पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र | पढ़ाई में मन कैसे लगाएं 9 तरीके

4.3
(225)

पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र | पढ़ाई में मन कैसे लगाएं

पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र- दोस्तों क्या आप भी एक ऐसे विद्यार्थी हैं जिसका पढ़ाई में मन नहीं लगता और आपके मन में अक्सर कई तरह के सवाल जैसे मेरा पढ़ाई में मन नहीं लगता है मैं क्या करूं..? या पढ़ाई में मन कैसे लगाएं? सवाल उठते रहते हैं।

यदि आप भी अपनी इस समस्या का समाधान इंटरनेट पर खोजते रहते हैं। तो allinhindi की यह पोस्ट आपके लिए काफी मददगार साबित होने वाली हैक्योकि आज हम आपको पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र के साथ साथ यह बताएँगे कि आप पढ़ाई में मन कैसे लगाएं।

पढ़ाई में मन कैसे लगाएं

किसी व्यक्ति को अपने लाइफ में कुछ सीखने तथा सक्सेसफुल बनने के लिए मन लगाकर पढ़ना बहुत जरूरी होता है। सिर्फ पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र मात्र के जाप करने से कुछ नहीं होता।आज के समय में हर व्यक्ति  इस बात को बहुत ही अच्छे तरीके से समझता और जानता है, लेकिन बहुत कम ही लोग ऐसे हैं जो पढ़ाई के महत्व को ठीक तरह से समझ कर उसे मन लगाकर करते हैं।

अगर आप भी एक ऐसे व्यक्ति हैं जो पढ़ाई करना चाहता और अपनी लाइफ में सक्सेसफुल बनना चाहता है। लेकिन किसी कारणवश आपका मन पढ़ाई में नहीं लग रहा है तो आज की इस पोस्ट में हमआपको या बताएँगे कि पढ़ाई में मन कैसे लगाएं। जिनकी मदद से आप पढ़ाई को अपनी एक आदत के रूप में बनाकर उसे बहुत ही आसानी से कर पाएंगे। तो चलिए जानते हैं इन पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र के बारे में..

कुछ कारण जिनकी वजह से पढ़ाई में मन नहीं लगता

पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र जानने से पहले चलिए ये जान लेते है कि आखिर आपका या आपके बच्चे का मन पढाई में क्यों नहीं लगता।

जिस तरह से कोई वैद्य, किसी भी रोग का उपचार करने से पहले उस रोग के बारे में पूरी जानकारी करता हैं। ठीक उसी प्रकार किसी भी विद्यार्थी द्वारा अच्छे से पढ़ने और चीजों को याद करके पढ़ाई में मन लगाने के उपायों को जानने से पहले आपको उन कारणों को जानना बहुत जरुरी होता है।

जिनकी वजह से पढ़ाई के दौरान किसी विद्यार्थी का पढ़ाई में मन नहीं लगता है, क्योंकि यदि आप आज की इस पोस्ट में allinhindi द्वारा बताए गए उन कारणों पर ध्यान देंगे। तो बेशक ही आप जब भी पढ़ाई करने बैठेंगे तो आपका मन विचलित नहीं होगा।

जिससे आप अच्छे तरीके से चीजों को समझ व याद कर पाएंगे। वैसे तो पढ़ाई के दौरान उसमें मन न लग पाने और विचलित होने के 40 से भी अधिक कारण हो सकते हैं। लेकिन आज हम आपको कुछ ऐसे प्रमुख कारण बताएंगे जिनकी वजह से आपका पढ़ाई में मन नहीं लगता है। तो चलिए जानते हैं उन कारणों के बारे में…

ये भी पढ़े: घर बैठे पढाई कैसे करें?

टाईम टेबल का न होना

पढ़ाई में मन न लगने का सबसे पहला कारण है। पढ़ाई करते वक्त किसी भी तरह का निश्चित क्रम का न होना। यदि आप किसी भी वक्त कुछ भी पढ़ने की सोचते हैं, तो इससे आप पढ़ाई के लिए अपने दिमाग को एकाग्र नहीं कर पाते हैं।

मोबाइल फोन के कारण ध्यान भटकना

आज के इस वर्तमान डिजिटल युग में आपका मोबाइल, लैपटॉप तथा बहुत से डिजिटल साधन भी आपका ध्यान पढ़ाई के दौरान भटकाते हैं। इसके अलावा दोस्त, परिवार, टीवी तथा गेम्स भी आपका ध्यान भटकाते हैं ।

ये भी पढ़े: भारत के सबसे अच्छे कॉलेज | Top 10 Engineering, Medical, Law

विषय में रूचि की कमी

दोस्तों किसी भी काम को आप बेहतर तरीके से तभी कर पाते हैं। जब आपकी उस कार्य में रूचि होती है, ऐसा ही कुछ पढ़ाई करने में भी होता है। आप अपनी पढ़ाई को ठीक तरह से इसलिए भी नहीं कर पाते हैं, क्योंकि आप अपनी रुचि को पढ़ाई से जोड़ नहीं पाते हैं पढ़ाई करते वक्त अच्छे तरीके से रूचि कैसे बनाएं इसके बारे में हमने आपको आगे बताया हैं ।

ये भी पढ़ें: UP SI syllabus in Hindi

प्रेरणा न होना

किसी भी काम में सफल होने और उसे ठीक तरह से करने के लिए आपको एक सकारात्मक ऊर्जा की आवश्यकता होती है। यदि आप बिना किसी की प्रेरणा के बगैर पढ़ाई करते हैं, तो इससे लगातार पढ़ाई करते हुए जब आपको कुछ सकारात्मक परिणाम नहीं दिखता है,

जिसके फलस्वरूप धीरे-धीरे आपका पढ़ाई में मन नहीं लगता और नकारात्मकता आ जाती है। ऐसी ही स्थितियों में आपके अंदर सकारात्मकता का न होना भी, पढ़ाई में मन ना लगने का एक महत्वपूर्ण कारण हो सकता है।

मन स्थिर न होना

पढ़ाई करते वक्त एक समय में कई जगह पर फोकस करने की वजह से भी अक्सर आपका मन पढ़ाई में नहीं लगता है। क्योंकि पढ़ाई करते वक्त जब आप एक साथ ही कई विषयों पर फोकस करेंगे तो आपको 100% रिजल्ट नहीं प्राप्त होगा।

विषय का बेसिक ज्ञान न होना – अक्सर देखा जाता है कि किसी विद्यार्थी का मन पढ़ाई करने में इसलिए नहीं लगता है। क्योंकि जिस विषय को वह पढ़ना चाहता है, उसे उस विषय की बेसिक जानकारी नहीं होती है। जिस कारण उसे वह विषय कठिन लगता हैं। और वह ठीक तरह से पढ़ाई नहीं कर पाता है।

ये भी पढ़े: आर्ट्स में कौन कौन सी जॉब होती है?

अच्छे दोस्त न होना

पढ़ाई ना कर पाने के कारणों में से यह कारण मेरे हिसाब से सबसे बड़ा कारण हैं। बहुत से स्टूडेंट ऐसे होते हैं जो छोटे में तो पढ़ने में बहुत अच्छे होते हैं। लेकिन बड़े होने तक आपनी गलत संगत और अच्छे मित्र ना होने के कारण से पढ़ाई में मन लगा पाते हैं।

क्योंकि जब आप वह किसी वक्त पढ़ाई करने बैठ बैठते हैं, तो उस समय उनका कोई दोस्त उनकों दूसरे कामों को करने को कह कर। उनका मन पढ़ाई करने से हटा देता।

पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र व उपाय

दुनिया का कोई भी माता-पिता सैदव अपने बच्चे के भविष्य को लेकर चिंता में रहता है। और वह चाहते हैं कि उनका बच्चा पढ़ – लिख कर एक बेहतर भविष्य को प्राप्त करें। लेकिन अक्सर बच्चों द्वारा पढ़ाई में लापरवाही देखी जाती है जिससे माता-पिता का मन अशांत हो जाता है।

यदि आपके बच्चे का भी मन पढ़ाई में नहीं लग रहा है तो आप इस आर्टिकल में आगे बताए गए मंत्रों तथा उपायों की मदद से अपने बच्चों को जीवन को सकारात्मक दिशा में ले जा सकते हैं।

इसके साथ ही साथ यदि आप बड़े हैं, और आप पढ़ाई में मन लगाकर उसमें सफलता पाना चाहते हैं तो आपको इन उपायों तथा मंत्रों का जप जरूर करना चाहिए। तो चलिए जानते हैं इन सभी उपायों तथा पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र के बारे में..

  1. पढ़ाई में मन लगाने के लिए आपको नियमित ही हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए।
  2. बच्चों को दूध में शखंपुसपि डालकर सेवन कराने से वह चीजों को जल्दी स्मरण कर पाएगा।
  3. साढ़े सात सती के इटैलियन मूंगा चांदी का लॉकेट बनवा कर बच्चे को पहनाने से उसको पढ़ाई के दौरान आने वाला आलस नहीं होगा।
  4. इसके बाद यदि आपका बच्चा पढ़ाई के दौरान शरारत करता है। तो आपको उसे भैरव यंत्र सोमवार के दिन पहनाना चाहिए।
  5. इसके अलावा आप को पढ़ाई में मन लगाने के लिए निम्न मंत्रों को नियमित रूप से जप करना चाहिए।

ये भी पढ़े: इंटीरियर डिजाइनर कैसे बनें?

पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र

पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र

पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र

  • गुरु गृहन गए पढ़न रघुराई, अल्पकाल विद्या सब आई।
  • शारदायै नमस्तुभ्यं, मम ह्रदये प्रवेशिनी,परीक्षायांसमुत्तीर्णं,सर्व विषय नाम यथा।
  • ॐ शारदा माता ईश्वरी, मैं नित सुमरि तोय, हाथ जोड़ अरजी करूं विद्या वर दे मोय।

पढ़ाई में मन कैसे लगाएं 8 मददगार उपाय

1- टाईम-टेबल बनाये

पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र यह है कि टाइम table बनाकर पढाई करे, ठीक तरह से पढ़ाई करते हुए चीजों को समझने व उन्हें याद करने के लिए एक अच्छी समय सारणी( Time Table) का होना बहुत जरूरी होता है। आप अपनी क्लास में देख सकते हैं कि जो टाॅपर है वह हर काम को एक निश्चित समय पर करता है। चाहे वह पढ़ाई हो या रोजमर्रा के काम।

अपने इसी टाइम मैनेजमेंट के कारण ही वह क्लास का टाॅपर होता है। तो अगर आप भी अपनी पढ़ाई में मन लगाना चाहते हैं तो आपको अपनी पढ़ाई के लिए एक अच्छा सा टाइम टेबल का होना जरूरी होता है। इससे आपको बहुत सारे फायदे होगें।

जब आप टाईम टेबल बनाकर पढ़ाई करते हैं। तो इससे आपको ये पता होता है कि आपको कौन सा सब्जेक्ट कब पढना है। पढ़ाई को शुरू करते हुए अपने टाइम टेबल में आपको पहले छोटे छोटे गोल बनाने हैं और इन सभी छोटे छोटे गोल को पूरा करना है। इससे आपका पढ़ाई में धीरे-धीरे मन लगेगा और आप बोर भी नहीं होंगे।

2-लक्ष्य निर्धारित करें

जब भी आप किसी काम को करते हैं, तो उसके पीछे करने के लिए आपके पास एक लक्ष्य होता है। जिसकी वजह से आप उस काम को करते हैं, और ऐसा ही कुछ पढ़ाई के साथ भी होता है।

यदि आप एक ऐसे व्यक्ति हैं जिसका अपनी पढ़ाई या अन्य किसी भी काम के लिए किसी भी तरह का कोई निर्धारित लक्ष्य नहीं है आपको यह पता ही नहीं है कि आखिर आप पढ़ाई क्यों कर रहे हैं? पढ़ाई का आपके जीवन में क्या महत्व क्या हैं? बस आप किसी वजह से पढ़ाई करते जा रहे हैं।

अगर आप बिना किसी मंजिल को निर्धारित करें किसी वजह से बस चलते जा रहे हैं तो आपका चलना पूरी तरह से व्यर्थ होगा। इसलिए आप जब पढ़ाई करने बैठे तो आपको अपना एक लक्ष्य निर्धारित करना और उस जरूरत को निर्धारित करना है जिसे आप पढ़ाई करके पाना चाहते हैं इससे आपके लिए पढ़ाई करना बहुत ही आसान होगा।

3- इंटरनेट से दूर रहें

डिजिटल दौर के इस वर्तमान समय में अगर आप अपनी पढ़ाई को ठीक तरह से करना चाहते हैं। तो सबसे पहले आपको अपनी पढ़ाई से ध्यान हटाने वाली दुश्मन चीजों से दूर रहना हैं।

आपका मोबाइल फोन, टेलीविजन, गेम, सोशल मीडिया इन सभी चीजों से आपको बहुत सारे नुकसान होते हैं, जैसे जब आप इन इलेक्ट्रॉनिक यंत्र का इस्तेमाल करते हैं तो आप लंबे समय तक अपना कीमती वक्त इन बेकार की चीजों जैसे कि गेम खेलना, सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर दोस्तों के साथ चैटिंग करना और भी बहुत कुछ करके बर्बाद करते हैं। इसके अलावा यह आपके स्वास्थ्य पर भी बुरा प्रभाव डालते हैं।

4- गुप्र स्टडी करें

यदि आप एक ऐसे व्यक्ति हैं जो पढ़ाई करते समय बहुत जल्दी बोर होने लगते है। तो आपको अपनी पढ़ाई ग्रुप स्टडी में बैठकर कर अपने दोस्तों के साथ करनी चाहिए। जिससे पढ़ाई करते वक्त आप बीच-बीच में अपने दोस्तों के साथ हंसी मजाक भी कर पाएंगे । जिससे आपका मन पढ़ाई में लगा रहेगा। इसके साथ ही ग्रुप स्टडी करने से आपको बहुत सारे फायदे मिलते हैं।

गुप्र स्टडी करने के क्या फायदे हैं?

1- ग्रुप स्टडी करने से आप किसी भी प्रॉब्लम को लेकर एक अच्छा डिस्कशन कर पाते हैं। जिससे आपको अपनी प्रॉब्लम का हल ढूंढने में काफी सहायता मिलती है।
2- प्रतिस्पर्धा होने के कारण ग्रुप स्टडी करने से आप पढ़ाई के लिए और भी गंभीर हो जाते हैं।
3- डिस्कशन के दौरान आपको नए नए कांसेप्ट तथा जानकारियां जानने को मिलती है।
4- यदि किसी कारणवश आपको पढ़ाई के दौरान निराशा होती है तो आप अपने ग्रुप के अन्य लोगों से प्रेरणा भी ले सकते हैं।

5- नोट्स बनाकर पढ़ें

ठीक तरह से पढ़ाई करने और चीजों को किसी भी वक्त आसानी से याद करने के लिए आपको नोट्स बनाना चाहिए। इसके लिए आप दिन में जो भी पढ़े उसका एक conclusion तैयार करके महत्वपूर्ण बिंदुओं के रूप में नोट्स के रूप में लिख लेना है।

इससे आपको फायदा ये होगा, कि जब भी आपको एग्जाम के दौरान बहुत सारे चैप्टर र को पढ़ना होगा। तो आप उस चैप्टर को पूरा न पढ़ते हुए, इन नोट्स को पढ़कर बहुत आसानी से पूरा कोर्स का रिवीजन जन कर पाते हैं। इसके साथ में नोट्स बनाने से आपकी आपकी राइटिंग स्किल भी इंप्रूव होगी।।

6- योग करें

एक हेल्दी और पीसफुल लाइफ के लिए योग हर उम्र के व्यक्ति लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसी के साथ पढ़ाई में मन लगाने और पढ़ाई के प्रेशर को कम करने के लिए प्रत्येक विद्यार्थी को नियमित रूप से योगा करना चाहिए।

योग करने से आप के अंदर आपकी पढ़ाई के दौरान चीजों को याद करने और उनको समझने में आसानी व एकाग्रता बढ़ती है। साथ ही साथ योग करने से आपको मानसिक तथा अंदरूनी शारीरिक दोनों ही तरह की शक्तियां प्राप्त होती हैं।

अपने ब्रेन और बॉडी दोनों को ठीक तरह से शक्तिशाली बनाने तथा पढ़ाई में अपना मन लगाने के लिए आपको इन पांच योगासन को जरूर करना चाहिए।

  • प्राणायाम
  • सुखासन
  • दडासंन
  • एक पदासन
  • भुजंगासन

इन सभी योग को कैसे करना है? इसकी जानकारी आप इंटरनेट की मदद से ले सकते हैं।

7- पर्याप्त नींद लें

किसी भी स्टूडेंट को अपने दिमाग को मजबूत बनाने तथा ठीक से पढ़ाई करने के लिए पर्याप्त नींद का लेना बहुत जरूरी होता है। यदि आप किसी भी कारणवश अपने शरीर को एक पर्याप्त नींद नहीं दे पा रहे हैं तो आप कभी भी पढ़ाई करते वक्त अपना ध्यान पढ़ाई में नहीं लगा पायेगें।

और चीजों को याद करने और उन्हें समझने में आपको बहुत मुश्किल का सामना करना पड़ेगा। इस तरह, पढ़ाई करने के लिए और दिमाग को स्वस्थ रखने के लिए आपको अपनी जरूरत के हिसाब से प्रतिदिन 7 से 8 घंटे की नींद जरूर लेनी चाहिए।

8- Motivational विचारों को पढें

विद्वानों ने क्या खूब लिखा है कि प्रत्येक विद्यार्थी चाहे वह जिस उम्र का ही क्यों ना हो, के लिए पढ़ाई एक तरह की तपस्या है। जिसमें आपको कई तरह के वास्तविक संघर्षों का सामना करना पड़ता है।

ऐसे में इन संघर्षों के ऊपर काम करते हुए और उन्हें पीछे छोड़ते हुए ठीक तरह से पढ़ाई करने के लिए एक वास्तविक तथा प्रभावशाली प्रेरणा ( Motivation) की आवश्यकता होती है. इसलिए पढ़ाई करते हुए आपको अपने टाइम के हिसाब से वास्तविक मोटिवेशनल कहानियों तथा विचारों को पढ़ना चाहिए।

इसके साथ ही आपको सफल एवं महान व्यक्तियों की प्रेरणादायक जीवनी और तथा उनके विचारों को पढ़ना चाहिए। इससे आपको अपने नकारात्मकता वाले समय में एक प्रेरणा मिलेगी। इन सभी कहानियों को पढ़ने से आपकी रीडिंग स्किल भी बहुत ज्यादा इंप्रूव होगी।

अंतिम शब्द

दोस्तों आज अपने इस लेख में यह जाना पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र और पढ़ाई में मन कैसे लगाए। दोस्तों बिना कर्म किये फल नहीं मिलता, यदि मिलता भी है तो वह बस क्षणिक मात्र होता है। इसलिए पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र मात्र का जाप करने से कुछ नहीं होने वाला, आपको मेहनत भी करनी होगी।

आपको यह अवश्य ज्ञात होगा कि मेहनत का फल कभी न कभी किसी ना किसी रूप में अवश्य मिलता है। इसलिए मेहनत करते रहे। आपको यह लेख कितना उपयोगी लगा हमें यह अवश्य बताएं।

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

स्टार पर क्लिक करके हमें बताये!

औसत रेटिंग 4.3 / 5. कुल वोट 225

नमस्कार दोस्तों, मैं रवि "आल इन हिन्दी" का Founder हूँ. मैं एक Economics Graduate हूँ। कहते है ज्ञान कभी व्यर्थ नहीं जाता कुछ इसी सोच के साथ मै अपना सारा ज्ञान "आल इन हिन्दी" द्वारा आपके साथ बाँट रहा हूँ। और कोशिश कर रहा हूँ कि आपको भी इससे सही और सटीक ज्ञान प्राप्त हो सकें।

3 thoughts on “पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र | पढ़ाई में मन कैसे लगाएं 9 तरीके”

  1. Aapke gyan ne mujhe bahut motivete kiya thanq bhai love u bhai aap bahut unche utho bhai जय श्री राम🚩🚩

    Reply

Leave a Comment