Gas subsidy kaise check kare? गैस सब्सिडी कैसे चेक करें?

भारत एक कृषि प्रधान देश है, 2011 में प्राप्त आकड़ों की माने तो भारत की लगभग 68% आबादी अलग अलग गांवों में निवास करती है। अधिकतर गाँव में निवास करने वाले लोग आज भी मिट्टी के चूल्हों में लकड़ी जलाकर भोजन पकाते है, जिससे वायु प्रदुषण की समस्या बढाती है और भोजन पकाने वाले स्त्री या पुरुष भी चूल्हे से निकलने वाले धुए की वजह से कई प्रकार की गंभीर बीमारियों के शिकार हो जाते है।

इस समस्या से निपटने का सिर्फ एक तरीका है कि देश के हर घर में गैस चुल्हा जले। इसलिए गरीब लोगों को गैस सिलेंडर भरवाने के लिए सरकार अपनी तरफ से सब्सिडी देती है। ये सब्सिडी समय समय पर कम और ज्यादा भी होती रहती है। 

नमस्कार, मै हु “रवि” आज मै आपको बताऊंगा की सब्सिडी क्या होती है? साथ ही सरकार गैस सब्सिडी किन लोगों को और क्यों  देती है? यदि आपको भी ये सब्सिडी मिल रही है तो घर बैठे आप ऑनलाइन फोन या लैपटॉप के जरिए गैस सब्सिडी को कैसे देख सकते हैं। साथ ही यदि आपको इस सब्सिडी का लाभ नहीं मिल रहा है तो इसकी शिकायत कहां पर कर सकते हैं। ताकि आपको इसका लाभ मिलना प्रारंभ हो जाए। तो आइए आपको बताते हैं कि घर बैठे Gas subsidy kaise check kare?

क्या होती है Subsidy?

साधारण भाषा में सब्सिडी एक तरह से सरकार की तरफ से गरीब लोगों के लिए रियायत होती है, ताकि उस सुविधा का हर कोई लाभ उठा सके। इसी रियायत को सरकार गैस सिलेंडर पर भी देती है। जिसे हम गैस सब्सिडी के नाम से जानते है। ये सब्सिडी इसलिए दी जाती है ताकि हर कोई गैस सिलेंडर का इस्तेमाल कर सके। इसे आप इस तरह समझिए-  जैसे कि गैस सिलेंडर की वास्तविक कीमत 700 रुपये है, लेकिन सरकार की तरफ से 200 रुपए की सब्सिडी उपलब्ध करवाई जा रही है। इस स्थिति में आपसे सिलेंडर के लिए चार्ज तो पूरे 700 रुपए किए जाएंगे। लेकिन सब्सिडी के 200 रुपए बाद में आपके बैंक खाते में ट्रांसफर कर दिए जाएंगे। हो सकता है आप सोचें कि सीधा 500 ही क्यों नहीं चार्ज किए जाते। तो ऐसा गैस सब्सिडी में बढ़ते भ्रष्टाचार पर रोकने के लिए किया जाता है। आंकड़ों की मानें तो इससे भ्रष्टाचार पर काफी हद तक लगाम भी लगी है।

किन लोगों को मिलती है Gas subsidy?

गैस सब्सिडी हर कंपनी के सिलेंडर पर सरकार की तरफ से दी जाती है। लेकिन इसका एक पैमाना है यदि आप उसके अंतर्गत आते हैं तभी आप गैस सब्सिडी के वास्तविक हकदार हैं। इस पैमाने में पहले परिवार की सालाना 12 लाख से कम आमदनी होने पर उस परिवार को गैस सब्सिडी दी जाती थी, लेकिन फिलहाल इसे घटाकर 10 लाख रुपए सालाना कर दिया गया है। ऐसे में यदि आपके पूरे परिवार की सालाना आय 10 लाख से कम है तो आप भी गैस सब्सिडी के लिए आवेदन कर सकते हैं। आपको बता दें कि एक ग्राहक को एक साल में केवल 12 सिलेंडर पर ही सरकार की तरफ से गैस सब्सिडी दी जाती है। इसके बाद उसे गैर सब्सिडी का सिलेंडर खरीदना होता है।

Gas subsidy kaise check kare? ऑनलाइन तरीके से

गैस सब्सिडी चेक करने के लिए आपको ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों माध्यम उपलब्ध है। ऑनलाइन आप घर बैठे चेक कर सकते हैं जबकि ऑफलाइन इसी काम के लिए आपको अपना कीमती समय खराब करना पड़ेगा। लेकिन गैस सब्सिडी चेक करने से पहले आप ये सुनिश्चित अवश्य कर लें कि आपका बैंक खाता आधार से लिंक है, साथ ही आपने सब्सिडी के लिए अपनी गैस एजेंसी में बैंक खाते से जुड़ी सारी जरूरी जानकारी उपलब्ध कराई है। चलिए सबसे पहले आपको बताते है कि ऑनलाइन घर बैठे Gas subsidy kaise check kare?

  • इसके लिए आपको सबसे पहले आपको www.Mylpg.in पर जाना होगा। आपका किसी भी कंपनी का गैस सिलेंडर हो ये वेबसाइट सभी के लिए है।
  • इसके बाद वेबसाइट के Home page पर आपको दाहिने तरफ सभी गैस कंपनियों के सिलेंडर दिखाई देंगे। यहां पर आप जिस भी कंपनी का सिलेंडर इस्तेमाल करते हैं उसी पर क्लिक कर दीजिए।
  • अगले पेज पर आपसे sign in/ New user का ऑप्शन दिखाई देगा। यदि आप वेबसाइट पर पहले से रजिस्टर हैं तो sign in कर दीजिए। नहीं तो आप पहले अपना रजिस्ट्रेशन कीजिए।
  • रजिस्ट्रेशन के लिए आपसे जो जानकारी मांगी जा रही हो उसे भरकर रजिस्टर कर सकते हैं।
  • sign in के लिए आपको अपनी Log in id और Password भरना होगा। जिसके बाद आप Login कर जाएंगे।
  • log in होने के बाद आप ‘Online feedback’ पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपके सामने कस्टमर केयर का पेज खुला दिखाई देगा। यहां आप अपना रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर और LPG ID भरें। ताकि आपकी जानकारी दी जा सके।
  • इसको भरने के बाद आपके सामने सारी जानकारी खुलकर सामने आ जाएगी। इसमें आपने कब कौन सा सिलेंडर लिया था, साथ ही वो सब्सिडी वाला था या गैर सब्सिडी वाला। यदि सब्सिडी वाला था तो कितनी सब्सिडी दी गई थी और वो कौन से बैंक खाते में भेजी गई थी।
  • यदि वहां खाता नंबर या अन्य कोई जानकारी गलत दिखा रहा है तो आप इसकी शिकायत भी ऑनलाइन कर सकते हैं।

Online complaint कैसे करें?

  • इसके लिए आपको वापस Online Feedback में जाना होगा। यहां आपको Feedback ऑप्शन में जाकर इस बार Complaint ऑप्शन को चुनना होगा।
  • इसके बाद आपको DBTL Related complaint पर yes क्लिक करना होगा और फिर आपको NEXT बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अगले पेज पर आपको चुनना होगा कि आप किस तरह की शिकायत करना चाहते हैं, उसे चुनने के बाद आप 1 हजार शब्दों में अपनी शिकायत लिख सकते हैं साथ ही आप कोई दस्तावेज भी अपलोड करना चाहे तो यहीं पर उसे कर सकते हैं।
  • सारी शिकायत लिखने के बाद नीचे आप submit बटन पर क्लिक कर दीजिए, यहां क्लिक करते ही आपको अपना Reference no. प्राप्त हो जाएगा। इसके माध्यम से आप अपनी शिकायत का स्टेटस भी समय समय पर चेक कर सकते हैं।

Gas subsidy kaise check kare- ऑफलाइन तरीके से

यदि आपके पास इंटरनेट कनेक्शन नहीं है या आप इंटरनेट चलाना नहीं जानते तो गैस सब्सिडी को आप ऑफलाइन तरीके से भी चेक कर सकते हैं। इसके लिए आपको अपने गैस सिलेंडर की कॉपी और अपने आधार कार्ड को लेकर गैस एजेंसी पर जाना होगा। वहां कंप्यूटर के द्वारा चेक करके आपकी सब्सिडी की जानकारी आपको दे दी जाएगी। साथ ही यदि आप का खाता नंबर या कोई जानकारी गलत भरी है तो आप तुरंत उसे ठीक भी करवा सकते हैं। इसके अलावा कई बार ऐसा भी होता है कि गैस कंपनी की तरफ से आपकी सब्सिडी भेज दी गई होती है और आपके खाते में नहीं आई होती, तो ऐसी स्थिति में आपको संबंधित बैंक ब्रांच में जाना होगा। संभवत: यहां आपका बैंक खाता आधार कार्ड से लिंक नहीं किया गया होगा।

इसके अलावा भी एक तरीका है। यदि आप किसी कारणवंश ना तो ऑनलाइन चेक कर पा रहे हैं ना ही गैस एजेंसी में जा पा रहे हैं तो आप इस जानकारी को फोन कॉल के जरिए भी प्राप्त कर सकते हैं। आप इस नंबर 18002333555 पर कॉल करके भी सारी जानकारी हासिल कर सकते हैं साथ ही आप अपनी शिकायत भी यहां दर्ज करा सकते हैं।

अंतिम शब्द 

आपको हमने इस आर्टिकल में बताया कि कैसे आप घर बैठे ऑनलाइन अपने फोन के जरिए अपनी गैस सब्सिडी की पूरी जानकारी हासिल कर सकते हैं। इससे आप को अपनी सब्सिडी की उचित जानकारी तो प्राप्त होगी ही। साथ ही यदि आपकी सब्सिडी सरकार की तरफ से दिए जाने के बाद भी आप इसका लाभ नहीं ले पा रहे हैं तो आप इसकी शिकायत भी कर सकते हैं। उम्मीद है कि अब आप Gas subsidy kaise check kare से जुड़ी सारी जानकारी हासिल कर चुके होंगे। यदि आप ऐसी ही तमाम जानकारियां हिन्दी भाषा में पाना चाहते हैं तो ‘आल इन हिंदी’ को लगातार फॉलो करते रहें।

Leave a Reply