ ही यदि आपका नाम इस क्षेत्र में एक बार बन जाता है तो मनचाहा पैसा कमा सकते हैं।

Actor

यदि आप फिल्‍म में या टीवी सीरियल में आना चाहते हैं तो भी आप Art विषय ले सकते हैं। इस क्षेत्र में आपकी कामयाबी इस बात पर निर्भर करती है कि आप अपना काम कितने अच्‍छे से जानते हैं। साथ ही लोग आपको कितना पसंद करते हैं। इसके लिए आप एक्टिंग के अंदर कोई डिप्लोमा या डिग्री कर सकते हैं।

ये सभी कोर्स Art विषय लेने पर आसानी से किए जा सकते हैं। लेकिन इनकी खास बात ये है कि ये देश के चुनिंदा संस्‍थानों में करवाए जाते हैं और इनकी फीस भी लाखों में होती है। इसे करने के बाद आपको पहले छोटे काम मिलेंगे और आगे चलकर टीवी सीरियल और फिल्‍मों तक में भी काम मिल सकता है। इस काम में भी एक दिन आप मशहूर हो सकते हैं कि हर गली में आपको जानने वाले लोग मिल जाएंगे।

सरकारी नौकरी

यदि आपको ऊपर बताई गई तमाम नौकरियों मे से कोई Job पसंद नहीं आती है तो आप अंत में सरकारी नौकरी की तरफ भी जा सकते हैं। यदि आपने 12 वीं Art विषय से पास कर ली तो आप राज्‍य और केंद्र सरकार में तमाम पदों पर निकलने वाली भर्तियों में आवेदन कर सकते हैं।

इसमें खास तौर पर Railway, bank और SSC की Job लगातार आती रहती हैं। खास बात ये है कि ज्यादातर सरकारी नौकरी में आवेदन करने के लिए आपको सिर्फ 12 वीं पास भर होना चाहिए या न्‍यूनतम 55 से 60 प्रतिशत अंक मांगे जाते हैं। साथ ही यदि आप इसमें चयनित हो जाते हैं तो समाज में आपको अच्‍छी इज्‍जत और अच्‍छी सैलरी दी जाती है।

ये भी पढ़ें: इंग्लिश बोलने का आसान तरीका

विषय का चुनाव करते समय इन बातों का ध्‍यान रखें

अभी आपने जाना कि आर्ट्स में कौन कौन सी जॉब होती है? चलिए अब ये जान लेते है कि हमें विषय का चुनाव करते समय इन बातों का ध्‍यान रखना चाहिए।

  • कभी भी अपने दोस्‍तों के बहकावे में आकर या जल्‍दबाजी में विषय का चुनाव ना करें। बहुत बार हम सोच लेते हैं कि मेरे सभी दोस्‍त यही विषय ले रहे हैं इसलिए मैं भी वही ले लेता हूं। लेकिन आप एक बात याद रखिए कि जीवन में दोस्‍त तो बदले जा सकते हैं पर आपने जीवन की यदि गलत दिशा चुन ली तो उसे बदलना संभव नहीं है। इसलिए अपना निर्णय किसी दूसरे के कहने पर ना लें।
  • आज का समय प्रतिस्‍पर्धा का दौर है इसमें जो सबसे आगे रहता है वही अपने सपनों तक पहुंच पाता है। इसलिए विषय का चुनाव करते समय आप अपने भविष्‍य में क्‍या बनना चाहते हैं इस बात को जरूर ध्‍यान में रखें।
  • कुछ बच्‍चे समाज में ऊंचा उठने के के हमेशा मेडिकल विषय ले लेते हैं। लेकिन आप ऐसी भूल कभी ना करें। आपका ये काम आपको कुछ समय के लिए लोगों की नजरों में ला सकता है, पर जब आप आगे चलकर अच्‍छा नतीजा नहीं दे पाएंगे तो आपको शर्मिदा भी होना पड़ेगा।
  • आपने यदि शुरूआत में कोई विषय ले लिया है तो बीच में कभी भी उसे ना छोड़ें। यदि आप ऐसा करते हैं तो आप कहीं के नहीं रहेंगे। इसलिए समय के हिसाब से उसी क्षेत्र में बेहतर करने की कोशिश करें।

Conclusion

सफ़लता सिर्फ विषय के चुनाव पर ही नहीं अपितु आपकी रूचि पर भी निर्भर है। उदाहरण के लिए यदि आपका मन math की पढाई में लगता है और इतिहास में नहीं तो यहाँ समझदारी math की पढाई करने में है ना कि इतिहास।

इसलिए हमेशा विषय का चुनाव करते समय लम्बे समय का सोचें कि आपका टारगेट क्या है? क्या आप जिस विषय का चुनाव कर रहे है उसमे आपकी रूचि है? क्या इस विषय को लेकर आप अपना फ्यूचर बना सकते है?

“आर्ट्स में कौन कौन सी जॉब होती है?” इस लेख से यदि आपको अपने सवाल का जवाब मिल चूका है, तो आप हमें कमेंट करके बताये। और ये भी बताये कि आप किस विषय का चुनाव कर रहे है।

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

स्टार पर क्लिक करके हमें बताये!

औसत रेटिंग 4.8 / 5. कुल वोट 177

नमस्कार दोस्तों, मैं रवि "आल इन हिन्दी" का Founder हूँ. मैं एक Economics Graduate हूँ। कहते है ज्ञान कभी व्यर्थ नहीं जाता कुछ इसी सोच के साथ मै अपना सारा ज्ञान "आल इन हिन्दी" द्वारा आपके साथ बाँट रहा हूँ। और कोशिश कर रहा हूँ कि आपको भी इससे सही और सटीक ज्ञान प्राप्त हो सकें।

Leave a Comment