IAS Banne ke liye Subject | जो विषय आईएएस के लिए महत्वपूर्ण है?

4.3
(455)

आईएएस (IAS) बनने के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए?

IAS banne ke liye subject:यदि आप भी UPSC की तैयारी करने का विचार कर रहे हैं तो हमारे इस लेख को अंत तक पढि़ए। अपने इस लेख में हम आपको बातएंगे कि IAS banne ke liye 11th me konsa subject lena chahiye, साथ ही वो कौन से विषय हैं जो IAS की तैयारी में मददगार सिद्ध हो सकते हैं।

UPSC की परीक्षा पास करना हमारे देश में हर किसी का बचपन से ही एक सपना होता है। लेकिन हर साल इस परीक्षा के अंदर लाखों उम्‍मीदवार बैठते हैं, परन्‍तु उनमें से महज कुछ सौ लोग ही सफल हो पाते हैं। क्‍योंकि UPSC परीक्षा को पास करने के लिए धैर्य के साथ बचपन से ही कठिन मेहनत की राह पकड़ लनी चाहिए। तब जाकर कहीं हमें कई वर्षो में सफलता मिलती है।

UPSC की परीक्षा क्‍या होती है?

UPSC की परीक्षा को हमारे इस देश में सबसे कठिन परीक्षा माना जाता है। यही वजह है कि इस परीक्षा को पास करने वालों का हमेशा सबसे ज्‍यादा मान सम्‍मान होता है। इस परीक्षा को आयोजन हर साल यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (Union Public Service Commission) के द्वारा किया जाता है।

आईएस (IAS) की परीक्षा कुल तीन चरणों में होती है। जिसमें सबसे पहले Pre की परीक्षा आयोजित होती है। फिर Mains देना होता है। इसके बाद Interview देना होता है। यदि कोई अभ्‍यर्थी तीनों परीक्षा को सफलता पूर्वक पास कर लेता है, तो वह इस परीक्षा में उत्‍तीर्ण समझा जाता है। जिसके बाद वह IAS या IPS बन सकता है।

पदों का विभाजन अभ्‍यर्थी के Rank के हिसाब से किया जाता है। जिसकी जितनी अच्‍छी रैंक होती है। उसे उतना अच्‍छा पद दिया जाता है। माना जाता है कि IAS सबसे अच्‍छा पद होता है। इसलिए यह पद केवल टॉप रैंक में आने वालों को ही मिलता है।

आशा है अब आप जान चुकें होंगे कि UPSC क्या है चलिए अब जानते है कि IAS banne ke liye 11th me konsa subject lena chahiye, आईएएस के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए।

IAS banne ke liye 11th me konsa subject lena chahiye

UPSC की तैयारी किसे करनी चाहिए?

इससे पहले कि आपको हम विषय की जानकारी दें आइए एक बार जान लेते हैं कि किन लोगों को UPSC की तैयारी करनी चाहिए। इसका जवाब ये है कि कोई भी वो इंसान जो UPSC की परीक्षा में बैठने की योग्‍यता रखता है, वो UPSC की तैयारी कर सकता है।

लेकिन यह बात बेहद जरूरी है‍ कि UPSC में सफल होने के लिए अभ्‍यर्थी को ना सिर्फ देश दुनिया की बेहतर जानकारी और समझ होनी चाहिए। बाल्कि उसके अंदर यह काबिलियत भी होनी चाहिए कि वह प्रशासनिक सेवाओं में आकर देश को आगे ले जाने में अपनी भूमिका अदा कर सके। यदि आपके अंदर भी ये सब योग्‍यता है तो आप UPSC की तैयारी आसानी से कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें: इंटीरियर डिजाइनर कैसे बनें

UPSC की तैयारी किस भाषा में करें?

भाषा को लेकर हमेशा UPSC में विवाद रहा है। क्‍योंकि माना जाता है कि UPSC में सफल होने के लिए अंग्रेजी माध्‍यम ही सबसे अच्‍छा रहता है। हिन्‍दी माध्‍यम से सफलता बेहद कम मिलती है। इसके पीछे वजह ये है कि आज भी हिन्‍दी भाषा में UPSC की तैयारी करने लायक Content बेहद कम मौजूद है। फिर चाहे वो इंटरनेट पर हो या किताबों के अंदर।

साथ ही जब आप UPSC परीक्षा पास कर लेते हैं तो आपको देश ही नहीं विदेश में भी अपने काम के सिलसिले में जाना आना पड़ता है। इसलिए ये बेहद जरूरी है कि आप अंग्रेजी भाषा का पूरा ज्ञान रखें। इसलिए इस बात को जहन से निकाल दें कि यदि आप हिन्‍दी माध्‍यम से तैयारी कर रहे हैं तो आपको अंग्रेजी का ज्ञान ही ना हो।

साथ ही यदि हम नतीजों की बात करें तो हर साल हिन्‍दी माध्‍यम के अंदर भी बेहतर नतीजे आते हैं। इसलिए जरूरत इस बात की नहीं है कि आपका माध्‍यम कौनसा है। जरूरत इस बात की है आपके अंदर ज्ञान है कि नहीं। यदि आपके अंदर ज्ञान होगा तो आपको कोई भी इस परीक्षा में सफल होने से नहीं रोक सकता है। फिर चाहे आपकी भाषा, धर्म, संप्रदाय या राज्य कोई भी क्‍यों ना हो।

ये भी पढ़ें: भारत में बेरोजगारी के तीन कारण लिखिए?

10th तक किन विषयों के साथ करें पढ़ाई?

यदि आप चाहते हैं किे दसवीं कक्षा के अंदर ही अपना UPSC लक्ष्‍य सेट कर लिया जाए तो आपको चाहिए कि आप इसी कक्षा के अंदर ही उसके लिए मेहनत भी करने लगे। लेकिन हमारा सुझाव ये रहेगा इस कक्षा में आप देश दुनिया में हो रहे बदलाव पर नजर बनाने की कोशिश करें। साथ ही नियमित समाचारपत्र पढ़ने की आदत भी डालें।

समाचारपत्र राष्‍ट्रीय स्‍तर का कोई भी हो सकता है। लेकिन ध्‍यान ये रखें कि समाचारपत्र की जगह आप कभी टीवी को जगह ना दें। दसवीं कक्षा के अंदर यदि आप इतना लगातार करते हैं तो आपको आगे चलकर काफी फायदा देखने को मिलेगा। इस कक्षा के दौरान आप कभी भी UPSC की भारी भरकम की किताबें खरीदने की भूल ना करें। क्‍योंकि कहा जाता है कि किसी भी काम को ना तो समय से पहले करना चाहिए, ना ही समय के बाद।

ये भी पढ़ें: ट्रेडिंग से पैसे कैसे कमाए?

10th के बाद विषय का चयन कैसे करें?

जैसा कि आप जानते हैं कि दसवीं कक्षा के हमें तीन विषयों में से कोई एक विषय लेना होता है। जिसके अंदर Art, Commerce और Science विषय होते हैं। आइए आगे हम आपको सभी विषय की जानकारी और उनको लेने के फायदे और नुकसान से अवगत करवाते हैं।

आईएएस के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए | IAS Banne ke liye Subject

यहाँ हमने नीचे यह बताया है कि आईएएस के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए तो चलिए जानते है उन इस बारे में जो विषय आईएएस के लिए महत्वपूर्ण है यानि जो विषय आईएएस के लिए महत्वपूर्ण है। IAS banne ke liye 11th me konsa subject lena chahiye.

ये भी पढ़ें: आईएएस के लिए कौन सी किताबें पढ़नी चाहिए? |.

UPSC परीक्षा के लिए ARTS विषय

IAS Banne ke liye Subject में से सबसे महत्वपूर्ण है आर्ट का विषय। आपने कई लोगों के मुंह से यह बात जरूर सुनी होगी कि UPSC की परीक्षा की तैयारी के लिए Art विषय सबसे ज्‍यादा अच्‍छा होता है। हमारा भी यही तर्क है कि यदि आपका सपना UPSC पास करना है तो आपके लिए Art विषय सबसे अच्‍छा रहेगा। ऐसा इसलिए क्‍योंकि जब आप UPSC पास कर लेते हैं तो आपका काम प्रशासन संभालना होता है। जो‍ि कि Art विषय में सबसे करीब से पढ़ने और समझने को मिलता है।

Art विषय में आपको भूगोल, समाजशास्‍त्र, राजनीति विज्ञान जैसे विषय पढ़ने को मिलते हैं। जो कि यदि आप UPSC की तैयारी करते हैं। तो ना सिर्फ आपके प्रश्‍नों को हल करने में काफी मददगार सिद्ध होते हैं। साथ ही आपको Mains में उत्‍तर लिखने और Interview के दौरान अपनी बात तर्क सहित रखने में काफी मदद करते हैं। साथ ही यदि आप 11th और 12th में Art विषय लेकर चलते हैं तो इससे आपको UPSC में आवेदन करने में किसी तरह ही समस्‍या देखने को नहीं मिलेगी।

हालांकि, यदि आपकी रुचि का विषय कोई दूसरा है तो आप उस विषय को भी ले सकते हैं। लेकिन ध्‍यान इस बात का रखें कि उस दौरान भी UPSC की किताबें और टॉपिक को अपने जहन में रखें। ऐसा ना हो कि आप किसी और विषय के साथ जाएं और UPSC Exam को पूरी तरह से भूल ही जाएं।

ये भी पढ़ें: आर्ट्स में कौन कौन सी जॉब होती है?

UPSC परीक्षा के लिए Commerce विषय

जो विषय आईएएस के लिए महत्वपूर्ण है उनमे से एक Commerce है। कॉमर्स बैकिंग से जुड़ा विषय है जो कि माना जाता है कि यदि आगे किसी को बैकिंग की तैयारी करनी है तो उसके लिए काफी फायदेमंद साबित होता है। साथ ही यदि आप UPSC के एग्‍जाम में बैठने पर विचार कर रहे हैं तो आपको आपको उसके अंदर भी अर्थशास्‍त्र जैसे विषय और बैंक आदि से सवाल देखने को मिलते हैं।

जो कि एक तरह से काफी मददगार सिद्ध होते हैं। इस विषय का फायदा ये भी होता है कि आपको इससे देश की वित्‍त व्‍यवस्‍था समझने में काफी मदद मिलती है। इसलिए जब आप बतौर आइएएस किसी जिले में काम करते हैं। तो आपको वहां की आर्थिक स्‍थिति और उससे निपटने का सही तरीका पता होता है।

लेकिन इस विषय को लेने का एक और फायदा है कि आप UPSC के अलावा अन्‍य क्षेत्रों में भी रोजगार के अवसर तलाश सकते हैं। जिससे यदि आप आगे चलकर कभी UPSC के अलावा कोई दूसरा लक्ष्‍य बनाना चाहते हैं। तो उस समय आपको ये विषय काफी मदगार सिद्ध होगा। साथ ही यदि आप 12th कक्षा में कॉमर्स विषय लेकर रखते हैं तो भी आगे चलकर आप आसानी से UPSC के लिए आसानी से आवेदन कर सकते हैं।

UPSC परीक्षा के लिए Science विषय

जो विषय आईएएस के लिए महत्वपूर्ण है उनमे से एक Science है। साइंस को हम लोग आमतौर पर सबसे कठिन विषय मानते हैं। यदि हम लोग इसके साथ जाते हैं तो आगे चलकर डॉक्‍टर या इंजीनियर बन सकते हैं। इसलिए माना जाता है कि यदि आपका लक्ष्‍य पहले से UPSC फिक्‍स है तो इस विषय को लेने से बचना चाहिए।

क्‍योंकि यदि आप साइंस के साथ जाते हैं तो आपको एक साथ दो तरह की पढ़ाई करनी होगी। पहली अपने विषय की और दूसरी UPSC की। जबकि दोनों को मेल ना होने से आपको पढ़ने में कठिनाई भी हो सकती है। लेकिन यदि आपके अंदर एक साथ दो तरह की पढ़ाई करने की क्षमता है, तो आप इसके साथ भी असानी से जा सकते हैं।

लेकिन इस विषय का एक और बड़ा फायदा भी है कि हम लोग अक्‍सर देखते हैं कि कई लोग नौकरी के साथ UPSC की तैयारी कर रहे होते हैं। ऐसे में यदि आपकी आर्थिक स्‍थिती अच्‍छी नहीं है तो आप आगे चलकर जब डॉक्‍टर या इंजीनियर बनकर UPSC की तैयारी बेहद आसानी से कर सकते हैं।

साथ ही यदि किसी कारणवंश आप UPSC में सफल नहीं होते हैं तो आप अपना एक बेहतरीन करियर मेडिकल या इंजीनियरिंग के क्षेत्र में भी बना सकते हैं। साथ ही यदि आप बारंहवीं साइंस विषय के साथ पास करते हैं तो आप आगे चलकर UPSC के लिए आसानी से आवेदन कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें: जल्दी याद करने का आसान तरीका

कॉलेज में आईएएस के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए?

10वीं और 11वीं में आईएएस के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए यह जानने के बाद चलिए जानते है कि कॉलेज में आईएएस के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए?

IAS बनने की योग्‍यता किसी भी विषय में स्‍नातक पास होना है। इसलिए यदि आपका सपना है कि भविष्‍य में एक IAS Officer बनना है, तो आपको स्‍नातक भी करनी बेहद जरूरी है। इसके लिए हम आपको सुझाव देंगे कि आप साधारण बीए से ही अपनी स्‍नातक पूरी करें।

क्‍योंकि बीए एक ऐसा विषय है जिसके अंदर आपको हिंदी अंग्रेजी, राजनीति, इतिहास, भूगोल और समाजशास्‍त्र जैसे विषय पढ़ने को मिलते हैं। इसलिए यदि आप आगे चलकर आइएएस की तैयारी करते हैं तो आपने यहां जो विषय पढ़े होते हैं, वही आपको आगे भी देखने को मिलते हैं।

लेकिन यदि आप नौकरी के साथ आइएएस की तैयारी करना चाहते हैं। तो बेहतर होगा कि आप कोई प्रोफेशनल विषय लें। जिससे आपको नौकरी आसानी से मिल जाए। इसके लिए आप अपनी रूची और इच्‍छा के आधार पर विषय चुन सकते हैं। जिसके बाद आप लंबे समय तक आइएएस की तैयारी करनी शुरु कर सकते हैं।

लेकिन ध्‍यान ये रखें कि यदि आप सोच रहे हैं किे एक पहले कोई दूसरा विषय पढेंगे और आगे चलकर UPSC Exam की तैयारी शुरू कर देंगे। तो ये रास्‍ता आपके लिए थोड़ा कठिन रह सकता है। क्‍योंकि यूपीएससी परीक्षा में बैठने की एक निश्चित उम्र सीमा होती है। इसलिए आपको उसी को ध्‍यान में रखकर मेहनत करनी होगी।

ये भी पढ़ें: पढ़ाई में मन लगाने का मंत्र

क्‍या Distance से Graduation करना सही है?

बहुत से लोगों का ये मत होता है कि यदि आपको पहले से पता है कि आपको आगे चलकर आइएएस बनना है, तो आप कॉलेज जाकर क्‍यों अपना समय खराब करेंगे। लेकिन यह बिल्‍कुल सही नहीं होता है। ऐसा केवल तभी करना चाहिए जब आपके घर से कॉलेज बहुत दूर हो और आने जाने में ही कई घंटे खराब होने की संभावना लगती हो।

कॉलेज जाने का आपको फायदा ये मिलेगा कि आपको वहां नए दोस्‍त और अध्‍यापक मिलेंगे। जिनसे आप समय समय पर मार्गदर्शन ले सकते हैं। साथ ही आप जब लगातार कॉलेज जाएंगे तो आपको कभी अकेलापन भी महसूस नहीं होगा। लेकिन बस आपको इस दौरान ध्‍यान ये रखना होगा‍ कि आप कॉलेज जाकर अपने लक्ष्‍य को कभी ना भूलें।

क्‍योंक‍ि कई बार देखा ये जाता है कि लोग कॉलेज में अपना समय दोस्‍तों और घूमने फिरने में इतना ज्‍यादा खराब कर देते हैं। कि उन्‍हें इस बात का पता ही नहीं चलता है कि हम कॉलेज क्‍या मकसद लेकर आए थे। इसलिए यदि आपको लगता है कि आप ये सब करने में सक्षम हैं तो आप अपने अपने कॉलेज जाने के साथ ही अपनी यूपीएससी की तैयारी करें।

Conclusion

आज आपने जाना कि IAS Banne ke liye Subject कौन सा लेना चाहिए इसके साथ साथ आपने जाना कि कॉलेज में आईएएस के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए? आशा है अब आप समझ चुकें होंगे कि आईएएस के लिए कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहिए।

यह पोस्ट आपके लिए कितना उपयोगी है?

स्टार पर क्लिक करके हमें बताये!

औसत रेटिंग 4.3 / 5. कुल वोट 455

नमस्कार दोस्तों, मैं रवि "आल इन हिन्दी" का Founder हूँ. मैं एक Economics Graduate हूँ। कहते है ज्ञान कभी व्यर्थ नहीं जाता कुछ इसी सोच के साथ मै अपना सारा ज्ञान "आल इन हिन्दी" द्वारा आपके साथ बाँट रहा हूँ। और कोशिश कर रहा हूँ कि आपको भी इससे सही और सटीक ज्ञान प्राप्त हो सकें।

2 thoughts on “IAS Banne ke liye Subject | जो विषय आईएएस के लिए महत्वपूर्ण है?”

Leave a Comment