अच्छा बिजनेस प्लान कैसे बनाएं | How to make a business plan in Hindi

4.2
(368)

How to make a business plan in Hindi: जीवन में किसी भी काम में सफल होने के लिए सबसे जरूरी होता है उसके लिए एक अच्‍छा सा प्‍लान बनाना। जीवन के नियम की तरह ही ठीक यही नियम बिजनेस में भी लागू होता है। आपके पास बिजनेस में जितना अच्‍छा प्‍लान होगा, आपका बिजनेस उतनी ही तेजी से आगे बढ़ेगा। इसलिए कोई भी बिजनेस शुरू करने से पहले सबसे जरूरी होता है कि आपके पास उसका एक अच्‍छा सा प्‍लान हो।

ऐसे में यदि आप भी समझना चाहते है कि बिजनेस प्लान कैसे बनाएं, तो हमारी इस पोस्‍ट को अंत तक पढि़ए। अपनी इस पोस्‍ट में हम आपको बिजनेस प्‍लान बनाने के बारे में कुछ बेहतरीन तरीके बताएंगे। उन्‍हें अपना कर आप किसी भी तरह के बिजनेस में आसानी से सफल हो सकते हैं।

Contents show

बिजनेस प्‍लान क्‍या होता है?

बिजनेस प्लान कैसे बनाएं इसके बारे में हम आपको जानकारी दें इससे पहले आइए एक बार हम आपको जानकारी देते हैं कि बिजनेस प्‍लान होता क्‍या है और इसका कितना महत्‍व है। तो हम बिजनेस प्‍लान को एक तरह से कह सकते हैं कि यह एक तरीके आपके आने वाले बिजनेस की रूपरेखा होती है। आप बिजनेस में कब क्‍या करने वाले हैं। अगर आपको नुकसान होता है तो आप उससे किस तरह से निपटेंगे। बस यही रूपरेखा आपका बिजनेस प्‍लान कहलाती है।

यदि हम इसके महत्‍व की बात करें तो इसे आप इस बात से समझ सकते हैं कि यदि आप किसी दिन सुबह उठें और ये तय ना करें कि आप आज दिनभर क्‍या काम करेंगे, तो आपका वो दिन कैसा जाएगा? यकीन्न आप जब शाम को बिस्‍तर पर आएंगे तो सोचेंगे कि आज का पूरा दिन ही खराब हो गया।

इससे आप समझ सकते हैं कि यदि आपके पास बिजनेस प्‍लान नहीं होगा, तो आप चाहे कितने भी साल तक बिजनेस करें। आपको अंत में उसमें किसी तरह से सफलता नहीं मिलेगी और आप अंत में कहते हुए पाए जाएंगे कि आपका सारा समय और पैसा बस बर्बाद हो गया।

How to make a business plan in Hindi

बिजनेस प्लान कैसे बनाएं?

आइए अब हम आपको बिजनेस प्लान कैसे बनाएं की पूरी जानकारी देते हैं। हम आगे आपको कई सारे बिंदु बताएंगे। इसलिए आप हर बिंदु को आराम से समझें। इसके बाद आप जिस भी तरह का बिजनेस करना चाहते हैं, तो इन बिंदुओं पर जरूर ‍विचार करें।

इसे भी पढ़ें:

सबसे पहले ‘ब्‍लू प्रिंट’ तैयार करें

How to make a business plan in Hindi सबसे पहले आपको किसी भी बिजनेस को शुरू करने में जिस काम को करना होता है। वो है उसका ब्‍लू प्रिंट तैयार करना। यानि आप केवल अपने दिमाग में ही बिजनेस प्‍लान ना बनाकर, उसकी रूपरेखा एक कागज पर लिखकर रख लें। यदि आप ये काम कंम्‍प्‍यूटर पर करते हैं तो कोशिश करें कि उसे दो जगह सेव रख लें। ताकि एक जगह से Delete हो जाने पर भी आपकी वो चीज सुरक्षित बची रहे।

इसमें आप अपने बिजनेस के हिसाब से हर वो बात लिख लें जो आने वाले समय में आपको करनी हो। साथ ही सप्‍ताह या महीने के टारगेट भी तय कर लें। क्‍योंकि टारगेट तय करने के बाद ही आप सही मायने में समझ पाएंगे कि आपने जो सोचा था। वो उस हिसाब से आप आगे बढ़ रहा है या नहीं।

Prime Location का चुनाव करें

आप जो भी बिजनेस करना चाहते हैं How to make a business plan in Hindi में सबसे पहले आप उसे शुरू करने की एक अच्‍छी सी जगह का चुनाव करें। अच्‍छी जगह आपको हमेशा महंगी मिलती है। इसलिए कभी इस लालच में ना रहें कि आपको सस्‍ती जगह में ही काम शुरू करना है।

क्‍योंकि अगर आपने सही जगह का चुनाव नहीं किया तो आप आगे चलकर चाहे कितना भी जोर लगा लें, पर आपको उसमें सफलता नहीं मिलेगी। क्‍योंकि सही मायने में आपके वहां वो ग्राहक ही नहीं मौजूद होंगे। जिन तक आप पहुंचना चाहते हैं। इसलिए बिजनेस को शुरू करने के लिए जगह के चुनाव में कंजूसी ना बरतें। लेकिन यहां हम एक बात और स्‍पष्‍ट कर दें कि यदि आप सीधे ग्राहक से लेन देन करते है तभी जगह का खास महत्‍व रहता है। अगर आप कोई फैक्‍ट्री आदि खोलना चाहते हैं तो जगह का चुनाव करने का अलग तरीका होता है।

Online या Offline माध्‍यम का चुनाव करें

जगह के चुनाव करने के बाद आपको तय करना होता है आप अपना बिजनेस ऑनलाइन करेंगे या ऑफलाइन करेंगे। या फिर आप दोनों माध्‍यम से करेंगे। How to make a business plan in Hindi में आज के समय इसका चुनाव बड़े ही सोच समझकर करना होता है। क्‍योंकि आज के समय ऑनलाइन बाजार काफी तेजी से आगे बढ़ रहा है।

इसलिए आप हमेशा उसी के साथ जाएं। जिसमें आपको लगे कि सही मायने में इसी के अंदर भविष्‍य है। क्‍योंकि बिजनेस कभी भी केवल वर्तमान को देखकर नहीं शुरू किया जाता है। हमेशा बिजनेस भविष्‍य की संभावनाओं को आधार बनाकर ही करना चाहिए। ताकि आगे चलकर आपको कई गुना ज्‍यादा मुनाफा हो।

बाजार की रिसर्च करें

How to make a business plan in Hindi में आपको चाहिए कि आप जो भी सामान को बनाना या बेचना चाहते हैं उसकी सबसे पहले बाजार में रिसर्च कर लें। ऐसा ना हो कि आप जो चीज बाजार में उतारना चाहते हैं उस चीज की वहां मांग ही ना हो। इससे आपका बिजनेस कभी तेजी नहीं पकड़ेगा।

उदाहरण के तौर पर आप यदि किसी गांव में जाकर शौरूम खोल देते हैं तो शायद वो वहां ना चले, लेकिन उसी गांव में जाकर आप छोटी छोटी कई दुकानें खोल देते हैं तो वो काफी ज्‍यादा फायदा देगी। क्‍योंकि गांव के लोग कभी शौरूम से सामान नहीं खरीदना चाहते। बिजनेस प्लान कैसे बनाएं में इसलिए आप वहां के लोगों से रिसर्च के दौरान मिलें।

उन लोगों को समझने की कोशिश करें। साथ ही जानें कि वो कौन सी चीज है जिसकी इन लोगों को जरूरत है। पर इन लोगों को ये चीज नहीं मिल रही है। बस उसी चीज पर अगर आप काम शुरू कर देते हैं तो आपका बिजनेस काफी तेजी से आगे बढ़ेगा।

हड़बड़ी में फैसला ना लें

बिजनेस प्लान कैसे बनाएं ये बात सबसे अहम है कि आप कभी भी कोई भी फैसला हड़बड़ी में ना लें। क्‍योंकि अक्‍सर जल्‍दबाजी में लिए गए फैसले पर बाद में हमें अहसास होता है कि वो फैसला गलत था। जिसका खामियाजा आज हमें उठाना पड़ रहा है। इसलिए बिजनेस से जुड़ा जब भी कोई बड़ा फैसला लेना हो तो उसके ऊपर कई लोगों की राय ले लें। साथ ही कई दिन तक अपने मन में विचार विमर्श कर लें।

इसके बाद भी यदि आपको लगता है कि हां ये फैसला लेना जरूरी है तो आप उसे लेने में देर ना करें। हालांकि यहां एक बात समझने की है कि कई फैसले जल्‍दी में लेने होते हैं। इसलिए यदि आपको तुरंत कोई फैसला लेना है तो आप उसे तुरंत भी ले सकते हैं। क्‍योंकि इसे ना लेने से तो वैसे भी आपका नुकसान ही होगा।

अनुभवी लोगों की नियुक्ति करें

बिजनेस अक्‍सर एक बहुत बड़ी टीम के साथ किया जाता है। बिजनेस प्लान कैसे बनाएं में आप अपने साथ काम करने के लिए जो टीम बनाने जा रहे हैं आपको चाहिए कि आप अपने साथ एक अनुभवी टीम रखें। क्‍योंकि एक अनुभवी टीम में जो लोग होंगे वो आपको हमेशा कुछ नया बताते रहेंगे। साथ ही आपके बिजनेस में वो अपने स्‍तर पर कभी नुकसान नहीं होने देंगे।

हालांकि, इस दौरान आप ये भी देखेंगे कि अनुभवी लोगों को रखने के लिए आपको ज्‍यादा पैसा भी खर्च करना होगा। लेकिन एक बात आप ध्‍यान रखिए कि यही लोग आपके बिजनेस में आगे चलकर पूंजी का काम करेंगे। इसलिए उन लोगों को सस्‍ते में कभी ना रखें जो कि आपके बिजनेस के ऊपर एक तरह से बोझ के रूप में काम करें।

अपनी टीम को खुश रखें

बिजनेस प्लान कैसे बनाएं में आपने अपने साथ काम करने के लिए जो भी टीम चुनी है। आपको चाहिए कि आप उसे हमेशा खुश रखें। अपनी टीम से हमारा मतलब ये कतई नहीं है कि केवल वो लोग जो आपके आसपास हमेशा मौजूद रहते हैं। आपके बिजनेस में काम करते हैं।

इसमें आपके ग्राहक और लेनदार और देनदार हर तरह के आदमी शामिल हैं। इसलिए आपको चाहिए कि आपके पास जो भी आए वो हमेशा खुश होकर जाए। यहाँ ध्‍यान देने वाली बात ये है कि हम केवल पैसों की बात नहीं कर रहे हैं। हम कहना चाहते हैं कि आप अपने हर आदमी के साथ दिल से जुड़ें। ताकि वो आपको एक अच्‍छे बिजनेस की भूमिका में रखकर देखे। क्‍योंकि अक्‍सर लोग बिजनेसमैन के बारे में सोचते हैं कि ये अपने मुनाफे के लिए किसी भी स्‍तर तक गिर सकते हैं।

समाज में ट्रेड को फॉलो करें

बिजनेस करने के लिए आपको हमेशा ये देखना होता है कि आज के समय में समाज में क्‍या चल रहा है। जैसे कि आप कपड़ों का व्‍यापार कर रहे हैं तो सर्दी के मौसम में कभी शर्ट नहीं बेच सकते हैं। उस मौसम में आपको जैकेट, जुर्राब और मोजे और स्‍वेटर ही बेचनी होगी। इसी तरह बिजनेस प्लान कैसे बनाएं में बैठकर सोच सकते हैं कि आप जो भी सामान बेचना चाहते हैं उससे जुड़ा समाज में क्‍या ट्रेंड चल रहा है।

बस आपको समाज के उसी ट्रेंड को पूरा करने वाली चीजें रखनी होगी। अगर आप ऐसा नहीं करेंगे तो आपको नुकसान तो होगा ही, साथ ही आगे भी आपके पास ग्राहक नहीं आएंगे। इसलिए कभी भी आप समाज से खुद को ऊपर ना सोचें। ना ही केवल एक सोच को लेकर बिजनेस करें। समय की जो मांग दिखाई दे हमेशा उसी हिसाब से खुद को बदलते रहें। समाज के ट्रेंड को आप बाजार में आसानी से देख सकते हैं।

लागत का निर्धारण करें

बिजनेस प्लान कैसे बनाएं में आप अपनी लागत का निर्धारण अवश्‍य कर लें। क्‍योंकि कई बार हम पैसा लगाते चले जाते हैं और इसका पता हमें तब चलता है जब हमारे पास सारा पैसा खत्‍म हो जाता है। इसलिए जब आप बिजनेस का प्‍लान बनाएं तो इस बात को तय कर लें कि आपको इतना पैसा इस चीज पर खर्च करना है। इतना पैसा इस चीज पर खर्च करना है। इसके बाद इसकी कुल लागत इतनी आएगी।

इससे आपके पास पैसों को पूरी तरह से हिसाब किताब भी होगा। साथ ही आपको पता भी चलता रहेगा कि यदि आपको नुकसान हो रहा है तो सबसे ज्‍यादा किस चीज में हो रहा है। आप उसके ऊपर आसानी से काम भी कर सकते हैं। लेकिन यदि आपके पास लागत का प्‍लान नहीं होगा तो आप पैसा लगाते चले जाएंगे और अंत में आपको घाटे में आकर बिजनेस ठप करना पड़ेगा। अक्‍सर ऐसा कई बिजनेस शुरू करने वाले लोगों के साथ होता है।

मार्केटिंग का प्लान तैयार करें

किसी भी तरह के बिजनेस में आज के समय में सबसे अहम भूमिका मार्केटिंग की होती है। इसलिए आपको सबसे पहले बिजनेस की माकेंटिंग के बारे में अवश्‍य प्‍लान बना लेना चाहिए। इसमें भी खासतौर पर आपको इस बात पर ध्‍यान देना चाहिए कि आपका ग्राहक कौन है। साथ ही उस तक कैसे पहुंचा जा सकता है।

जैसे ही आपको इसका पता चल जाए तो आप माकेंटिंग का प्‍लान उसी हिसाब से तैयार करें। इसके अलावा आज का जमाना ऑनलाइन का भी है। इसलिए कभी भी केवल ऑफलाइन माकेंटिंग के सहारे ना रहें। हमेशा कोशिश करें आप ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों तरह से अपने बिजनेस का प्रचार करें। ताकि आपका प्रचार ज्‍यादा से ज्‍यादा लोगों तक पहुंच सके। बिजनेस प्लान कैसे बनाएं में यदि आपका माकेंटिंग का तरीका सही नहीं होगा तो आप कभी अपने बिजनेस को बहुत ऊंचाई तक नहीं ले जा सकते हैं।

विपरीत हालातों के लिए हमेशा तैयार रहें

बिजनेस प्लान कैसे बनाएं में आप कितना भी अच्‍छा प्‍लान तैयार कर लें। लेकिन कभी भी इस बात पर 100 प्रतिशत दावा नहीं किया जा सकता है कि आप सही मायने में बिजनेस में कामयाब होंगे ही। इसी वजह से हमारे देश को हर नागरिक बिजनेस में उतरने से पहले सौ बार सोचता है। क्‍योंकि ये रास्‍ता काफी जोखिम भरा होता है।

बस हम भी आपसे यही कहना चाहेंगे कि आप जब भी कोई बिजनेस प्‍लान बनांए तो हमेशा उसमें इस बात का विचार भी अवश्‍य रखें कि यदि आपका ये बिजनेस सफल नहीं होता है तो आप क्‍या करेंगे। उसमें आप अपनी इच्‍छा से कोई भी प्‍लान बना सकते हैं। हम तो बस इतना कहना चाहेंगे कि आप जो भी प्‍लान तैयार करें उसमें इतना जरूर रखें कि यदि आपका एक प्रयोग असफल हो जाता है तो आपके अंदर इतनी ताकत अवश्‍य बची रहे कि आप दूसरा प्रयोग करने के लिए तैयार हो सकें।

बिजनेस का आकलन करें

बिजनेस प्लान कैसे बनाएं में जब आप बिजनेस को शुरू कर देते हैं तो आपको एक समय पर बिजनेस का आकलन जरूर करना चाहिए। क्‍योंकि अगर आप बिजनेस का आकलन ही नहीं करेंगे तो आपको पता कैसे चलेगा कि आपने जो प्‍लान शुरूआत में बनाया था वो सफल हुआ या असफल।

इसलिए जब भी आपको सही समय लगे तो आप अपने बिजनेस का आकलन जरूर करें। ये सही समय किसी का 2 महीने बाद हो सकता है और किसी का 6 महीने बाद भी हो सकता है। साथ ही आप जो आकलन करें उसे अच्‍छे से करें। क्‍योंकि अक्‍सर लोग भावनाओं में आकर केवल अंदाजा भर से अपने बिजनेस का आकलन करने लगते हैं। जो कि आगे चलकर गलत सिद्ध होता है।

कमियों पर काम करें

How to make a business plan in Hindi में जब आप अपने बिजनेस का आकलन कर लेते हैं तो आपके समझ आ जाता है कि आपके बिजनेस में अभी तक कहां कमी रह गई थी। साथ ही उसे कैसे दूर किया जा सकता है। इसके बाद सबसे अहम होता है कि आप उसके ऊपर काम करें। क्‍योंकि अगर आपको कमी मिल गई है तो समाधान भी आपके पास ही होगा।

इसलिए आप उसके ऊपर काम करें और जब आप अगली बार आकलन करें तो देखें कि आपका वो समाधान काम में आया कि नहीं। अगर वो कमी दूर हो गई हो तो दूसरी कमी की तलाश करें, क्‍योंकि कभी भी कोई भी बिजनेस ऐसा नहीं हो सकता है कि उसके अंदर संभावनाओं के दरवाजे बंद हो गए हों। बस आपको देखना होता है कि कैसे और आगे बढ़ा जा सकता है।

हमेशा लक्ष्‍य बड़ा करते चलें

बिजनेस प्लान कैसे बनाएं में यह जरूरी है कि आपके काम का एक लक्ष्‍य होना चाहिए। लेकिन यह कभी नहीं कहा जा सकता है कि आपका वो अंतिम लक्ष्‍य होगा। क्‍योंकि बिजनेस तो हमेशा आगे ही बढ़ता रहता है। इसलिए जब आपको लगे कि आपका वो लक्ष्‍य अब हासिल हो गया है, तो आपके उससे आगे का लक्ष्‍य बना लेना चाहिए। जो उससे बड़ा हो।

इसी तरह से जब वो लक्ष्‍य पूरा हो जाए तो आपको उससे बड़ा लक्ष्‍य बना लेना चाहिए। इस तरह से आप देखेंगे कि एक दिन आप इतनी ऊंचाई तक पहुंच जाएंगे। जिसकी आपने कभी सपने में भी कल्‍पना नहीं की होगी।

इसे भी पढ़ें:

बिजनेस प्‍लान क्‍या होता है?

बिजनेस प्‍लान एक तरह से आपके बिजनेस का ‘ब्‍लू प्रिंट’ होता है। जो कि किसी भी बिजनेस को शुरू करने से पहले बनाया जाता है।

अच्‍छा बिजनेस प्‍लान कैसे तैयार करें?

अच्‍छा बिजनेस प्लान तैयार करने के लिए एक्‍सपर्ट और आम लोगों की राय की बड़ी ही महत्‍वपूर्ण भूमिका होती है। इसके बाद आप अपना बिजनेस प्‍लान तैयार कर सकते हैं।

बिजनेस प्‍लान किसे बनाना जरूरी होता है?

बिजनेस प्‍लान बनाना हर उस इंसान के लिए जरूरी होता है जो कि आने वाले समय में अपने बिजनेस को एक नई ऊंचाई पर देखना चाहता है।

बिजनेस प्‍लान कब बनाना जरूरी सही रहता है?

बिजनेस प्‍लान कारोबार की शुरूआत में बनाना जरूरी है। इसके बाद यदि आपको लगता है कि आपका वो बिजनेस प्‍लान सफल नहीं फेल होता दिखाई दे रहा है, तो आपको दूसरा बिजनेस प्‍लान तैयार करना जरूरी होता है।

बिजनेस प्‍लान ना बनाने से क्‍या होगा?

बिजनेस प्‍लान ना बनाने से आपको कभी पता ही नहीं चलेगा कि आप जो काम कर रहे हैं वो किस दिशा में जा रहा है और आप उससे आगे चलकर किस तरह से लाभ कमा सकते हैं। कुल मिलाकर बिना बिजनेस प्‍लान के अंधेरे में तीर चलाने जैसा काम होगा।

Conclusion

आशा है कि अब आप समझ गए होंगे कि बिजनेस प्लान कैसे बनाएं। इसे जानने के बाद आप चाहे किसी भी तरह का बिजनेस शुरू करना चाहें, तो आप उसका आसानी से प्‍लान बना सकते हैं। लेकिन कभी भी कोई भी बिजनेस केवल प्‍लान बनाने भर से सफल नहीं होता है। आपको उसके ऊपर दिन रात लगकर काम भी करना होता है। तभी जाकर हमें सफलता मिलती है। अगर आपका बिजनेस प्लान कैसे बनाएं से जुड़ा किसी तरह का सवाल है तो हमें नीचे कमेंट करें। हम आपके सवाल का जवाब अवश्‍य देंगे।

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

स्टार पर क्लिक करके हमें बताये!

औसत रेटिंग 4.2 / 5. कुल वोट 368

उम्र में युवा और तजुर्बे में वरिष्ठ रोहित यादव हरियाणा के रहने वाले हैं। पत्रकारिता में डिग्री रखने के साथ इन्होंने अपनी सेवाएं कई मीडिया संस्थानों को दी हैं। फिलहाल ये पिछले लंबे समय से अपनी सेवाएं 'All in Hindi' को दे रहे हैं।

Leave a Comment